Articles Hub

true love stories in real life in hindi-दो लफ्जो की कहानी

true love stories in real life in hindi





आकाश की ख़ुशी उसके चेहरे से झलक रही थी, वो खुश हो भी क्यों नहीं? उसने ग्रेडुएशन की पढ़ाई अच्छे नंबर से पास करके जो पूरी की थी, एक छोटे से गांव का रहने वाला आकाश इतनी मेहनत करके पढ़ाई पूरी कर ली, अब उसका एक ही ख्वाब था की वो सिविल सर्विसेज का तैयारी करे और आई० ए० स० बने। इसके लिए उसने दिल्ली जा कर कोचिंग करना जरुरी समझा और इसके लिए उसने अपने पापा से बात की,पहले तो उसके पापा नहीं माने,लेकिन आकाश का रिजल्ट देख कर उन्होंने आकाश को दिल्ली भेज दिया। दिल्ली आ कर आकाश बहुत खुश हुआ,और इधर-उधर अच्छे इंस्टिट्यूट का पता करने लगा, कुछ दिनों तक घूमने के बाद उसे एक इंस्टिट्यूट पसंद आया, क्योंकि वहां का रिजल्ट अच्छा बताया जा रहा था, उसने सोचा अगर वो इस इंस्टिट्यूट से पढ़ेगा तो जरूर अपनी मंजिल पा लेगा,इसलिए उसने वहां एडमिशन करवा लिया। उसे वहां बहुत समस्या होने लगी,क्योंकि उसके क्लास के लड़के पढ़ाई से ज्यादा इधर-उधर की बातें करते थे,जो आकाश को बिलकुल पसंद नहीं था,उसका मानना था की इंस्टिट्यूट में जब पैसा दिया है तो सिर्फ पढ़ाई की बातें होनी चाहिए, लेकिन क्लास के बाहर के साथ साथ अंदर भी इधर-उधर की बातें होती रहती थी। जो उसकी समझ से बेकार की बातें थी। एक दिन वो चुप चाप क्लास में पढ़ रहा था,तभी पास में खड़ी एक लड़की ने पूछा,क्या पढ़ रहे हो? इस पर आकाश ने जवाब दिया, जिस टॉपिक पर क्लास होनी है,उसी टॉपिक के बारे में पढ़ रहा हूँ,और लड़की उसी टॉपिक पर बात करने लगी, आकाश को आस्चर्य हुआ की सारा दिन बात करने वाली लड़की को इस टॉपिक पर भला इतना जानकारी कैसे है?
और भी प्रेम कहानियां पढ़ें==>
1.बस में प्यार
2.एक सफर प्यार के नाम
3. एक छोटी सी मोहब्बत की कहानी
4.मानसून की पहली बारिश और प्यार
5.वो कॉलेज का प्यार
6.ये इश्क़ नहीं आसान
कुछ देर तक उस टॉपिक पर बात करने के बाद लड़की वहां से चली गयी और आकाश उसे चुप चाप जाते हुए देखता रह गया, लेकिन वो सोच में डूब गया की भला हमेशा बात में समय बर्बाद करने वाली लड़की को इतना कैसे आता है? खैर वो फिर पढ़ने में लग गया , दूसरे दिन आकाश फिर क्लास में सवेरे आ गया और फिर से पढ़ने में लग गया, आज भी वो लड़की उसके पास आई और दूसरे टॉपिक पर बात करने लगी,आज भी उसके बातों से आकाश आस्चर्यचकित रह गया, अब आकाश से नहीं रहा गया और उसने लड़की से अपनी मन की बात पूछ ही लिया,आखिर उसे इतनी जानकारी कैसे है? इस पर लड़की ने बताया की हमेशा पढ़ते रहने से आप सब कुछ जान लेते हो ऐसा नहीं है,पढ़ाई के वक्त में पढ़ती हूँ फिर अपने आपको रिफ्रेश भी करती हूँ,जिससे मुझे पढ़ने में बोरिंग नहीं फील होती है,वरना हमेशा किताबो में डूबे रहने से एक समय के बाद पढ़ाई दिमाग से निकलने लगता है। ये बात आकाश को सुन कर अच्छी लगी और उसने उस लड़की का नाम पूछा? इस पर लड़की ने अपना नाम स्वेता बताया। फिर आकाश ने स्वेता से दोस्ती करनी चाही,स्वेता ने उसकी दोस्ती एक्सेपक्ट कर ली। अब दोनों के बीच रोज किसी ना किसी टॉपिक पर बात होती थी, जिससे आकाश स्वेता के करीब जाने लगा, लेकिन वो अपने प्यार का इजहार नहीं कर पाता था
आकाश स्वेता की मन की बात जानने की कोशिश करता है,लेकिन जब भी वो स्वेता से बात करता है तो सिर्फ किसी ना किसी टॉपिक पर वो पढ़ाई को छोड़ कर कोई और बात कर ही नहीं पाता था,स्वेता भी हमेशा आकाश से पढ़ाई की ही बात करती थी, एक दिन शायद स्वेता का मूड सही नहीं था,वो बहुत ज्यादा अपसेट थी, ये बात आकाश को समझ आ गयी थी,इसलिए उसने स्वेता से बार-बार उसके अपसेट होने की बात जाननी चाही,इस पर स्वेता ने सिर्फ तबियत खराब होने की बात बताई, इस पर आकाश ने पूछा क्या हुआ? बुखार आया है, स्वेता ने सिर्फ कहा,नहीं दर्द हो रहा है। आकाश ने पूछा कहाँ हो रहा है? इस पर स्वेता ने पेट की तरफ इशारा किया। आकाश ने फिर पूछा क्यों हो रहा है, कोई दवाई ली? इस पर स्वेता ने सिर्फ इतना कहा की तुम नहीं समझोगे।ये सुनने के बाद अचानक से आकाश के मुँह से निकल गया,क्या पीरियड का दर्द है? ये सुन कर स्वेता का चेहरा लाल हो गया और उसने हाँ में सर हिलाते हुए, वहां से चली गयी।अगले दिन स्वेता आकाश के पास नहीं आई तो,आकाश बेचैन हो गया, वो बहुत ही बेसब्री से स्वेता का इंतजार कर रहा था,लेकिन उस दिन स्वेता क्लास नहीं आई,अगले दिन जब स्वेता क्लास आई तो आकाश उसके पास गया और सॉरी बोला,इस पर स्वेता ने पूछा सॉरी क्यों? आकाश ने उस वाले बात को याद करवाते हुए उसे अपनी सॉरी की वजह बताई,एक बार फिर स्वेता का चेहरा लाल हो गया और उसने आकाश को इस टॉपिक पर बात करने से मना कर दिया ।आकाश चुप चाप अपनी जगह पर जा कर बैठ गया,अब उसे अफ़सोस होने लगा की उसने बेवजह स्वेता से बोल कर अपनी दोस्ती भी तोड़वा ली।अगले दिन स्वेता फिर आकाश के पास आई,स्वेता को अपने पास आया देख आकाश बहुत खुश हुआ और उसने सीधे पढ़ाई की टॉपिक शुरू कर दी। कुछ देर तक बात करने के बाद स्वेता जाने लगी तो आकाश से धीरे से “आई लव यू” बोल दिया,स्वेता ने पूछा क्या? तो आकाश ने बताया की दो दिनों तक उससे बिना बात किये हुए उसे ऐसा लगा जैसे वो जिन्दा नहीं रह पायेगा, वो उसके बिना बेचैन हो जाता है और वो उसके लिए कुछ भी कर सकता है,इस पर स्वेता ने बोला,अगर वो उसके लिए कुछ भी कर सकता है तो सिर्फ इतना करे की पढ़ाई में मन लगाए और एग्जाम पास करके दिखाए । कल तक जो आकाश अपने कर्रिएर के लिए पढता था,अब वो स्वेता को पाने के जूनून से पढ़ने लगा। वो पूरी रात पढ़ने लगा और जोश से पढ़ने लगा, इन दिनों वो स्वेता से ज्यादा बात भी नहीं करता था,क्योंकि उसके दिमाग में सिर्फ और सिर्फ एक ही ख्याल था की उसे किसी कीमत पर एग्जाम पास करना है और स्वेता को पाना है,एग्जाम खत्म होने के बाद सभी अपने घर लौट गए, क्योंकि इंस्टिट्यूट जाना बंद हो गया था,आकाश भी अपने गांव लौट आया,लेकिन उसका दिल तो स्वेता के पास ही रह गया था,वो अपने गांव में भी खोया-खोया सा रहता था और रिजल्ट का इंतजार कर रहा था, वो दिन भी आ गया जब रिजल्ट निकला,आकाश रिजल्ट देख कर खुश हो गया,क्योंकि वो पास कर गया था, एक बार फिर वो इंस्टिट्यूट गया जहाँ उसने स्वेता का पता पूछा और वो स्वेता से मिलने उसके घर गया, उसे ये बताने के लिए की.वो एग्जाम पास कर गया है और वो स्वेता से शादी करना चाहता है,स्वेता के घर पहुंचने के बाद वो स्वेता की मम्मी से मिला,तो उसे पता चला की स्वेता की शादी हो गयी है, ये सुन कर उसे बहुत बुरा लगा, उसे लगा की स्वेता ने उसके साथ धोखा किया है, वो पूरी तरह से टूट गया था, उसके आँखों के सामने अँधेरा सा छा गया, स्वेता की मम्मी ने स्वेता का नंबर दिया, आकाश स्वेता के घर से निकलने के बाद उस नंबर पर कॉल किया और स्वेता से सिर्फ इतना ही पूछा की उसने उसके साथ ऐसा क्यों किया? इस पर स्वेता ने बताया की उसकी शादी तो पहले से तय थी,लेकिन वो उसका दिल नहीं तोडना चाहती थी,इसलिए उसने ऐसी शर्त रखी, क्योंकि दिल टूटने के बाद शायद वो पढ़ नहीं पाता और पास नहीं हो पाता,इसलिए उसने ऐसा शर्त रखा,जिससे वो एग्जाम में पास कर सके। आकाश उसकी पूरी बात सुन कर सिर्फ इतना कह पाया की उसकी दो लफ्जो ने भले उसकी पूरी जिंदगी बदल दी हो,लेकिन वो कभी भी उसे भुला नहीं पायेगा,आज इस बात को भले सालो बीत गया हो,लेकिन आज भी आकाश ने शादी नहीं की और वो स्वेता के कही हुई बात को भुला नहीं पाया
आशा है आपको हमारी ये “true love stories in real life in hindi” पसंद आयी आपको ये पोस्ट अच्छी लगे तो इसे फेसबुक और व्हाट्स ऐप पर शेयर करें।
और प्रेम कहानियां यहाँ पढ़ें==>प्यार का एहसास,जब प्यार में आया कंडीशन,रिश्ते का अपनापन

true love stories in real life in hindi




loading...
You might also like