ga('send', 'pageview');
Articles Hub

सोने की सुराही-a new short interesting and motivational story about the gold

a new short motivational story in hindi language of a poor man,,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

बहुत पहले स्पेन के उत्तर में एक घोड़ों का व्यापारी रहता था। परिवार में उसके अलावे उसकी माँ और बहन थे। एक दिन की बात है वह किसी दूर शहर में घोड़े बेचने गया। वहाँ एक शानदार मेला लगा हुआ था। वहाँ उसने एक सुन्दर लड़की देखी और उस पर मोहित हो गया।उससे शादी कर घर वापस आ गया। चूँकि वह साथ में दहेज़ नहीं लायी थी इसलिए उसकी माँ ,बहन खुश नहीं थे। साल भर बाद उसकी पत्नी नीक सुन्दर लड़की को जन्म दिया। और थोड़े दिन बाद ही वह अपनी बच्ची को छोड़कर चल बसी। कुछ बर्ष बाद उसकी माँ का भी देहांत हो गया। व्यापारी की बहन जुवाना उस बच्ची से बहुत ईर्ष्या करती थी। वह उसे बहुत तंग किया करती थी। एक झरना था जो घरबसे काफी दूर था और पहाड़ी की चोटी के नीचे था। वहाँ एक खंडहर था जहां लोगों का मानना था कि भूत -प्रेत वास करते थे। कोंचीटा को वहाँ जाकर बहुत सुकून मिलता था। वह अब सत्रह साल की हो गई थी। पड़ोस के लड़के कार्लो से उसे प्यार हो गया था। संयोग था कि उसका जन्म दिन सेंट जॉन त्यौहार के एक दिन पहले पड़ता था। वह नाच के लिए तैयार होने लगी कार्लो को भी उस उत्सव में शरीक होना था। बुआ ने तभी कहा -,’घर में पानी की एक बूँद नहीं है और तुझे नाच में जाने की सूझ रही है। ‘जा झरने से पानी भरकर ला। कोंचीटा के आँख में आंसू आ गए। वह घड़ा लेकर झरने से पानी लाने चलीव। काफी वक़्त गुजर गए पर कोंचीटा घर वापस नहीं लौटी। करलो उसकी घर खोजने आया। जुआना ने उसके बारे में कुछ नहीं बताया। जुआना ने उसके गायब होने की जो कल्पित कहानी सुनाई उससे वह दर गया।
अपना अंदाज़-a best inspirational story for the beginning of your day
सबसे बड़ा मनहूस कौन?-a new short inspirational story of akbar and birbal in hindi language
द लास्ट लीफ-the last leaf short motivational story in hindi language

a new short motivational story in hindi language of a poor man,,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

त्यौहार के दिन गड़े मुर्दे भी उठ खड़े होते हैं। उसने कहा कि तुमने कोंचीटा को पानी भरने भेज दिया ,यदि उसे कुछ हो गया तो इसकी जिम्मेवार केवल तुम होगी। वह झरनेके पास पहुंचा तो घड़े को पाया ,कोंचीटा का कहीं अता -पता नहीं था। जब कोंचीटा घड़े में पानी भरकर चलने को हुई उसने कई घुड़सव्वर पुराने जमाने का वस्त्र पहने आते देखा। सभी सिपाही लग रहे थे और उनकी शक्ल भी अजीब थी। डर के मारे वह कांपने लगी। झरने के दूसरी तरफ एक स्त्री प्रगट हुई। उसने उसे अपने साथ चलने को कहा। वह एक गुफा में अंदर गई। उसने कोंचीटा को आँखे बंद करने को कहाँऔर हाथ पकड़ने को कहा। उसे लगा कि वह पाताल लोक आ गई है। गुफा में हीरा -मोती की चट्टानें थी। पर रौशनी कहाँ से आ रही थी ,यह पता नहीं चल रहा था। उस स्त्री ने एक
कहानी सुनाई। सदियों पहले मैं भी तुम्हारी तरह एक सुन्दर सी बच्ची थी मेरा जन्म मूर परिवार में हुआ था। मूर और ईसाई परिवारों में लड़ाई चला करती थी। एक ईसाई अफसर ने मुझे पकड़ लिया और अपने देश ले जाकर मुझसे शादी कर ली। मेरे पिताजी इस सदमे को नहीं झेल सके और मरते -मरते मुझे श्राप दे दिया कि मैं मरने के बाद तब तक भूत बनकर घूमती रहूंगी जबतक कोई सुन्दर और साफ़ मन की लड़की मेरी सहायता नहीं करेगी। जब सब जादू उतर जाये तो वह चूम ले। चाहे जो भी तुम मेरा हाथ मत छोड़ना -उसने कोंचीटा से कहा। सारे गुफा में भयावह भालूं दिखने लगे पर दर के वावजूद उसने हाथ नहीं छोड़ा। थोड़ीदेर में गुफा में अन्धेरा फैल गया। वह स्त्री एक लम्बे और मोठे सांप में बदल गई थी अच्छा अब तुम मुझे चूम लो ,उसने कहा। जब वह नींद से जाएगी तब उसने अपने आप को झरने के पास पाया। करलो उसे पाकर खुश था। जुडवाना अपनी करनी पर बहुत दुखी थी। उसने करलो से सगाई कर ली। दोनों फिर सुखपूर्वक जीवन व्यतीत करने लगे।

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-a new short interesting and motivational story about the gold,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like