ga('send', 'pageview');
Articles Hub

चतुर संपेरा-a new short inspirational lok katha in hindi language

a new short motivational story in hindi language of a poor man,,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

लोक कथाएं-चतुर संपेरा-सुलतान जादी को एक बार अपने महँ में दिल नहीं लग रहा था। उसने अपना मन बहलाने के लिए एक बाज़ा बजाने वाले को बुलाया। कुछ दिनों तक वह संगीत का आनंद लेता रहा ,और वह हंसी के मूड में आ गया। पर बाज़ा बजानेवाला बुरी तरह से थक गया था। उस बदकिस्मत का सिर सुलतान ने कटवा दिया। फिर उसने हार्प बजाने वाले को बुलाया उसका नाम जोसफ था। कुछ दिनों तक तो वह हार्प सुनता रहा पर हार्प की अव्वाज़ भी अब उसकी कानो को चुभने लगा और अन्तः उस बेचारे का भी सिर कटवा दिया। इस तरह बहुत सारे लोग आयी ,सुल्तान कुछ दिनों तक तो खुश रहता पर वह बैचेन और गुस्सैल हो जाता। फिर वह उस व्यक्ति के सर काटने का हुक्म दे देता। स्तिथि यह हो गई कि राज्य का हर आदमी भय से त्रस्त रहने लगा। पता नहीं सुलतान कब बुला ले फिर वह मारा जाए कुछ ही दिनों में राज्य के सभी गाना गानेवाले ,गाना बजानेवाले ,नाचनेवाले ,मदारी शहर छोड़कर भागने लगे। एक दिन सेलहम नाम का एक संपेरा महल में आया और बोला कि वह सुलतान का दिल बहलाएगा। संपेरा बड़ी कुशलता से बीन पर साँपों को नचाता था। जब वह बीन बजाता तो सभी सांप उसके चारो तरफ लिपट जाते। सुलतान का दिल कुछ दिनों तक तो बहला पर फिर वही ुबाहत। वह अब साँपों को नहीं देखना चाहता था।
और भी प्रेरक कहना पढ़ना ना भूलें==>
हिमशुक-a new short motivational story of a wise parrot of a king
अदभूत आदमी-an interesting hindi story of a strange Canadian merchant
लाइफ इस ब्यूटीफुल-An inspirational story of a movie life is beautiful

a new short motivational story in hindi language of a poor man,,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

एक दिन जब वह साँपों को इधर -उधर घुमा रहा था तब सुलतान ने कहा कि अब बहुत हो गया ,हम तुम्हारे सिर काटने का हुक्म देंगे। सेलहम डर कर बोला ,-‘जहाँपनाह ,जैसी आपकी मर्ज़ी पर एक मौक़ा और मुझे दें ,यह आपके भले के लिए ही होगा। सुलतान ने कहा ,’यह मौक़ा तभी तुझको मिलेगा जब तुम कल मेरे सामने एक सवार और पैदल के रूप में एक साथ आओगे। अगले दिन सुलतान अपने छत पर खड़ा था जब महल का दरवाज़ा खुला तो उसने सेलहम को एक बहुत ही छोटे गधे पर सवार होकर अंदर आते देखा। यह गधा इतना छोटा था कि सेलहम के पैर जमीं को छु रहे थे। सुलतान यह देखकर खुश तो जरूर हुआ पर उसने सेलहम को मौत से बचने के लिए तीन सवाल दागे। पहला सवाल ,’आसमान में कितने तारे हैं ?’सेलहम ,-जहाँपनाह ,आसमान में उतने ही तारे हैं जितना कि मेरे गधे के बाल हैं ‘ आप चाहें तो गिन सकते हैं। सुलतान -बहुत अच्छे ,दूसरा सवाल ,-‘हम धरती के कौन से हिस्से में हैं ?’संपेरा -‘हमलोग धरती के बीच के हिस्से में हैं। ‘तीसरा सवाल। -‘मेरे दाढ़ी में कितने बाल हैं ?’ संपेरा ,-‘आपके ढाढी में उतने ही बाल हैं ,जितने बाल मेरे गधे के पूंछ में हैं। ‘तसल्ली के लिए आप अपना दाढ़ी कटवां ले और मै गधे की पूँछ कटवा देते हैं फिर हम दोनों साथ -साथ गिनती कर सकते हैं ,’सुलतान ने कहा ,-नहीं अब इसकी कोई जरूरत नहीं है ,तुम बहुत चतुर हो। तुममे हर सवाल के जवाब देने की काबिलियत है। सुलतान ने खुश होकर सोने की सिक्के की एक थैली सेलहम को दी। संपेरा झुककर सुलतान को सलाम किया और महल से बाहर अपने गधे के पास लौट आया। वह उस छोटे से गधे पर सवार होकर खूश होकर अपने घर की तरफ जा रहा था।

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-a new short inspirational lok katha in hindi language,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

loading...
You might also like