ga('send', 'pageview');
Articles Hub

बुरा सपना-a new inspirational story about the bad dreams of a man

a new inspirational story about the bad dreams of a man

a new inspirational story about the bad dreams of a man,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

यह कहानी एक ऐसे व्यक्ति की है ,जो रात में सपना देखता है और इसी दुःस्वप्न में फँस जाता है। उस रात जो उसने सपना देखा वह बेहद डरावना था। सपने में उसने अपने आप को एक रेगिस्तान में पाया। वह अकेला है उसके हाथ में में एक लंबा,चमकता तलवार है। सूरज की गर्मी अपने चरम पर थी ,वह पसीने से तर बतर था। वह आगे बढ़ता चला जा रहा था। वह अनजान मंज़िल की ओर बढ़ा चला जा रहा था। उस भयावह रेगिस्तान में दूर -दूर तक कोई नहीं था। तपिश और अनजानी राहें उसका गला सुख चुका था और उसके पास पीने के लिए पानी का एक बून्द भी नहीं था। कुछ दूर चलने के बाद रेत के टिल्हे पर एक आदमी को सोते हुए पाया ,वह खुश था कि चलो इस निर्जन ,सुनसान रेगिस्तान में एक आदमी तो मिला। उसने अपने क़दमों को और तेज़ कर दिया। जब वह उस व्यक्ति के नज़दीक पहुंचा तो उसने देखा कि वह पेट के बल लेटा हुआ है। उसने उसे पलट दिया और उसकी चेहरे को देखकर वह चीख पड़ा। वह चेहरा उसका खुद का था। यह देखकर उसे गुस्सा आ गया। दर का एहसास अपने चरम पर था।
और भी प्रेरक कहना पढ़ना ना भूलें==>
उड़ान-a new hindi inspirational story of the march month
बुद्धि एक अमूल्य धरोहर-three new motivational stories in hindi language
लवंगी-जगन्नाथ-A new hindi story from the the period of shahjhan

a new inspirational story about the bad dreams of a man,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

उसने उसके गर्दन को अपनी तलवार से धड़ से अलग कर दिया। आवेश और दर के आगे उसने यह कृत्य तो कर दिया पर अब उसे पछतावा होने लगा। उसने अपनी तलवार फ़ेंक दी और वहाँ से भागने लगा। भयंकर गर्मी और प्यास के आगे वह तेज़ दौड़ भी नहीं पा रहा था ,पर उसे लगा कि उसके प्राण संकट में हैं लिहाज़ा वह यथासाधय दौड़ता रहा जबकि उसके पैर गर्म बालू में धंस रहे थे। आखिरकार वह रेत पर मूर्छित हो कर गिर पड़ा। वह जख्मी हो चुका था उसके टखने से खून रिस रहा था। जब उसे खुछ होश आया तो उसने एक आदमी को अपनी ओर आते देखा। जैसे ही नज़दीक आने पर उस आदमी को देखा तो मानो खून रुक सा गया। साँसे थम सी गई। उस आदमी का चेहरा भी उसके अनुरूप ही था एकदम मिलती -जुलती और उसके हाथो में भी उसी तरह की तलवार थी। नकारात्म सोच के कारण हम ऐसे डरावने सपनो में छवि को देखते हैं। यह कभी सच नहीं होता अपितु यह केवल आभासित छवि होता है

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-a new inspirational story about the bad dreams of a man,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language,a new inspirational story about the bad dreams of a man

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like