ga('send', 'pageview');
Articles Hub

सहमति-Agreement a new sweet and emotional story of two brothers and a girl

सहमति…..
Agreement a new sweet and emotional story of two brothers and a girl, true love story in hindi in short, true sad love story in hindi language, hindi love story in short love, love story novel in hindi language, romantic love stories in hindi language
असफाक और अमहद दोनों भाई थे, असफाक, अहमद से एक साल बड़ा था, लेकिन दोनों में बहुत दोस्ती थी,दोनों भाई दोस्त की तरह रहते थे, लोगो को यह पता भी नहीं चलता था की कौन बड़ा है, कौन छोटा। दोनों इस तरह से आपस में व्यवहार करते थे,जहाँ तक पढ़ाई का मामला था, अहमद, अपने बड़े भाई से पढ़ने में तेज था, इसलिए वह बचपन में ही एक क्लास आगे बढ़ गया और अपने बड़े भाई के साथ क्लास करने लगा, मतलब दोनों भाई एक साथ एक ही क्लास में पढ़ते थे, दोनों के बीच अंडरस्टैंडिंग और बॉण्डिंग भी बहुत गहरी थी, ये नहीं था की दोनों आपस में नहीं लड़ते थे, लेकिन लड़ाई के बाद दोनों फिर एक साथ हो जाया करते थे। इस तरह दोनों साथ पढ़ते हुए कॉलेज में पहुँच गए, जहाँ दोनों भाई ने एक ही सब्जेक्ट में एडमिशन ले लिया, कॉलेज में उनके साथ पढ़ने वाली लड़की जिसका नाम आयशा था, जो दिखने में बहुत सुन्दर थी, और पढ़ने में भी बहुत तेज थी, वह क्लास में हमेशा सबसे पहले जवाब दिया करती थी, क्लास की लड़कियां आयशा को पसंद नहीं करती थी, इसका वजह था की सभी टीचर उसकी काफी तारीफ किया करते थे। क्लास में अहमद, आयशा को अपना कॉम्पिटिटर मानता था, वह आयशा को पीछे छोड़ने के लिए काफी मेहनत करने लगा, और उसका मेहनत रंग भी लायी , क्लास टेस्ट में वह क्लास में अव्वल आया, जबकि आयशा दूसरे नंबर पर आयी, टीचर भी हैरान रह गए, क्योँकि क्लास में हमेशा सबसे पहले जवाब देने वाली लड़की दूसरे नंबर पर आ गयी, जिस दिन रिजल्ट आया, उस दिन आयशा ने अहमद को पहली दफा गौर से देखा, शकल सूरत से साधारण अहमद नंबर वन था, वहीँ अशफ़ाक़ पीछे से नंबर वन बन गया था, अशफ़ाक़ देखने में बहुत ही सुन्दर था, वह गोरा चिट्टा और लम्बा था, लेकिन उसे पढ़ने में बिलकुल मन नहीं लगता था, फिजिकल एक्टिविटी में फिर अशफ़ाक़ नंबर वन था, वह पढ़ाई छोड़ कर किसी भी कॉम्पिटिशन में अव्वल आता था,दोनों भाई आयशा को पसंद करते थे, यह दोनों भाई जानते थे,लेकिन आयशा किसे पसंद करती थी यह दोनों को पता नहीं था। वह पसंद भी करती है या नहीं यह भी दोनों नहीं जानते थे। आयशा के दिल में क्या था यह तो आयशा ही जानती थी। दोनों भाई अपनी तरफ से आयशा को इम्प्रेसेड करने में लगे थे, हलाकि अहमद आयशा की तरफ उतना नहीं देखता था जितना असफाक, वजह भी साफ़ थी, अहमद आयशा को पढ़ाई में टक्कर दे रहा था,एक दिन टीचर ने एक सवाल बनाने को दिया,अहमद ने जल्दी से बना लिया, लेकिन असफाक के कॉपी करने के चक्कर में वह टीचर को जल्दी से नहीं दिखा पाया, जबकि आयशा ने दिखा दिया, यह सब टीचर गौर से देख रहे थे, उन्हें यह बात पता थी की दोनों भाई हैं, कुछ देर के बाद अहमद ने भी अपना जवाब दिखाया तो टीचर ने अहमद से पूछा, तुमने सबसे पहले जवाब बना लिया था, फिर भी लेट क्यों हो गया? अहमद ने कहा, वो जल्दी में जवाब गलत हो गया था इसलिए दोबारा बनाना पड़ा। टीचर ने हँस कर कहा की असफाक को दिखाने के चक्कर में लेट हो गए, अहमद ने इस बात से मना कर दिया, टीचर ने पुरे क्लास में जोर से कहा, भाई हो तो ऐसा ! दोनों भाई की दोस्ती और प्यार को देख कर मैं भी दंग रह गया हूँ, आज पुरे क्लास को पता चला की दोनों अपने भाई हैं,वहीँ आयशा भी सुन कर चकित रह गयी। इस तरह एक साल पुरे हो गए, एक साल पुरे होने के बाद दोनों भाई ने तय किया की आयशा को परपोज़ किया जाए, इसलिए समय मिलने पर दोनों भाई ने एक साथ आयशा को परपोज़ कर दिया,अब आयशा को समझ नहीं आ रहा था की वह क्या करे? उसने वक्त माँगा,
और भी रोमांटिक प्रेम कहानियां “the love story in hindi” पढ़ना ना भूलें=>
ला लोरोना की डरावनी कहानी-A new scary story of La Loarana in hindi language
चाहत-A new short true and cute story of a loyal couple in hindi language
नया प्यार-New Love a sweet new true love story of an indian couple
Agreement a new sweet and emotional story of two brothers and a girl, true love story in hindi in short, true sad love story in hindi language, hindi love story in short love, love story novel in hindi language, romantic love stories in hindi language

आयशा रात भर सोचती रह गयी, हलाकि उसे अहमद पसंद था, लेकिन वह सोच में डूबी हुई थी की किसे हाँ कहे किसे नहीं, असफाक देखने में सुन्दर था, जबकि अहमद पढ़ने में तेज था, क्या करे क्या नहीं, किसे हाँ कहे किसे नहीं, वह पूरी तरह से कन्फ्यूज्ड हो गयी, जिसकी वजह से वह पूरी रात सो नहीं पायी, इधर दोनों भाई रात में आपस में बात करे थे, असफाक, अहमद को बोल रहा था, तुम पढ़ने में तेज हो वह भी पढ़ने में तेज है इसलिए तुम्हे हाँ कहेगी, जबकि अहमद का कहना था की तुम देखने में सुन्दर हो वो भी देखने में सुन्दर है इसलिए वह तुम्हे हाँ कहेगी, लेकिन दोनों ने आपस में सहमति जताई की आयशा जिसे भी हाँ कहे, दोनों भाई के बीच कभी जलन या असंतोष की भावना नहीं आएगी, दोनों पहले की भांति ही अच्छे दोस्त बने रहेंगे,इसी सहमति के साथ और यही बात करते हुए दोनों भाई सो गए, अगली सुबह दोनों भाई का दिल तेजी से धड़क रहा था की आयशा किसे हाँ कहेगी, किसे ना कहेगी, दोनों आयशा के पास पहुंचे उसका जवाब जानने के लिए, आयशा ने सीधे सीधे कह दिया की वह दोनों उसके सिर्फ अच्छे दोस्त हैं, मैंने दोनों को सिर्फ अच्छा दोस्त मानती हो, वह प्यार उसी से करेगी, जिससे उसकी शादी होगी, यह कह वह वहां से चली गयी, साथ ही साथ सोच रही थी की उसकी वजह से उन दोनों के बीच कभी दरार नहीं पड़े…………
मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-Agreement a new sweet and emotional story of two brothers and a girl, true love story in hindi in short, true sad love story in hindi language, hindi love story in short love, love story novel in hindi language, romantic love stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like