ga('send', 'pageview');
Articles Hub

कितनी जमीन-a new short motivational story of three sisters about land

a new short motivational story of three sisters about land,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
कितनी जमीन -लियो टॉलस्टॉय।

दो बहने थी। बड़ी वाली का ब्याह एक सौदागर से हुआ और छोटी वाली का देहात में किसान परिवार में हुआ। एक बार बड़ी बहन का आना छोटी बहन के यहां हुआ। वह शहर की जम कर तारीफ़ करने लगी देखो ,बहना ,हम कैसे ठाठ बात से रहते हैं। छोटी बहन को बात लग गई। उसने सौदागर की जिंदगी को ये बताया और कहा ,-‘मैं तो जिंदगी भर तुम्हारे साथ अदला -बदली ना करूँ। हम मिहनती हैं हमारे पास कभी खाने -पिने की कोई कमी नहीं होगी। बड़ी बहन ने कहा – पेट तो बैल और कुत्ते भी भरता है वह भी कोई जिंदगी है भला ?’तुमहारे चारो तरफ गोबर और मिटटी ही मिलेगा . जीवन के आराम ,अदब का तो तुम्हे पता तक नहीं। छोटी ने कहा -तुम लोग हमेशा लालच में घिरी रहती हो। बुरी लत लगी कि घडी में सब बर्बाद , वही कोने में शैतान दुबका बैठा था। उसने किसान को चंगुल में लेने की ठानी। दीना बहुत उपाय करता फिर भी उसके बैल जमींदार के चारि में पहुँच जाते हर बार दीना को जुर्माना भरना पड़ता। गांव की मालकिन के पास तीन सौ एकड़ जमीन थी। वह अपनी जमीन बेच रही थी। किसानो ने कोशिश की गाँव पंचायत की तरफ से सबकी जमीन बनी रहे। असल में यह सब शैतान की करतूत थी। उसने बीच में ही फूट डाल दी इतने में दीना को मालूम हुआ कि एक पडोशी इकठ्ठा पचास एकड़ जमीन ले रहा है। आधा रुपया अभी ले ले आधा बाद में। उनलोगों ने मिलकर विचार किया कि किस तरकीब से जमीन खरीदी जाय। दीना ने चालीस एकड़ जमीन पसंद किया। उसने बीज बोया फसल खूब हुआ अब वह जमींदार बन बैठा। इधर अड़ोस पड़ोस के लोग अपने मवेशियों को दिन दहाड़े उसके खेतों में छोड़ने लगे।
और भी प्रेरक कहना पढ़ना ना भूलें==>
जैसे को तैसा-a new short motivational story of a farmer with moral
क्या मारे गए थे अर्जुन?-a new short story in hindi language from Mahabharata
पत्नी किसकी-a new short motivational story of a king and a Brahmin
a new short motivational story of three sisters about land,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

उसने एक सबक सुनाने की ठानी , तीन -तीन किसानो पर अदालत से जुर्माना हो गया। एक दुष्ट ने पेड़ काटकर बगिया को बीरान कर दिया। सबूत मिला नहीं इसलिए कहा -सुनी के अलावे कुछ नतीजा नहीं निकला। इस बीच अफवाह उडी की लोग गाँव छोड़कर जा रहे हैं। एक दिन दीना ओसारे पर बैठा था की एक परदेशी उधर से गुजरा। उसने बताया की दूसरी तरफ में बस्ती बस रही है। वह चल दिया। वह सैंकड़ों मील का सफ़र तय कर सतलज के पारवाली जमीन पर पहुंचा। उसने अपनी सारी जमीन बेच डाली। जमीनका पत्ता मिल गया। वह पहले से कई गुना खुशहाल हो गया। वह कॉल की बस्ती में गया दीना ने भेंट की चीज़े निकाली। सरदार ने कहा -जितनी जमीन लेनी हो इ ले। उसने कागज़ पक्का करने की बात कही दीना के कीमत पूछने पर सरदार ने एक दिन का एक हज़ार कहा। हम दिन के हिसाब से ही जमीन बेचते है। एक दिन मे पैदल चलकर जीतनी जमीन नाप लो वो तुम्हारी। बाहर कॉल लोग जोर -जोर से हंस रहे थे। जमीन पर वह आदमी मुहं बेहाल पड़ा है। देखता है कि वह आदमी दूसरा कोई नहीं खुद दीना है। वह डर के मारे घबरा गया वह बढ़ चला। उसने पानी पीया और बाई तरफ मुड़ गया। उसने रास्ते में निशाँ डाली। वह मुहं के बल गीरा उसे वह डरावना सपना याद आया। दीना का नौकर आया उसने देखा की उसके मालिक के मुहं से खून निकल रहा है। दीना मर चुका था। उसके नौकर ने उसके लिए कब्र खोदी और उसमे लिटा दिया बस उसे सर से पावँ तक सिर्फ ६ फुट जमीन मयस्सर हुआ।

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-a new short motivational story of three sisters about land,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like