Articles Hub

संकल्प-a short article in hindi language on dedication

a short article in hindi language on dedication,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

अक्सर हम सभी अपने जीवन में संकल्प। लेते हैं। यह दीगर बात है कि अधिकांश संकल्पों पर अमल नहीं कर पाते। इसके लिए दृढ इच्छाशक्ति कि आवश्यकता होती है। इसके लिए मन को स्थिर रखना होता है। मन जिस तरफ संकल्प कर लेता है ,साड़ी दुनिया का अस्तित्व ही नया हो जाता है। जिस पर आपका ध्यान केंद्रित होता है वही आपके लिए सत्य होता है। जो दिखाई नहीं पड़ता ,उसे जान लेना ही जीवन का मूल मंत्र है। संकल्प लेने के बाद ही जीवन में गति आती है। हम सभी अलग-अलग दुनिया में बैठे हैं। हमारा संकल्प ही हमारी दुनिया है। एक कवि कि चर्चा करें। वह रात में घर से बाहर निकलता है। उसे चाँद- तारे नज़र आते हैं। वह इस खूबसूरती को अपनी कविता के माध्यम से व्यक्त करता है। एक शातिर चोर भी रात में निकला है। उसे भला चाँद -तारों से क्या लेना-देना। ?उसकी दुनिया में तो मानो चाँद तारे हैं ही नहीं। उसे बंद घर के तारे दिखाई पड़ेंगे ,तिजोरियां दिखाई पड़ेंगी पु सड़कों पर पु लिसवाले दिखाई ,देंगे। सड़क पर भौंकते आवारा कुत्ते दिखाई देंगे। चाँद- तारे उसके संकल्प के बाहर हैं। यानि सब कुछ सिलेक्टेड है। हम जगत से वही चुनते हैं जो हमारा संकल्प चाहता है। एक आदमी अपनी पूरी जिंदगी एक दुनिया में नहीं व्यतीत नहीं करता। वह हज़ारों दुनिया का दीदार करता है। एक बहरा और गंगा व्यक्ति को देखिये। वह अपनी ही दुनिया में होता है। वह अधिक प्रतिकार नहीं करता क्योंकि वह सुनता,बोलता नहीं उसका भी क्या संकल्प होता है छोटे-छोटे बच्चे को देखिये,?वह सागर किनारे छोटेशंख ,रंगीन पत्थर उठा लाएगा पर सौ -हज़ार का नोट नहीं उठाएगा क्योंकि नोट उसकी दुनिया का हिस्सा होता ही नहीं है। पर आप जब सौ,पांच सौ का नोट देखेंगे तो उसे उठा लेंगे। वही नोट आपके लिए सब कुछ हो जाएगा। हम प्रतिपल अपनी दुनिया बदलते रहते हैं। हमारा चिट्टा स्थिर होना चाहिए चित्त बदला तो परिस्थ्तियाँ भी बदल जाती हैं। हम तबतक मनन नहीं कर सकते जबतक हमारा चिट्टा स्थिर नहीं। हम अपने अस्तित्व के लिए हमेशा संघर्ष करते रहते हैं। जीवन बहुत अदभूत है। हमारी मनःस्थिति ही सपनो को साकार या नकारती हैं।
a short article in hindi language on dedication,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
और भी प्रेरक कहना पढ़ना ना भूलें==>
उड़ान-a new hindi inspirational story of the march month
बुद्धि एक अमूल्य धरोहर-three new motivational stories in hindi language
लवंगी-जगन्नाथ-A new hindi story from the the period of shahjhan

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-a short article in hindi language on dedication,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like