Articles Hub

a love story in hindi language- एक सच्ची प्रेम कहानी

हम आपको एक से बढ़कर एक रोमांटिक प्रेम कहानियां प्रकाशित करते हैं।इसी कड़ी में पेश है आज ” एक सच्ची प्रेम कहानी ” a love story in hindi language. आशा है ये आपको पसंद आएगी।

a love story in hindi language






दोस्तों मेरा नाम राज है।आज मैं आपको अपनी प्रेम कहानी बताऊंगा वैसे मुझे प्यार पर विश्वास नहीं था पर यह अहसास कब मुझे हो गया पता ही नहीं चला।वह दिल्ली की रहने वाली थी।एक दिन उसने फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी थी और उसकी फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट कर के मैंने उससे चैटिंग करना शुरू कर दिया। शुरुआत नॉर्मल बातों से हुई पर धीरे-धीरे यह बातें प्यार में बदल गई।मैंने उसे प्रपोज कर दिया और उससे मिलने का फैसला किया और उसे पार्क में बुलाया। 10 मिनट बाद मुझसे मिलने आई ।  वह हरी साड़ी में कितनी खूबसूरत लग रही थी।उसे देखते ही मैं दीवाना और मदहोश हो चुका था क्यूंकि वो अप्सरा के समान लग रही थी। वह मुझे इस हालत में देख कर हंसने लगी और बोली की अरे देखते रहोगे या पास भी आओगे? मैं उसे देखकर सब भूल गया था,शायद यही प्यार था। जब आप अपनी ड्रीम गर्ल के बारे में सोचते हो और वो बहुत दिनों के इंतजार के बाद जब आपसे मिलने आए तो यह एहसास बड़ा रोमांचक होता है। हम दोनों एक  पेड़ के नीचे बैठ जाते हैं और मैं उसकी गोद में सो जाता हूं ।उसके लंबे बाल किसी बादल के जैसे मेरे चेहरे से टकरा रहे थे। उसकी नीली आंखें मुझे जिंदगी के सपने दिखा रही थी। वह कहती है कि मैं तुम्हें कैसे लगी दिखने में?  मैं कहता हूं तुम तन और मन दोनों से खूबसूरत हो मुझे तुमसे प्यार है आई लव यू रिया। वह भी आई लव यू मुझे बोल देती है।मेरे माथे पर किस करते हुए बोलती है कि मेरा बाबू मेरा साथ ज़िन्दगी भर दोगे न।मैं बोलता हूँ हां जानू मैं तुम्हारे साथ जिंदगी भर दूंगा। फिर हम दोनों इमोशनल हो जाते हैं और एक दूसरे के गले लग जाते हैं। कुछ दिन बाद  वह मुझसे मिलने आती है।वो थोड़ी परेशान नजर आ रही थी। वो मुझसे बोली की मुझे कुछ पैसों की जरूरत है ताकि मैं अपना  बिजनेस शुरू कर सकूं। ऐसा कहकर वह अपने दिल की बात सामने रखती है।मैं कहता हूं चिंता मत करो मैं तुम्हारी मदद करूंगा मुझे 3 महीने का वक्त दो।मैं अपनी कंपनी से  3 लाख का लोन लेता हूं।
और प्रेम कहानियां पढ़ें==>
एक झलक काफी है
ये इश्क़ नहीं आसान
जब प्यार में आया कंडीशन
वो चांदनी रात
और उसे वो पैसे दे देता हूं। उसने अपना बुटीक शुरू किया था।जो वह कहती मैं उसकी हेल्प किया करता था। फिर एक दिन मुझसे उसने शादी की बात की और मैंने हां कर दी ।सब अच्छा चल रहा था की एक दिन उसका एक्सीडेंट हो जाता है।यह खबर सुनते ही  मैं अपने होश खो बैठता हूं और  अपनी जान से मिलने  हॉस्पिटल जाता हूं।डॉक्टर बोलते हैं कि उनको ए प्लस ब्लड ग्रुप की जरूरत है पर मेरा वो ब्लड ग्रुप नहीं था।किसी मैं इंतजाम करके ए प्लस ब्लड ग्रुप  ले आता हूं। वह दोबारा ठीक हो जाती है पर ऑपरेशन के बाद उसका चेहरा  इतना खूबसूरत नहीं होता जितना पहले था। वह रोते हुए कहती है क्या तुम मुझे अपनाओगे? मैं बोलता हूं जानू क्यों नहीं अपना लूंगा तुम्हें मैंने तुम्हारे दिल को चाहा शरीर को नहीं है तुम्हारी आत्मा से प्यार करता हूं, तुम्हारे तन को नहीं। यह कहकर वो मुझे अपने दिल से लगा लेती है।आज को मेरी वाइफ है आज भी उससे बहुत प्यार करता हूं।दोस्तों प्यार पर विश्वास नहीं था मुझे  पर यह प्यार मेरी जिंदगी में खुशियां लेकर आया। आप भी प्यार करो दिल से करो ।

आशा है ये “a love story in hindi language” आपको पसंद आयी होगी।कृपया अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ इसे व्हाट्स ऐप और फेसबुक पर शेयर करें।

a love story in hindi language




loading...
You might also like