Articles Hub
Browsing Category

MOTIVATIONAL

People are too complicated to have simple labels.

डस्टबिन-a new best motivational story with nice thouhts on dustbin

नीरा ने बाबूजी और मांजी को नाश्ता दिया और टेबल पर बैठकर नवीन की प्रतीक्षा करने लगी. ऑफिस का समय होता जा रहा है और नवीन न जाने किससे बातें करने में लगे हुए हैं. नीरा ने दो-तीन बार आवाज़ भी दी, लेकिन नवीन तो बाहरवाले कमरे में फोन पर ही बातें…

कैनवास-a great inspirational story in hindi language of a lovely family

जीवन में न जाने ऐसे कितने ही प्रश्‍न हैं, जो समझ से परे होते हैं. जिनके उत्तर चाहकर भी इंसान खोज नहीं पाता है. ऐसा ही एक प्रश्‍न उसके मन को अक्सर उद्वेलित करता है कि एक ही घर में पले-बढ़े, एक ही माता-पिता की दो संतानों की तक़दीर में इतना…

प्रहरी-a new and great motivational story with nice thoughts

विभा रसोई में भरवां भिंडी और अरहर की दाल बनाने की तैयारी कर रही थी. भरवां भिंडी उस के बेटे तपन को पसंद थी और अरहर की दाल की शौकीन उस की बहू सुमा थी. इसीलिए सुषमा के लाख मना करने पर भी वह रसोई में आ ही गई. सुषमा और तपन को अपने एक मित्र के…

प्रायश्चित्त-an inspirational story in hindi on realizing the mistake

शिखा की आंखों से नींद कोसों दूर थी. मन में तरहतरह की आशंकाएं घुमड़ रही थीं. उस की बेचैन निगाहें बारबार घड़ी की ओर जा टिकतीं. रात का 1 बज चुका था, कहां रह गए शिशिर? दोपहर में इंदौर से आए फोन ने उसे लगभग चेतना शून्य ही कर दिया था. बड़ी भाभी…

यही है मंजिल-an inspirational story on right and wrong

कुछ पेचीदा काम में फंस गई थी नेहा. हो जाता है कभीकभी. जब से नौकरी में तरक्की हुई है तब से जिम्मेदारी के साथसाथ काम का बोझ भी बढ़ गया है. पहले की तरह 5 बजते ही हाथपैर झाड़, टेबल छोड़ उठना संभव नहीं होता. अब वेतन भी दोगुना हो गया है, काम तो…

ममता की तुला-an amazing inspiration story on love Of Mother

‘‘मां, मैं किस के साथ खेलूं? मुझे भी आप अस्पताल से छोटा सा बच्चा ला दीजिए न. आप तो अपने काम में लगी रहती हैं और मैं अकेलेअकेले खेलता हूं. कृपया ला दीजिए न. मुझे अकेले खेलना अच्छा नहीं लगता है.’’ अपने 4 वर्षीय पुत्र अंचल की यह फरमाइश सुन कर…

मन की पीड़ा-new motivational story of the month with a very good Message

उस दिन भी इतवार था. अब न वह था न उस की मां, न उस के पिता न पंचम की मां और न ही पंचम के पिता. केवल थी तो पंचम. इतवार को कुछ भी बुरा नहीं कहूंगी, जो होना था सो हो गया. न जाने कितने इतवारों को उन का कलेजा बाहर निकलनिकल कर आया होगा. हर इतवार…

पार्टनर-A new hindi inspirational story of a company

आवाज में वही मधुरता, जैसे कुछ हुआ ही नहीं. काम है, करना तो पड़ेगा, कोई लिहाज नहीं है. दुखी हो तो हो जाओ, किसे पड़ी है. बिजनैस देना है तो प्यार से बोलना पड़ेगा. छवि अब भी फोन पर बात करती तो उसी मिठास के साथ कि मानो कुछ हुआ ही नहीं. वैसे कुछ…

एक नई शुरुआत-an amazing inspirational story on new beginning

रोज रोज के ट्रैफिक जाम, नेताओं की रैलियां, वीआईपी मूवमैंट्स और अकसर होने वाले फेयर की वजह से दिल्ली में ट्रैवल करना समस्या बनता जा रहा है. अब अगर आप किसी बड़ी पोस्ट पर हैं तो कार से ट्रैवल करना आप की अनिवार्यता बन जाता है. बड़े शहरों में…

कचरे वाले-an amazing Hindi inspirational story on poor people

मंगलवार की सुबह औफिस के लिए निकलते वक्त पत्नी ने आवाज दी, ‘‘आज जाते समय यह कचरा लेते जाइएगा, 2 दिनों से पड़ेपड़े दुर्गंध दे रहा है.’’ मैं ने नाश्ता करते हुए घड़ी पर नजर डाली, 8 बजने में 10 मिनट बाकी थे. ‘‘ठीक है, मैं देखता हूं,’’ कह कर मैं…