ga('send', 'pageview');
Articles Hub

बाज़ीगर-baazigar a new short inspirational story by Anatole France

baazigar a new short inspirational story by Anatole France,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
बाज़ीगर – अनातोले फ्रांस – किंग लुई के जमाने में बार्ना बस नाम का एक गरीब बाज़ीगर रहता था। वह शहर – शहर घूमकर अपना करतब दिखाया करता था। वहा की सार्वजनिक स्थलों पर दरी बिछाकर निठले लोगों के बीच कुछ मन्त्र बुदबुदाकर आकर्षित कर लेता था। वह सिर के बल खड़ा होकर ताम्बे की छह गेंदे को हवा में उछालता और अपने पैरों से गुपच लेता वह अपने शरीर को दोहरा होकर पहिये की शक्ल अख्तियार कर लेता। और बारह छुरियों से अपनी बाज़ीगिरी दिखाता। दर्शक खुश होकर उसे खूब पैसे देते। सर्दी के दिनों में बर्फ से जमी जमीन बाज़ीगर को रास नहीं आती। ऐसे बुरे मौसम में वह भूख और ठण्ड से तड़पता मगर सबकुछ बर्दाश्त कर लेता। उसे यकीन था कि यदि यह लोक खराब है तो दूसरा अच्छा होगा। वह अविवाहित था पर उसने कभी भी पड़ोस या अन्य किसी स्त्री पर बुरी नज़र नहीं डाली। क्योंकि उसका मानना था कि स्त्री बलवान मनुष्यों की शत्रु होती है। वह ईश्वर से डरनेवाला इंसान था। उसने मरने के बाद स्वर्ग की इच्छा को पाले रखा था। एक दिन काफी बारिश हुई वह अपने सामान के साथ किसी खलिहान की तलाश में था। उसने एक भिक्षु को जाते देखा। वह उससे बातचीत करने लगा। तुम हरे कपडे क्यों पहने हुए हो किसी मसखरे की भूमिका निभाने जा रहे हो – भिक्षु ने पूछा। मैं एक बाज़ीगर हूँ अगर रोज मुझे भरपेट खाना मिल जाए, तो इससे अच्छा कोई व्यवसाय नहीं है। पर मैथ सम्बन्धी काम से अच्छा कोई व्यवसाय नहीं है। भिक्षु बाजीगर की सादगी से बहुत प्रभावित हुआ। और उसने उसको अपने मैथ में स्थान देने की पेशकश की और मुक्ति का मार्ग दिखाने का वादा किया। मैथ में कई चित्र थे छह सुनहरी बालों वाली कुमारियाँ भी रहती थी-विनय ,मनीषा ,निवृति ,कौमार्य आदर और आज्ञापालन।
और भी प्रेरक कहना पढ़ना ना भूलें==>
लाल फूल-Red Flower a new short inspirational story written by garnish
एक मज़बूर चोर-story of a thief two new short inspirational stories in hindi language
ऐतिहासिक कथाये-Historic stories two new short stories in hindi language
baazigar a new short inspirational story by Anatole France,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
मैथ में कई कवि भी थे। मठ की भव्यता को देखकर उसे अपनी अज्ञानता पर दुःख हुआ। एक दिन जब वह सुबह उठा तब वह बहुत ही खुश था। बाहर प्रायर दो बूढ़े ब्रदर्स के साथ देखा – वह हौली वर्जिन की प्रतिमा के सामने ताम्बे की चार गेंदों और बारह छुरियों से करतब दिखा रहा था। वह हौली वर्जिन के सम्मान में अपनी सर्वश्रेष्ठ योग्यता का प्रदर्शन कर रहा था। बूढ़े ब्रदर्स को लगे कि वह उपासना गृह की मर्यादा भंग कर रहा है। लेकिन प्रायर जानते कि वह बहुत भोला व्यक्ति है। तीनो बार्नाबास को हटाने के लिए आगे बढे ही थे कि उन्हें वर्जिन ,बेदी से उतरती अपने नीले दुपट्टे से बाज़ीगर के माथे पर बहता पसीना पोंछती दिखाई दी। प्रायर ने फर्श पर सिर नवाते हुए कहा -ह्रदय से पवित्र लोग धन्य है क्योंकि उन्हें ईश्वर के दर्शन होंगे दोनों ब्रदर्स ने स्वर में स्वर मिलाया -‘आमीन ‘

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-baazigar a new short inspirational story by Anatole France,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like