Articles Hub

वीर बहादुर की ये दशा-all funny story in hindi

all funny story in hindi

all funny story in hindi,most unbelievable story in hindi,funny but true news in hindi satire news in hindi language, satire news in hindi, hindi satire quotes, faking news hindi, hindi satire quotes, हिंदी में व्यंग्य

हमारा छोटा सा गांव है, जहाँ के लोग सीधे-साधे हैं, गाँव में सुख-सुविधा की भी कमी है, वजह था गाँव को मुख्य सड़क से जोड़ने वाला कोई सड़क ना होना. हलाकि गाँव के लोग बहुत ही डेवलप थे, सबो के पक्का के माकन थे और सबो ने अपने अपने घर में सारी सुविधाएं इक्क्ठा कर ली थी, लेकिन फिर भी सब कुछ धरा का धरा माना जाता था, क्योँकि गाँव से मुख्य सड़क जाने के लिए आपको 5 किलोमीटर कोई सवारी नहीं मिलती और अगर आप मुख्य सड़क पर पहुंच भी गए तो कम से कम 10 किलोमीटर जाने के बाद ही आपको छोटा सा बाजार मिलता. सीधे और साफ़ शबदो में यह कहना उचित होगा की अगर कोई गाँव में बीमार पड़ गया तो हॉस्पिटल पहुंचने तक शायद ही बच पाता. इसलिए भले ही सबो ने पक्का माकन बना लिया हो, सबो ने घर के अंदर सारी सुख सुविधा इक्क्ठा कर ली हो लेकिन कोई रहता नहीं था, ज्यादातर घर में ताले ही मिलते थे. मेरे पड़ोस में ही एक मकान बना हुआ था, जो जोगिन्दर पहलवान का था, हलाकि उनका नाम जोगिन्दर था लेकिन सभी उन्हें पहलवान बुलाते थे, क्योँकि वो शरीर से पूरी तरह से पहलवान ही थे, ऊँचा कद, लम्बी लम्बी भुजाएं और हट्टा-कट्टा शरीर, मतलब देखते ही आप उन्हें पहलवान समझ लेते, और उनके चुस्त-दुरुस्त होने का राज था, वो अपने खेत में खुद मेहनत किया करता थे, काफी मेहनत करने की वजह से ही उनका शरीर ऐसा था, अगर किसी को मार देते तो वह उठ नहीं पाता था. एक बार मैं गांव गया तो मुझे पहलवान जी नजर नहीं आये, मैं उनके घर गया तो पता चला की यह उनका घर था ही नहीं मुझे आस्चर्य हुआ की कल तक जो उनका घर था आज कोई दूसरा रह रहा है, मालूम करने पर पता चला की पहलवान जी के बेटे ने घर बेच दिया, जमीं बेच दिए, अब मुझे आस्चर्य हुआ की आखिर बेटे ने ऐसा क्यों किया,
all funny story in hindi,most unbelievable story in hindi,funny but true news in hindi satire news in hindi language, satire news in hindi, hindi satire quotes, faking news hindi, hindi satire quotes, हिंदी में व्यंग्य
और भी व्यंग्य कहानियां पढ़ें=>
क्या सोनम गुप्ता बेवफा है.
ऑनलाइन मजाक
ये हैं बाबा
फेसबुक ने मारा बिट्टू को
तो पता चला की पहलवान जी नहीं रहे और उनके गुजरने के बाद बेटे ने सब कुछ बेच दिया. अब मेरी यह समझ में नहीं आया की पहलवान जी को आखिर हुआ क्या था, जो उनकी मौत हो गयी. जब गाँव वालो से पूछा तो जान कर आस्चर्य हुआ की, हर दिन की तरह पहलवान जी एक दिन अपने खेत में काम कर रहे थे, तभी एक पारा उनकी बगल वाली खेत में चर रहा था, जिसे पहलवान जी ने एक मिटटी के ढेले से उठा कर मारा, पारा पहलवान जी को घुर कर देखा और फिर चरने लगा, पहलवान जी ने दोबारा एक ढेले को उठा कर पारा को मारा, इस बार पारा पहलवान जी को गुस्से से घूरने लगा, जिसे देख पहलवान जी भी गुस्से से पारा की तरफ देखने लगे और अपनी जंघा पर थाप दिया, पारा का गुस्सा और बढ़ गया और वह गुस्से से पहलवान जी की तरफ तेजी से बढ़ा और पहलवान जी कुछ समझ पाते उससे पहले अपनी सींगो पर पहलवान जी को उठा कर पटक दिया, अब तो पहलवान जी हालत खराब, वो उठ पाते तब तक पारे ने उन्हें दोबारा सींगो पर उठाया और पटक दिया, अब तो पहलवान जी दर्द से कराह उठे, पारा का गुस्सा इससे भी शांत नहीं हुआ उसने पहलवान जी के पेट में सींग दे मारा, फिर क्या था पहलवान जी के पेट से खून की धरा बहने लगी और उनके चीख से कुछ लोग दौड़ कर आये, उन्होंने पारा को भगाया, पारा भाग गया और पहलवान जी का खून बहता देख सभी घबरा गए, अभी प्लान ही बन रहा था की गाँव से मुख्य सड़क तक कैसे जाया जाय की तब तक पहलवान जी ने दम तोड़ दिया, सभी को आस्चर्य यह लग रहा था की जो पहलवान जी के मार खा कर कई के हालत खराब हो जाते थे उस पहलवान जी को पारा ने चंद पालो में जमीं चटा दिया और इतना ही नहीं पहलवान जी के प्राण पखेरू उड़ गए…….

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-all funny story in hindi,most unbelievable story in hindi,funny but true news in hindi satire news in hindi language, satire news in hindi, hindi satire quotes, faking news hindi, hindi satire quotes, हिंदी में व्यंग्य

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like