Articles Hub

short moral stories in hindi language- गिलहरी और जंगल की प्रेरणादायक कहानी

short moral stories in hindi language, short moral stories for kids , panchatantra short stories, panchatantra tales, बच्चों के लिए प्रेरणादायक कहानियां
हम हर दिन एक से बढ़कर एक प्रेरणादायक कहानिया प्रकाशित करते हैं। इसी कड़ी में आज हम आदमी और जिन्न की प्रेरणादायक कहानी short moral stories in hindi language प्रकाशित कर रहे हैं।आशा है ये आपको अच्छी लगेगी।
लेखक- संजीव

short moral stories in hindi language

प्राचीन समय की बात है। एक बहुत ही घना जंगल था जिसमे अनेक प्रकार के पेड़ थे। उन पेड़ों पर बहुत सारी गिलहरियां रहा करती थी। चूँकि पेड़ो की कोई कमी थी नहीं इसीलिए खाने को भी प्रचुर मात्रा में फल उपलब्ध थे। उन गिलहरियों में एक चिक्की नामक गिलहरी थी जो हर रोज मूंगफलियां और फल खाने के बाद उसका बचा हुआ हिस्सा दुसरे जगह पर सुरक्छित स्थल पर दबा देती थी। उसकी इस आदत पर बांकी गिलहरियां हंसती थी और उसका मजाक उड़ाती थी। उसका कहना था की जब खाना इतनी बहुतायत में उपलब्ध है तो उसको जमा करने से क्या लाभ? चिक्की उनकी बातें हंसी में उड़ा देती थी।
प्रेरक कहानियां पढ़ना ना भूलें==>
दो पत्थरों की प्रेरणादायक कहानी
सूर्य और हवा की प्रेरक कहानी
मछुआरा और व्यापारी
सुविचारों का संकलन
short moral stories in hindi language, short moral stories for kids , panchatantra short stories, panchatantra tales, बच्चों के लिए प्रेरणादायक कहानियां
और भी दिन गुजरते गए और एक बार वहां पर भयंकर अकाल पड़ा और खाने को कुछ नहीं बचा। चिक्की ने अपने बचाये हुए खाने से खुद भी खाया और बाँकी गिलहरियों की भी मदद की। इसके बाद सारी गिलहरियों ने चिक्की की अकलमंदी की तारीफ की और इस घटना से सबक लिया और आगे से वो भी खाना बचाने लगी।
कहानी से सीख- हमेशा बुरे से बुरे वक़्त के लिए खुद को तैयार रखना चाहिए और हमेशा बुरे वक़्त के लिए बचत करनी चाहिए।
मैं आशा करता हूँ की आपको ये “short moral stories in hindi language” आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर शेयर करें। धन्यवाद्।

short moral stories in hindi language

loading...
You might also like