Articles Hub

a college love story in hindi-कांच की चूड़ी

a college love story in hindi, most romantic love story in hindi language, love story in hindi, trending love story in hindi , हिंदी प्रेम कहानियां

a college love story in hindi

ऋषभ अपने शहर में पढता था, उसकी पढ़ाई पूरी हुई तो वो जॉब के लिए आवेदन भरने लगा,तभी उसे दिल्ली एक अच्छे कंपनी से जॉब का ऑफर आया, और वो बहुत खुश हुआ,खुश होने वाली बात भी थी, काफी प्रत्यन के बाद उसे अच्छा जॉब मिला था,वो भी देश की राजधानी से। वो तय समय के अनुसार सारी तैयारी करके दिल्ली की और रवाना हो गया। उसकी एक ही समस्या थी, पहली बार वो अपने शहर से निकला था,और दिल्ली में किसी को जनता नहीं था,इसलिए थोड़ा परेशान था, दिल्ली जाने वाली ट्रैन में बैठ कर यही सोच रहा था की कैसे दिल्ली में रहेगा और कैसे जॉब करेगा, तभी उसके पास की सीट पर बैठा हुआ लड़का ऋषभ को परेशान देख उससे पूछ बैठा कुछ समस्या है क्या? इस पर ऋषभ ने अपनी समस्या उस लड़के को बता दी,ऋषभ की किस्मत अच्छी थी, उस लड़के ने टेंशन ना लेने को बोला और बताया की वो दिल्ली में ही रहता है,इसलिए उसकी मदद कर देगा। मदद शब्द सुन कर ऋषभ की जान में जान आ गयी, और वो उस लड़के से दोस्ती कर लिया,लड़के का नाम नीरज था,जो दिल्ली में ही रह कर अपनी पढ़ाई पूरी कर रहा था, पुरे रास्ते बात करते करते दोनों में अच्छी जान पहचान हो गयी और दिल्ली स्टेशन पहुंचने के बाद नीरज ने ऋषभ को अपने रूम पर ही ले गया, छोटा सा रूम था,जिसमे नीरज अकेले रहता था,और उसने कहा जब तक कहीं रहने का व्यवस्था ना हो जाये वो यहाँ रह सकता है, ऋषभ ने उसे दिल से धन्यवाद कहा।अगली सुबह कंपनी का पहला दिन था,इसलिए ऋषभ जल्दी से तैयार हो गया,और नीरज ने जब कंपनी का एड्रेस देखा तो उसने जाने का रास्ता भी बता दिया साथ में कहाँ से बस लेना है और कहाँ बस छोड़ना है ये भी बता दिया और ये भी कह दिया की यहाँ से दुरी ज्यादा है,इसलिए समय लगेगा । चुकी ऋषभ जल्दी तैयार हो गया था इसलिए नीरज के बताये हुए बस स्टॉप पर चला गया और जिस नंबर की बस से जनि थी वो बस पकड़ लिया,बस वाले बात करके अपने बताये हुए जगह पर बस रोक देने की बात कही,साथ ही साथ उधर से आने वाले बस का भी समय पूछ लिया,हलाकि की कंपनी शहर से दुरी पर थी,इसलिए बस वाले ने कहा,इसी बस से सफर करने से वो समय पर पहुंच पायेगा,क्योंकि इसके बाद 1 घंटा के बाद ही बस यहाँ से मिलेगा जिससे उसे पहुँचने में देर हो जायेगा।
और भी प्रेम कहानियां पढ़ें==>एक लव स्टोरी ऐसी भी, कुछ इस कदर दिल की कशिश, जहां तेरी नजर है
ऋषभ की बात समझ में आ गयी,इतने देर में दूसरा बस स्टॉप आ गया और जब बस खुलने लगी तो एक लड़की दौडती हुई आयी और बस में हाफ्ते हुए चढ़ गयी। वो ऋषभ से आगे वाली सीट पर बैठ गयी,जिसका चेहरा ऋषभ नहीं देख पाया,शायद वो खिड़की से बाहर देखने में व्यस्त था, इसलिए लड़की को नहीं देख पाया, ऋषभ का ध्यान तब टुटा जब लड़की की चूड़ी बजी,लड़की जिधर भी अपने हाथ को घुमाती उसकी चूड़ी बज उठती और ऋषभ का ध्यान उधर चला जाता,लेकिन वो लड़की का चेहरा नहीं देख पाया, फिर ऋषभ अपनी बस स्टॉप पर उतर कर कम्पनी की तरफ बढ़ गया, आज उसका पहला दिन था,इसलिए उसका दिल जोर-जोर से धड़क रहा था, कम्पनी पहुँच कर उसने बताया की आज उसका पहला दिन है,उसे कहाँ जाना है तो वहां के स्टाफ ने उसकी पूरी मदद की और ऋषभ को ख़ुशी हुई की उसका भाग्य अच्छा है,इसलिए की अच्छी जॉब मिल गयी, ट्रैन में ही एक अच्छा दोस्त मिल गया एयर अब ऑफिस में सभी मदद करने वाले मिल गए,जल्दी ही वो सब से खुल-मिल गया। अब रोज उसका रूटीन हो गया था,उसी बस से ऑफिस जाना और वापस घर आना।इस रूटीन में एक नया अध्याय तब जुड़ा जब उसने पाया की उसके अगले बस स्टॉप पर आने वाली लड़की रोज ही बस दौड़ते हुए पकड़ते थी, उसके हाथो की चूड़ी का खनका ऋषभ को बहुत ही पसंद आता था,हलाकि वो उस लड़की को देखता था,लेकिन कभी उतने गौर से नहीं देख पाया,एक दिन वो लड़की ऋषभ के पास वाली सीट पर आ कर बैठ गयी,उस लड़की को अपने ही पास बैठा देख ऋषभ बहुत खुश हुआ,पिले रंग के सलवार-सूट पहने वो लड़की बहुत ही खूबसूरत लग रही थी और आज पहली बार उसे….
a college love story in hindi, most romantic love story in hindi language, love story in hindi, trending love story in hindi , हिंदी प्रेम कहानियां
ये a college love story in hindi अगली पेज में भी जारी है, आगे पढ़ने के लिए निचे क्लिक करें।



loading...
You might also like