448 Views

real spirits story in hindi language-जब आत्मा से जान बचाई

real spirits story in hindi language, real spirit stories in hindi language, indian ghost stories in hindi, real horror story in hindi, भूत की कहानियां
हम एक से बढ़कर एक डरावनी और खौफनाक कहानियां प्रकाशित करते हैं। पेश है इसी कड़ी में एक खौफनाक सच real spirits story in hindi language आशा है,ये आपको पसंद आएगी।
लेखक-आदित्य

real spirits story in hindi language

बहुत समय पहले की बात है,एक परिवार मुंबई में रहता था. जिस परिवार में सुधा और उसके पापा थे, सुधा हमेशा अपनी माँ के बारे में अपने पिता से पूछा करती थी की उसकी माँ कहाँ है? और उसके पापा बताते थे की उसकी माँ अच्छी स्वभाव की नहीं थी,जिसकी वजह से उसे छोड़ दिया,लेकिन सुधा को बचपन से ही एक सपना दिखता था,जिसमे उसे एक पहाड़ की दृश्य दिखता था,और उसे एक आवाज सुनाई देता था, जो उसे बुलाता रहता था. वो हमेशा यही सपना देखा करती थी. धीरे-धीरे वो बड़ी हो गयी और वो 22 साल की हो गयी,और वो कॉलेज में एडमिशन ले ली. सुधा ने अपने सपना का ध्यान रखते हुए उसने सायकोलोजी विषय के साथ साथ अध्यात्म भी पढ़ रही थी. एक दिन उसने सपना में देखा की एक औरत उसे बुला रही है,उसने अपने पापा से फिर पूछा मेरी माँ कहाँ है? पापा ने फिर से बताया की उसकी माँ अच्छी नहीं थी,उससे झगड़ा होता था,इसलिए उसे छोड़ दिया. लेकिन सुधा को अपने पिता की बातों पर विश्वास नहीं हुआ. एक दिन उसे कॉलेज की तरफ से लदाख जाना है,जब सुधा ने ये बात अपने पापा को बताई तो उसके पापा नाराज हो गए और प्रोजेक्ट छोड़ देने को बोला,सुधा के पापा ने कहा की उसे कहीं जाने की जरुरत नहीं है,लेकिन पापा की बात सुन कर उसे आस्चर्य हुआ की पापा लदाख जाने से मना क्यों कर रहे हैं और मेरे सपने में भी हमेशा पहाड़ो का दृश्य दिखता है, इसलिए उसने पापा से पूछा बात क्या है? क्या सच है ,बार बार पूछने पर उसके पापा ने बताया की उसकी माँ बहुत अच्छी थी, उससे और मुझसे बहुत प्यार करती थी,बहुत ज्यादा प्यार करती थी।
और भी भूत वाली कहानियां पढ़ना ना भूलें==>
एक आत्मा से मुलाकात की कहानी
एक आत्मा से मुलाकात की कहानी भाग 2
खुनी हवेली
सपना या हकीकत



real spirits story in hindi language, real spirit stories in hindi language, indian ghost stories in hindi, real horror story in hindi, भूत की कहानियां
एक दिन जब मैं ऑफिस से आया तो पाया की वो तुम्हे टब में नहला रही थी,लेकिन अचानक से वो तुम्हे टब में डुबोने लगी, मैंने कोशिश करके तुम्हे बचाया,तुम्हारी माँ के स्वभाव में अचानक परिवतर्न आ गया,इसलिए मैंने बाबा से दिखाया,जिसने कहा की तुम्हारी माँ के शरीर में आत्मा समा गयी है,इसलिए वो ऐसा कर रही है, इसलिए तुम्हारी माँ को लदाख भेज दिया,जहाँ तुम्हारी माँ को बाबा ने बाँध कर रखा है, पापा की बात सुन कर सुधा को विश्वास नहीं हुआ और वो लदाख पहुंच गयी,जहाँ बाबा से मिला तो बाबा ने कहा,तुम आयी नहीं हो आत्मा ने तुम्हे यहाँ लाया है,क्योंकि तुम्हारी माँ के शरीर में एक से ज्यादा आत्मा समायी हुई है, जिसकी वजह से उनका शरीर कमजोर हो गया है,इसलिए वो आत्मा ने तुम्हे बुलाया है,जिसके अंदर वो जा सके. सुधा को विश्वास नहीं हुआ, इसलिए उसने माँ से मिलने का जिद किया,बाबा ने माँ से मिलवा दिया,माँ का शरीर देख कर सुधा को बहुत दुःख हुआ,वाकई उनका शरीर बहुत ही कमजोर हो गया था, लेकिन सुधा ने अपनी माँ को बचाने का जिद किया, बाबा ने बताया की एक से ज्यादा आत्मा और पुराणी आत्मा होने की वजह से कोई भी बाबा उन आत्माओ से नहीं लड़ पाती हैं,वो आँखों के रास्ते से शरीर के अंदर समा जाती हैं. और उन्हें मार देती हैं,इसलिए उन्हें बचाया नहीं जा सकता,लेकिन अगर तुम अपना शरीर उन आत्मा को दे दो तो वो तुम्हारी माँ को छोड़ देंगी, सुधा मान गयी,लेकिन उसे डर लग रहा था,कहीं वो आत्मा सही में उसके शरीर में ना समा जाये,इसलिए वो डर रही थी,बाबा ने बोला की तुम डरो मत हिम्मत से काम लो,सब कुछ सही होगा. फिर आत्मा से बात की गयी, आत्मा ने बताया की अमावस्या की रात को तुम अपना शरीर देना, बदले में हमलोग तुम्हारी माँ का शरीर छोड़ देंगे. आमवस्या की रात आ गयी, चारो तरफ घेरा बना कर पंडितो को बिठाया गया,जो सभी अंधे थे और बिच में सुधा को,सुधा और पंडित मंत्र पढ़ रहे थे,सुधा ने आत्माओ के बिच फुट डाल दी,सभी आत्मा को कहा की उसके शरीर में सबसे पहले वो आत्मा आएगी जो सबसे ज्यादा ताकतवर हो,जिसकी वजह से सभी उसकी माँ का शरीर छोड़ कर आपस में लड़ने लगे और पंडितो ने इस लड़ाई का फैयदा उठा कर सबो को कैद कर लिया और सुधा को उसकी माँ मिल गयी,इस तरह सुधा और पंडितो ने सुधा की माँ की जान बचा ली.
आशा है की ये डरावनी कहानी “real spirits story in hindi language” आपकी पसंद आयी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर शेयर करें.



real spirits story in hindi language

loading...

Trending Posts

moral stories for kids in hindi, short moral stories for kids, Panchatantra short stories, Panchatantra tales, प्रेरक कहानिया

This post is trending.

moral stories for kids in hindi- एक करोड़पति व्यक्ति की प्रेरक कहानी

हम हर दिन एक से बढ़कर एक प्रेरणादायक कहानिया प्रकाशित करते हैं। इसी कड़ी में हम आज  “एक करोड़पति के प्रेरक कहानी” moral stories for kids in hindi प्रकाशित कर रहे हैं। आशा है ये आपको अच्छी लगेगी। लेखक- संजीव एक शहर में एक जगतसेठ नामक करोड़पति व्यवसायी रहता था जिसका काफी नाम था। उसने अपने […]

a short motivational story with moral value, short moral stories for kids, Panchatantra tales, बच्चों के लिए प्रेरणादायक कहानियां, प्रेरक कहानियां

This post is trending.

a short motivational story with moral value- किसान और चमत्कारी शीशे की कहानी

हम हर दिन एक से बढ़कर एक प्रेरणादायक कहानिया प्रकाशित करते हैं। इसी कड़ी में हम आज  “किसान और चमत्कारी शीशे की कहानी “ a short motivational story with moral value प्रकाशित कर रहे हैं।आशा है ये आपको अच्छी लगेगी। लेखक- संजीव एक गांव में एक रामलाल नामक एक गरीब किसान रहता था जो की अपने […]

moral hindi stories, short moral stories for kids, Panchatantra short stories, Panchatantra tales, बच्चों के लिए प्रेरणादायक कहानियां, प्रेरक कहानियां

This post is trending.

moral hindi stories- लौमड़ी और शेर की प्रेरणादायक कहानी

हम हर दिन एक से बढ़कर एक प्रेरणादायक कहानिया प्रकाशित करते हैं। इसी कड़ी में हम आज  “लौमड़ी और शेर की प्रेरणादायक  कहानी ” moral hindi stories प्रकाशित कर रहे हैं।आशा है ये आपको अच्छी लगेगी। लेखक- संजीव एक बार एक शेर जंगल में शिकार को निकला, पर बहुत देर घूमने के बाद भी वो खाली […]

most romantic love story in hindi, hindi love story, love story in hindi, sad hindi love story, short hindi love story, हिंदी प्रेम कहानियां ,रोमांटिक कहानी

This post is trending.

most romantic love story in hindi- वो कौन थी

most romantic love story in hindi अब प्यार भी अजीब चीज होती है, चाहने वाला जब पास रहता है तो कदर नहीं होती और जब दूर चला जाता है, तो अजीब सी बैचेनी होती है। कुछ ऐसा ही हाल शुभम का था, वो स्वीटी से बेइंतहा प्यार करता था। स्वीटी अपने नाम की तरह ही […]

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.