Articles Hub

फूलों के गुलदस्ते की बुरी आत्मा का डरावना कहर-A New Horror Story In Hindi 2018

फूलों के गुलदस्ते की बुरी आत्मा का डरावना कहर

रमेश की मम्मी को घर सजाने के बड़ा ही शौक था, वो जहाँ कहीं भी जाती वहां से कुछ न कुछ घर सजाने का सामान लेकर आती थीं. उनके घर वो ऐसी-ऐसी चीजें थीं, जो शायद ही किसी के घर में रहती हों. रमेश अपनी मम्मी और पिता जी के साथ शहर में रहता था, बाकि उसकी दादी दादा और चाचा गाँव में रहे थे, वहां उनकी बड़ी सी हवेली थी.
कई सालों के बाद रमेश अपनी मम्मी और पापा के साथ गाँव घुमने गया था.
एक हफ्ते रुकने के बाद वो और उसके पापा वापस शहर आ गए, लेकिन किसी काम की वजह से उसकी मम्मी वापस नहीं आई. रमेश की मम्मी पूरी हवेली घूम रही थीं और वहां से पुराना सामान निकाल रही थीं. हवेली में रमेश की दादा की अम्मा का भी कमरा था, जो कई सालों से बंद पड़ा हुआ था, रमेश की मम्मी ने उसका दरवाजा भी खुलवा दिया और वहां से भी अपने काम का सामान निकलवा लिया. वैसे तो वहां ज्यादा कुछ खास सामान नहीं था, लेकिन उन्हें वहां फूलों का गुलदस्ता मिल गया, जो बेहद खुबसुरत था. जो भी उसे एक बार देखले. वो फिर उसे भूल नहीं सकता था.
और भी डरावनी कहानियां पढ़ना ना भूलें=>
एक खौफनाक आकृति का डरावना रहस्य
लड़की की लाश का भयानक कहर
पुराने हवेली के भूत का आतंक
रमेश की मम्मी ने उसे साफ करके अपने शहर वाले घर में ले आई, और बैठक वाले कमरे में रख दिया. जैसे ही वो गुलदस्ता उनके घर में आया रमेश की तबियत ख़राब रहें लगी, जब रमेश ठीक होता तो उसकी मम्मी को बुखार आ जाता, और फिर पापा को भी. मतलब हमेशा किसी न किसी की तबियत ख़राब ही रहती.


उस दिन आमवाश्य की रात थी, चारों ओर सिर्फ अँधेरा छाया हुआ था. ठण्ड का समय था, शियर भी चिल्ला रहे थे, तभी रमेश की मम्मी की नजर उस गुलदस्ते पर पड़ी, तो वो चौंक गईं, गुलदस्ते से खून टपक रहा था, और वो पहले जितना खुबसुरत दिखता था, अब उससे कहीं ज्यादा डरवाना नजर आ रहा था.
उन्हें कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि अब वो क्या करें. रमेश के पापा भी कुछ समझ नहीं पा रहे थे, तभी आचानक ने उस गुलदस्ते से धुआं निकलने लगा और फिर वहां से एक सफ़ेद पोशाक में औरत निकली, जो बड़ी डरावनी दिख रही थी. रमेश की पूरी फैमली जल्दी से अपने घर से भाग गई, तीनों थर-थर काप रहे थे.
रमेश के पिता जी तुरंत अपने स्वामी को फोन करके अपने घर बुला लिया. स्वामी ने तुरंत बता दिया कि उनके घर में एक बुरी आत्मा है, उन्होंने अपने तन्त्र मन्त्र के जरिये उस गुलदस्ते को भस्म कर दिया. अब रमेश का परिवार ख़ुशी-ख़ुशी रहें लगा.

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-A New Horror Story In Hindi 2018,ghost story in hindi language,ghost story in hindi pdf,ghost story in hindi with moral,ghost story in hindi online,ghost story novel in hindi,true love ghost story in hindi,ghost story in hindi new

loading...
You might also like