ga('send', 'pageview');
Articles Hub

गधों का सत्कार-a new short motivational story with a funny and important message

गधों का सत्कार-a new short motivational story with a funny and important message
a new short motivational story with a funny and important message,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
बहुत पहले की बात है,एक घने जंगल में गधे ही गधे रहते थे। पूरी आज़ादी थी,भरपेट खाना और मौज उड़ाना। जंगल तो जैसे गधों के लिए स्वर्ग जैसे था। एक दिन एक लोमड़ी को मज़ाक सुझा। वह गधों के पास गई और मुँह लटकाकर बोली-‘मैं चिंता से मरे जा रही हूँ और तुमलोग हो जो मौज कर रहे हो। तुमलोगों को पता नहीं कि कितना बड़ा संकट सिर पर आ पहुंचा है। गधों ने उत्सक्तावश पूछा -‘दीदी भला क्या हो गया ऐसा,बात तो बताओ।’लोमड़ी ने कहा -मैं अपनी कानो से सुनकर और आँखों से देखकर आई हूँ ,जंगल की झील की मछलियों ने एक सेना बना ली है। और वे अब तुमलोगों पर चढाई करनेवाली हैं। उनकी सेना के सामने तुम लोग क्या ठहर पाओगे ? इसलिए मैं चिंतित हूँ। गधे तो गधे ही ठहरे ,ये बातें सुनकर असमंजस में पड़ गए। ब्यर्थ में जान गवाने से क्या फायदा ,चलो कही अन्यत्र चला जाये और सचमुच वे जंगल छोड़कर गाँव की तरफ चल पड़े।
और भी प्रेरक कहना पढ़ना ना भूलें==>
दूसरे देश में-in the other country a new short motivational story by Ernest Hemingway
a new short motivational story with a funny and important message,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

वे जल्दी -जल्दी भाग रहे थे ताकि मछलियों की सेना उनपर चढ़ाई ना कर दे। वे सब मन ही मन लोमड़ी को शुक्रिया अदा कर रहे थे। ये सारे गधे गाँव की तरफ पहुँचने लगे तभी धोबियों की नज़र उनपर पड़ गई धोबियों ने उन्हें पकड़कर खूब सत्कार किया। घबराये हुए गधों ने धोबियों को आपबीती सुनाई। उनके गले में रस्सियाँ डालकर खूंटे में बांधते हुए कहा -डरने की बिलकुल जरूरत नहीं है। उन दुष्ट मछलियों से हमलोग निपट लेंगे निर्भय होकर बाड़े में रहो ,बस हमारे कपड़ों का बोझ धो देना। उनकी मूर्खता बड़ी महंगी साबित हुयी। कहा जाता है कि तभीसे धोबी गधे का इस्तेमाल कपडोंके बोझ धोने में करने लगे

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-a new short motivational story with a funny and important message,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like