Articles Hub

राह वही, सोच नई-an inspirational story on new thinking

बीच राह में पड़े पत्थर को ठोकर मारते हुए पराग ने एक गहरी सांस ली… क्या अंतर है इसमें और मेरी स्थिति में? मैं भी इसकी तरह हर किसी की ठोकर खाने पर मजबूर हूं. उसकी आंखों के सम्मुख फिर अपने दफ़्तर के वाकए तैरने लगे, अभी वह पहले सीनियर की दी हुई…

मान अभिमान-A new hindi inspirational story on self respect

अपने बच्चों की प्रशंसा पर कौन खुश नहीं होता. रमा भी इस का अपवाद न थी.ं अपनी दोनों बहुओं की बातें वह बढ़चढ़ कर लोगों को बतातीं. उन की बहुएं हैं ही अच्छी. जैसी सुंदर और सलोनी वैसी ही सुशील व विनम्र भी. एक कानवेंट स्कूल की टीचर है तो दूसरी…

New Three hindi inspirational stories with moral at one place

तपस्वी जाजलि श्रद्धापूर्वक वानप्रस्थ धर्म का पालन करने के बाद खडे़ होकर कठोर तपस्या करने लगे।उन्हें गतिहीन देखकर पक्षियों ने उन्हें कोई वृक्ष समझ लिया और उनकी जटाओं में घोंसले बनाकर अंडे दे दिए। अंडे बढे़ और फूटे, उनसे बच्चे निकले। बच्चे…

अनोखा रिश्ता-A long love story on a strange relationship

मिसेज दास यों तो मेरी कुछ भी नहीं थीं लेकिन मेरे जीवन में उन का स्थान मेरी मां से भी बढ़ कर था. जयशंकर से गले मिल कर जब मैं अपनी सीट पर जा कर बैठा तो देखा मनीषा दास आंचल से अपनी आंखें पोंछे जा रही थीं. उन के पांव छूते समय ही मेरी आंखें नम…

New Three hindi inspirational stories of ancient times

संत अबू हफस हदद बेनागा इबादत करते थे। एक दिन जादूगर के करतबों से आकर्षित होकर उन्होंने उससे जादू सीखने की जिद की। जादूगर ने उनसे पूछा कि क्या वह अल्लाह की इबादत करते हैं। उनके द्वारा हां कहने पर जादूगर बोला, 'देखो जी जादू और इबादत का मेल…

Teen Nayi parernadyaak kahaniyaan sikhsha ke saath

स्वामी विवेकानंद एक बार एक सरोवर के किनारे चले जा रहे थे। वे किसी गंभीर चिंतन में उलझे हुए थे। तभी सामने से बंदरों का झुंड उनकी तरफ बढ़ा। जब वे बंदर थोड़ी ही दूर रह गए थे तब अचानक विवेकानंदजी का ध्यान टूटा और देखा कि लाल मुंह के विशाल और…

three New and great motivational stories in hindi language

जिंदगी में किया गया कोई भी काम या मेहनत कभी बेकार नहीं जाती| हम जितनी मेहनत करते है उसका प्रतिफल हमें किसी न किसी रूप में अवश्य मिलता है, यही सत्य है फर्क केवल इतना है कि कुछ व्यक्ति इस बात पर विश्वास करते है कि “मेहनत कभी बेकार नहीं जाती”…

New Hindi three Motivational stories at one place

प्राचीन ग्रीस में, सुकरात नाम के बहुत ही उच्च ज्ञान रखने वाले सम्माननीय दार्शनिक थे। एक दिन सुकरात का कोई परिचित उनसे मिला और कहा, “आपको पता हैं मेने आपके दोस्त के बारे में क्या सुना हैं? सुकरात ने जवाब दिया, “एक मिनट रुको जरा। इससे पहले…

Three new inspirational stories together in hindi language

एक किसान ने अपनी पत्नी से कहा, “तुम आलसी हो। तुम धीरे-धीरे और सुस्त रूप से काम करती हो। तुम अपना समय ख़राब करती हो। पत्नी अपने पति के ऐसे शब्दों से नाराज हो गई। उसने अपने पति से कह, “आप गलत हो। आप कल घर पर रहो। मैं खेत में जाऊंगी। मैं…

New Hindi Motivational stories for the young audiance

एक समय बात है एक तालाब में बहुत सारे मेंढक रहते थे। सरोवर के बीचों बीच एक बहुत पुराना का खम्भा भी लगा हुआ था। खम्भा बहुत ऊँचा था और उसकी सतह भी चिकनी थी। एक दिन मेंढकों के दिमाग में आया की क्यों ना एक प्रतियोगिता करवाई जाये। इसमें भाग लेने…