Articles Hub

ऊपर वाले पर भरोसा-A motivational story on believing on God

A motivational story on believing on God,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
एक बार की बात है जब एक मेजर अपनी 15 जवानो की टुकड़ी लेकर हिमालय की चढ़ाई कर रहे थे। चढ़ाई की दौरान काफी ठंड थी और बर्फ गिर रही थी। सभी ने सोचा की अगर ऐसी ठंड मे अगर गरमागरम चाय मिल जाए तो मजा आ जाए।
लेकिन इतनी ठंड मे आसपास कोई चाय की दुकान नहीं थी। थोड़ी चढ़ाई के बाद उन्हे एक छोटी से टूटी-फूटी चाय की दुकान दिखाई दी। वे उस चाय की दुकान पर पहुंचे तो देखा की वह दुकान बंद थी। सब ने मेजर की ओर देखा और कहा की अगर आप order दे तो हम इस दुकान का lock दरवाजा तोड़ दे।
फिर थोड़ा सोचने के बाद मेजर के आदेश पर दरवाजे को तौड कर अंदर से जो समान था उससे चाय बनाकर सबने पी और आगे चढ़ाई पर निकाल गए।
आगे जाने के बाद मेजर को लगा की हमने गलत काम किया। किसी की दुकान को तौडकर यू इस तरह चोरी करना बहुत गलत है। फिर वे मेजर अपने दो जवानो के साथ वापस गए उस दुकान पर और शक्कर के डिब्बे के नीचे 1000 रुपए रखकर थोड़ी दुकान को दौबरा व्यवस्थित करके लौट आए।
कुछ दिनो बाद मेजर और उनकी टुकड़ी अपनी duty खत्म कर लौट रहे थे तो उसी दुकान पर पहुचे। उन्होने देखा की एक वृद्ध व्यक्ति दुकान पर चाय बेचता था और कहता था की “ऊपर वाले पर भरोसा रखें, सब ठीक होगा।
तभी मेजर साहब ने पूछा की “तुम्हें ईश्वर पर इतना भरोसा क्यो है? अगर ईश्वर सच मे होता तो क्या तुम्हें ऐसी जगह मे रहना पड़ता?
तब उस old man ने एक कहानी सुनाई। “तीन महीने पहले सैनिको ने मेरे बेटे को आतंकवादी पकड़ कर ले गए की मेरे बेटे के पास information है तो उसे बहुत मारा-पीटा। इसके बाद जब कोई जानकारी नहीं मिली तो उसे अधमरा छौड़ कर चले गए। अब उसके इलाज के लिए हॉस्पिटल लेकर गया तो मेरे पास पैसे नहीं थे और आटकवादियों की दर से लोगो ने मेरी मदद नहीं की।”
“फिर मे दौड़ता हुआ मेरी इस दुकान पर आया तो देखा की दुकान का दरवाजा टूटा हुआ है और मैं जब अंदर आया तो चीनी के डब्बे के नीचे हजार रुपए रखे थे जिससे मैंने अपने बेटे का इलाज करवाया। भगवान मेरे लिए वो हजार रुपए छौड़ कर गया।
ये बात सुनने के बाद सारे जवानो के मेजर साब की ओर देखा तो मेजर साहब ने इशारो मे कहा की “कुछ बताना मत।
मेजर साहब उस बाबा के पास गए, गले लगाया और इस बार जो बिल हुआ उसे देकर आगे बढ़ गए।
A motivational story on believing on God,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
और भी प्रेरक कहना पढ़ना ना भूलें==>
बदलाव की एक प्रेरक कहानी
चालक भेड़िये और खरगोश की प्रेरक कहानी
कोयल और मोर की प्रेरणादायक कहानी
Moral
कहानी हमे बताती है की हमे हमेशा ईश्वर पर और खुद पर भरोसा रखना चाहिए। ऊपर वाले पर भरोसा रखे, वह किसी-न-किसी रूप मे आपकी मदद जरूर करेगा।
मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-A motivational story on believing on God,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like