Articles Hub

short horror story in hindi-एक खतरनाक साया

short horror story in hindi, horror stories in hindi in indian, indian ghost stories in hindi, real horror story in hindi, real ghost stories in hindi
हम एक से बढ़कर एक डरावनी और खौफनाक कहानियां प्रकाशित करते हैं। पेश है इसी कड़ी में भटकती आत्मा की खौफनाक कहानी short horror story in hindi आशा है,ये आपको पसंद आएगी।

short horror story in hindi

चौधरी साहेब बैंक में मैनेजर के पोस्ट पर कार्यरत थे. काफी खुशहाल जिंदगी थी,घर में उनके अलावे उनकी पत्नी और एक बेटा तथा एक बेटी थी, दोनों काफी छोटे थे,इसलिए घर में ही रहते थे,बेटा और बेटी दोनों सुशील और शांत स्वभाव के थे. चौधरी साहेब की पत्नी का जीवन बच्चो को संभालने में ही कट रहा था,बेटी बहुत ही ज्यादा सुंदर थी,बिल्क़ुल परी की तरह थी,इसलिए उसे घर से ज्यादा निकलने नहीं दिया जाता था, अगर कोई उनसे मिलने घर आता और बेटी को देखता तो उसे बिना प्यार किये बिना रह नहीं पाता,बेटी थी ही इतना प्यारी की सभी के पास चली जाती थी,जिंदगी अच्छी गुजर रही थी की तभी चौधरी साहेब का ट्रांसफर शहर से थोड़ी दूर गांव में हो गया और उन्हें आने-जाने में समस्या होने लगी,कुछ दिनों तक वो पुराने घर से ही आया-जाया करते थे,फिर उन्हें गांव में ही एक मकान किराये पर मिल गया और वो अपने परिवार के साथ गांव के मकान में ही शिफ्ट कर गए,मकान के सामने एक बड़ा सा पोखर था, और साथ ही पीपल का पेड़ भी था,बहुत ही साफ़ वातावरण था,शुद्ध हवा और पानी मिल रहा था, जिसकी वजह से उनकी बेटी का चेहरा और खिल सा गया था,अब तो वो और भी सुन्दर दिखने लगी थी,एक दिन अचानक चौधरी साहेब बैंक गए हुए थे और दिन में एक बुढ़िया आयी, उसने जब चौधरी साहेब की बेटी को देखा तो उसे गोद में उठा ली, जब चौधरी साहेब की पत्नी बाहर आयी तो देखा एक अनजान बुढ़िया के गोद में उनकी बेटी खेल रही है तो वो बुढ़िया से अपनी बेटी ले ली,बुढ़िया ने कहा बेटी मुझे दे दो,जिसे सुन कर चौधरी साहेब की पत्नी को गुस्सा आया और बोली बेटी मेरी है,तुम्हे क्यों दे दो?
और भी भूत की कहानियां पढ़ना ना भूलें==>
खौफनाक इश्क़ की दास्तान
श श श कोई है.
वो कौन थी
जब भूतनी ने बदला लिया





short horror story in hindi, horror stories in hindi in indian, indian ghost stories in hindi, real horror story in hindi, real ghost stories in hindi
इस बुढ़िया ने कहा,ये बहुत सुंदर है,मुझे दे दो,मैं इसके बिना नहीं रह सकती,अजीब हालात हो गए थे, चौधरी साहेब की पत्नी ने बुढ़िया को घर से निकल जाने को बोला,लेकिन घर से निकलते-निकलते बुढ़िया ने उनकी बेटी की तरफ देखा और चली गयी,रात को अचनाक से बेटी का तबियत खराब हो गया,चौधरी साहेब परेशान वो बेटी को ले कर डॉक्टर के पास गए,इलाज करवाया,सरे टेस्ट भी हुए लेकिन बेटी ठीक नहीं हो रही थी,सभी को लगा की बुढ़िया ने ही कुछ कर दिया,इसलिए झाड़-फूंक वाले बाबा के पास ले जाया गया,बाबा ने बताया की इस पर किसी ने जादू टोना किया है, उन्होंने एक ताबीज गले में पहना दी जिसके बाद उनकी बेटी सही होने लगी, कुछ दिन तक तो सब कुछ अच्छा चलता रहा,लेकिन तभी अचनाक से एक दिन उनकी बेटी किसी को नजर नहीं आयी, चौधरी साहेब की पत्नी ने सारा घर ढूंढ लिया,लेकिन बेटी नहीं मिली,तभी उनकी नजर उसी बुढ़िया पर पड़ी,उसने बुढ़िया से पूछा तो बुढ़िया ने कहा,मैंने बेटी मांगी थी लेकिन तुमने नहीं दी,अब उसे ढूंढो काफी तलाश के बाद भी बेटी नहीं मिली, रात को जब चौधरी साहेब घर आये और उन्हें पता चला तो वो घबरा गए और पुलिस में रिपोर्ट की पुलिस ने जब ढूँढना शुरू किया तो किसी ने बताया की आखिरी बार बच्ची को पोखर के पास खेलते पाया गया था उसके बाद बच्ची किसी को नजर नहीं आयी,ना ही वो बुढ़िया किसी को नजर आयी, फिर जब पोखर में ढूंढा गया तो,बच्ची का कपडा मिला,लेकिन बच्ची का कुछ पता नहीं चला,इस बात को करीब 40 साल हो गए,लेकिन आज तक चौधरी साहेब और उनकी पत्नी को पता नहीं चल पाया की उनकी बेटी कहाँ लापता हो गयी और वो बुढ़िया कौन थी,जो किसी को नजर नहीं आयी.

आशा है की ये डरावनी कहानी “short horror story in hindi-” आपकी पसंद आयी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर शेयर करें

short horror story in hindi




loading...
You might also like
moviexw | munir khan | Sarosh khan | where can i get stamp | Nashir shafi mir