Articles Hub

a sad love story in hindi-प्यार का एहसास






देसिकहानियाँ में हम एक से बढ़कर एक प्रेम  कहानियां प्रकाशित करते हैं।पेश है इसी कड़ी में “प्यार का एहसास ” a sad love story in hindi आशा है,ये आपको पसंद आएगी।


रोहित कॉलेज में पढता था, वो देखने में बहुत ही सुन्दर और स्मार्ट था, उसे कॉलेज की कई लड़किया चाहती थी,जिनमे 2-3 लड़किया जो सुन्दर और स्मार्ट थी उसकी गर्लफ्रेंड भी थी, उन्ही में एक लड़की जिसका नाम खुशी था, वो रोहित के काफी करीब हो गयी,अब रोहित और ख़ुशी एक साथ नजर आते थे, लेकिन रोहित के साथ ही बढ़ने वाला लड़की जिसका नाम नेहा था, नेहा वैसे देखने में तो ज्यादा सुन्दर नहीं थी,ठीक-ठाक थी, सूरत से भले सुन्दर ना हो लेकिन सीरत से वो बहुत सुन्दर थी. नेहा हमेशा रोहित को देखा करती थी, उसे रोहित से प्यार था,लेकिन रंग साफ़ ना होने की वजह से वो कभी रोहित को अपने दिल का हाल नहीं बता पायी,वहीँ रोहित के साथ घूमते हुए लड़कियों की तुलना में नेहा अपने आपको कहीं से भी उनके करीब नहीं पाती थी, यही वजह था की वो हमेशा दूर से ही रोहित को देखा करती थी और दिल ही दिल में उससे प्यार किया करती थी, ये बात उसकी दोस्त जानती थी, एक दिन उसकी दोस्त ने नेहा से कहा की वो अपने दिल का हाल और अपने प्यार का इजहार रोहित से कर दे, लेकिन नेहा की हिम्मत नहीं हो पा रही थी, इसलिए उसकी दोस्त ने उसे बताया की अगर कह नहीं सकती तो लिख कर उसे बता दे, ये बात नेहा को पसंद आ गयी और वो रोहित के कमरे की तरफ बढ़ गयी, उसने रोहित का कमरा खटखटाया तो रोहित ने दरवाजा नहीं खोला, फिर उसने जोर से दरवाजा को पीटना शुरू कर दिया. इस पर रोहित ने दरवाजा खोला तो सामने नेहा को पाया और नेहा के हाथ में एक कागज था,जिसमे लिखा था,”आई लव यू”, जिसे पढ़ कर रोहित को पहले तो गुस्सा आया फिर उसे नेहा को देख कर हँसी आ गयी और उसने नेहा को कहा,पहले जा कर अपने चेहरा आईने में देखो,मतलब साफ़ था की उसने नेहा की बेज्जती कर दी,वहीँ रूम के अंदर ख़ुशी भी थी,जिसने अपना आधा तन छुपाते हुए,नेहा के लिखे पेपर पर हसने लगी, ये बात जब नेहा ने अपनी दोस्त को बताई तो उसकी दोस्त ने रोहित से दुरी बनाये रखने को कहा, उसका कहना था की रोहित का चरित्र अच्छा नहीं है, कपडे की तरह वो लड़कियों को बदलता है,साथ ही साथ उसके कई लड़कियों से शारीरक संबंध भी हैं, इसलिए वो रोहित से दूर ही रहे,लेकिन नेहा का प्यार सच्चा था,इसलिए वो चाह कर भी रोहित को भुला नहीं पा रही थी, कुछ दिनों के बाद नेहा रोहित को दूर से खड़ी  हो कर देख रही थी,तभी रोहित ने अपनी जेब से मोबाइल निकला तो उसके साथ उसका पर्स भी बाहर गिर गया,जिसका पता रोहित को नहीं चला और वो कैंटीन की तरफ बढ़ गया, नेहा ने रोहित का पर्स उठा कर कैंटीन में रोहित को देने चली गयी,जहाँ रोहित नेहा को देख कर गुस्सा हो गया और बोलै क्यों मेरा पीछा करती हो मुझे अकेला छोड़ दो, इस पर नेहा ने पर्स वापस किया,जिसे रोहित ने अनमने रूप से वापस लिया और जाने को बोल दिया , ये सुन कर नेहा रोने लगी और वापस चली गयी, इसके बाबजूद भी नेहा के दिल से रोहित का प्यार काम नहीं हुआ, एक दिन कॉलेज के पास के सड़क पर ख़ुशी ने रोहित को बुलाया,रोहित सड़क की दूसरी तरफ था और ख़ुशी दूसरी तरफ, रोहित सड़क क्रॉस करने लगा तभी उसका मोबाइल गिर गया और वो मोबाइल को लेने के लिए जैसे ही निचे झुका की सामने आती कार ने उसे टक्कर मार दी, और रोहित वहीँ गिर गया,जिसे देख कर ख़ुशी वहां से भाग गयी लेकिन संयोग से नेहा वहीँ कड़ी थी उसने दौड़ते हुए रोहित को उठाया और हॉस्पिटल ले कर गयी, जहाँ रोहित के चेहरे पर कई टांके के निशान थे, उसका चेहरा बिलकुल खराब हो गया था, उसे अपना चेहरा देखना पसंद नहीं था, ना ही उसके पास कोई लड़की थी,की तभी  उसे एक पेपर में, “आई लव यू” दिखा, जिसे लिखने वाली नेहा थी,वो नेहा को देख कर रोने लगा,नेहा ने उसे संभाला,और आज रोहित को सच्चे प्यार प्यार का एहसास हुआ, उसके पास दोनों करीब आ गए.
मैं आशा करता हूँ की आपको ये “a sad love story in hindi” प्रेरक कहानी आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।
इस कहानी का सर्वाधिकार मेरे पास सुरक्छित है। इसे किसी भी प्रकार से कॉपी करना दंडनीय होगा।




loading...
You might also like