ga('send', 'pageview');
Articles Hub

एक छोटी सी प्रेम कहानी-A small love story of a middle class boy in hindi language

एक छोटी सी प्रेम कहानी…..
-A small love story of a middle class boy in hindi language, true love story in hindi in short, true sad love story in hindi language, hindi love story in short love, love story novel in hindi language, romantic love stories in hindi language
सौरभ के पिता ज्यादा पढ़े लिखे नहीं थे,बहुत ही छोटी सी उम्र से व्यवसाय करने के कारण वह पढ़ नहीं पाए और कम उम्र में ही शादी हो गयी, और सौरभ का जन्म भी हो गया,इसलिए वह चाहते थे की सौरभ पढ़े-लिखे, काबिल बने। सौरभ भी इस बात को जनता था इसलिए वह पढ़ाई पर ध्यान देता था,वह पढ़ने में भी तेज था,लेकिन ग्रेजुएशन करने के बाद वह मेडिकल कंपनी में जॉब करने लगा, जबकि उसके पिता चाहते थे की वह और पढ़े, लेकिन उसने पढ़ाई छोड़ दी। इसकी वजह थी उसका प्यार,उसे प्यार हो गया था और प्यार को पाने के लिए वह पढ़ाई छोड़ कमाई पर ध्यान देने लगा। हुआ यूँ की उसने ग्रेजुएशन के लिए कॉलेज में एडमिशन लिया तो वह कॉलेज ना जा कर घर में ही पढ़ाई करता था। वजह था की कॉलेज में क्लास कम और गप्पे ज्यादा होती थी ,इसलिए वह घर में रह कर पढ़ाई करता था। पार्ट वन के परीक्षा के लिए वह फॉर्म भरने जब कॉलेज पहुंचा, तो वह फॉर्म ले कर सब कुछ भर कर जमा करने के लिए काउंटर गया, जहाँ उसने पीछे से एक मीठी सी आवाज,”एक्सक्यूज़ मी” सुनी जिसे सुन कर सौरभ पीछे घुमा तो सामने एक सुन्दर सी लड़की थोड़ा परेशान सी उससे पूछी। फॉर्म कैसे भरना है, बता सकते हैं? सुन कर सौरभ उसे देखता रह गया, फिर सौरभ ने कहा, हाँ -हाँ क्यों नहीं वह अपना फॉर्म जमा करने के बजाय उस लड़की को पास के क्लास रूम में ले जा कर उसका फॉर्म भरवाने लगा, लड़की का नाम सोनी था, वह उसके साथ ही पढ़ती थी, लेकिन कभी क्लास ना करने की वजह से वह कभी सोनी से नहीं मिल पाया, वह सोनी का फॉर्म भरवा कर अपना और उसका दोनों का फॉर्म साथ ले जा कर काउंटर पर जमा कर दिया, सोनी सौरभ से बहुत खुश थी, क्योँकि उसे टेंशन थी की वह फॉर्म कैसे भरेगी, कुछ गलत ना हो जाए, लेकिन सौरभ ने अच्छे से फॉर्म भरवा दिया, उस दिन हिम्मत करके सौरभ ने सोनी का मोबाइल नंबर मांग लिया, सोनी ने भी अपना नंबर दे दिया, फिर सोनी ने भी सौरभ से उसका नंबर माँगा, सौरभ ने भी दे दिया, दोनों परीक्षा के दिन मिलने का प्लान करके अपने अपने घर चले गए, जहाँ कल तक सौरभ परीक्षा के लिए आया डेट थोड़ा सा बढ़ जाए यह सोच रहा था, वहीँ अब वही डेट उसे ज्यादा लग रहा था, वह सोनी के कल का इंतजार कर रहा था, लेकिन सोनी का कल नहीं आया, वह पढ़ाई में जुट गया, वह दिन भी आ गया जिस दिन परीक्षा होने वाली थी, सौरभ जल्दी से कॉलेज पहुँच गया और सोनी का इंतजार करने लगा, सोनी आयी तो वह बहुत खुश हो गया, सोनी को देखते ही उसके दिल में एक अजीब सी हलचल हुई लेकिन वही सोनी को परीक्षा को ले कर टेंशन था, लेकिन सौरभ को कोई टेंशन नहीं थी, क्योंकि वह पूरी तैयारी करके आया था, परीक्षा हॉल में वह जब सवाल देखा तो उसके चेहरे पर मुस्कान आ गयी, क्योंकि उसे सभी सवाल का जवाब मालूम था, उसने लिखना शुरू कर दिया, और सारे सवाल का जवाब उसने दे दिया, फिर क्लास रूम से बाहर निकल कर वह सोनी का इंतजार करने लगा कुछ देर के बाद सोनी निकली तो उसने पूछा की परीक्षा कैसी गयी ? सोनी ने बताया अच्छा गया, सोनी के पूछने पर सौरभ ने बताया की उसका परीक्षा बहुत अच्छा गया, कुछ दिनों के बाद रिजल्ट आया तो सौरभ के बहुत अच्छे अंक आये वही सोनी भी पास कर गयी, अब सौरभ और सोनी दोनों पार्ट टू में पहुँच गए, अब सौरभ और सोनी दोनों रोज कॉलेज आते, जहाँ दोनों बातें किया करते साथ साथ पढ़ते थे, सोनी को जहाँ समस्या आती सौरभ उसे समझता भी,
और भी रोमांटिक प्रेम कहानियां “the love story in hindi” पढ़ना ना भूलें=>
प्यार की जीत-win of love a cute hindi love story of a middle class boy
तुम्हारे लिए-for you a very good light hearted love story in hindi language
प्यार के दो लब्ज़-a new love story of a boy from air force in hindi language
-A small love story of a middle class boy in hindi language, true love story in hindi in short, true sad love story in hindi language, hindi love story in short love, love story novel in hindi language, romantic love stories in hindi language

जिसकी वजह से सोनी सौरभ को पसंद करने लगी, सौरभ तो पहली नजर में ही सोनी को दिल दे बैठा था, इस तरह दूसरा साल भी बीत गया, इस बार सोनी को सौरभ से अच्छे अंक आये, सोनी बहुत खुश थी की सौरभ की वजह से ही उसे अच्छे अंक आये, वहीँ सौरभ थोड़ा सा दुखी था, क्योँकि उसे पहले साल की तुलना में कम अंक मिले थे,खैर, दोनों पार्ट थ्री में आ गए, जहाँ साल खत्म होते होते दोनों ने शादी का प्लान कर लिया, सोनी ने सौरभ से कहा की वह जल्दी से कोई नौकरी ले ले, जिसके बाद वो दोनों शादी कर लेंगे, इसलिए ग्रेजुएशन पास करते ही सौरभ मेडिकल कंपनी में जॉब करने लगा, वह खुश था की अब वह सोनी से शादी कर लेगा, जॉब के चक्कर में वह सोनी से खुश दिन तक बात भी नहीं कर पाया और ना ही सोनी ने कॉल किया, हलाकि वह परेशान था लेकिन वह सोच रहा था की जॉब लगने के बाद वह सोनी के घर जा कर शादी की बात करेगा, इसलिए एक दिन वह सोनी के घर पहुंचा उसके पापा से बात करने के लिए, लेकिन घर पहुँचने के बाद उसे पता चला की ग्रेजुएशन के बाद उसकी शादी हो गयी, और वह ससुराल चली गयी,यह सुन कर सौरभ को बहुत दुःख हुआ, लेकिन वह क्या कर सकता था, इसलिए वह बुझे मन से वापस घर आ गया और जॉब करने लगा, इस तरह उसकी प्रेम कहानी ख़त्म हो गयी..

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-A small love story of a middle class boy in hindi language, true love story in hindi in short, true sad love story in hindi language, hindi love story in short love, love story novel in hindi language, romantic love stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like