Articles Hub

कर भला तो हो भला-a new short hindi inspirational story of a king with good heart

a new short hindi inspirational story of a king with good heart

a new short hindi inspirational story of a king with good heart,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
यह तो एक कहावत है पर इसका प्रचलन कैसे हुआ इसके पीछे एक कहानी है। आइये जानते है यह कहानी—-प्राचीन काल की बात है। सुकृति नाम का राजा सुंदर नगर में राज्य करता था। पडोसी राज्य के शासक इसकी सुंदरता पर मोहित होकर अक्सर आक्रमण करते थे। राजा का सेनापति भीमसेन बहुत ही बहादुर और निडर व्यक्ति था। वह अपने राज्य के प्रति बहुत ही वफादार था। एक बार की बात है की युद्ध में वह घायल हो गया। बहुत सारे सैनिक मारे गए। इसी बीच भीमसेन का एक मित्र उनसे मिलने आया। पर उसका मित्र ना जाने क्यों राजा से बहुत ईर्ष्या करता था उसने भीमसेन को राजा के खिलाफ भड़काना शुरू कर दिया। उसने कहा की तुम लोग युद्ध करो,मारो या बुरी तरह से घायल होवो उधर राजा महल में अय्याशियाँ कर रहा है। इससे तो अच्छा है की तुम ही राजा बन जाओ। भीमसेन अपने मित्र के बहकावे में आ गया और राजा बनने का मन बना लिया। उसने राजा को सिहासन से हटा दिया और स्वयं राजा बन बैठा। राजा सुकृति किसी तरह अपनी जान बचाकर जंगल में भाग गए। उसने राजा को पकड़ने वास्ते सहस्त्र स्वर्ण मुद्राओं की घोषणा कर दी। इधर राजा जंगल के राते राज्य से बाहर निकलने वाला ही था की एक व्यक्ति राजा के पास पहुंचा और कहा की उसकी पत्नी बहुत बीमार है। इलाज हेतु उसके पास धन नहीं हैवह राजा सुकृति के महल का रास्ता पूछने लगा।
a new short hindi inspirational story of a king with good heart,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
और भी प्रेरक कहना पढ़ना ना भूलें==>
उड़ान-a new hindi inspirational story of the march month
बुद्धि एक अमूल्य धरोहर-three new motivational stories in hindi language
लवंगी-जगन्नाथ-A new hindi story from the the period of shahjhan
राजा ने कहा की चलो तुम्हे महल तक पहुंचा देता हूँ। .राजा उस व्यक्ति के साथ राज दरबार में पहुंचे। स्वयं राजा को राज दरबार में आया देख भीमसेन और सारे दरबारी अचंभित थे,.राजा ने कहा -भीमसेन तुमने मुझे पकड़वाने वाले को इनाम रखा है। वह इनाम
पकड़ कर लानेवाले इस व्यक्ति को दे दो फिर मेरे साथ तुम जो चाहो कर सकते हो। राजा की दयालुता देखकर सेनापति जो जबरन राजा बन बैठा था,का माथा शर्म से झुक गया। वह सिंहासन से उठा और राजा सुकृति के चरणों में गिर पड़ा। उसे अपनी गलती का एहसास हो चुका था। कर भला तो हो भला। भलाई करने वाले को लाख दुखों का सामना करना पड़े पर अंततः उसका भला ही होता है।

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-a new short hindi inspirational story of a king with good heart,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like