ga('send', 'pageview');
Articles Hub

बदलते रिश्ते-changing relationships a new short hindi language sad love story

बदलते रिश्ते
changing relationships a new short hindi language sad love story, true love story in hindi in short, true sad love story in hindi language, hindi love story in short love, love story novel in hindi language, romantic love stories in hindi language
सोहन के पापा बैंक में मैनेजर थे, उनका ट्रांसफर हुआ करता था, एक बार उनका ट्रांसफर गोरखपुर हुआ,गोरखपुर उसका नानी गांव भी था,इसलिए उसे शिफ्ट करने में कोई समस्या नहीं हुई। उसकी माँ ने सब अरेंजमेंट पहले से ही कर लिया था, उसे एक रिश्तेदार के यहाँ रहने के लिए अच्छा फ्लैट भी मिल गया। सोहन दिल्ली में रहा करता था, लेकिन शिफटिंग के लिए उसे गोरखपुर आना पड़ा, और वह मकान शिफ्ट करके वापस दिल्ली चला गया, जहाँ वह एक कंपनी में काम करता था, सोहन को अपनी मम्मी से बहुत प्यार था, उतना पापा के साथ नहीं था। शायद इसलिए भी क्योँकि उसके पापा बैंक के काम से हमेशा बाहर रहते थे, और वह मम्मी के साथ ज्यादा समय बिताया था, इसलिए वह मम्मी के करीब आ गया था, लेकिन जब से वह दिल्ली में रहने लगा, मम्मी से थोड़ा दुरी हो गया, लेकिन वो कहते हैं ना माँ-बेटा का रिश्ता है, कभी नहीं टूटता। जब वह दिल्ली आया तो उसे आने में करीब 1 सप्ताह लग गया, वापस दिल्ली आने के बाद, उसके साथ काम करने वाली दीपिका ने अचानक से सोहन से अपने प्यार का इजहार कर दिया, यह सुन कर सोहन चौंक गया, हलाकि एक साथ काम करते हुए दोनों करीब आ गए थे, लेकिन सोहन को उम्मीद नहीं थी की दीपिका अचानक से प्यार का इजहार कर देगी। दीपिका ने बताया की उसके ना रहने से ये सात दिनों में उसे एहसास हुआ की वह उससे प्यार करने लगी है, अब वह उसके बिना जीने की कल्पना भी नहीं कर सकती है, जबकि सोहन को ऐसा कुछ एहसास नहीं हुआ, शायद इसका कारण था, इतने दिनों के बाद मम्मी से मिलना, उसका लाड़-दुलार मिलना और साथ ही साथ शिफटिंग का काम,इधर गोरखपुर में उसकी मम्मी का जान पहचान, नए मोहल्ले वालो से तेजी से बढ़ गयी थी और इसकी वजह थी उसकी मम्मी का मायका होना। उसके मायके के लोग रोज मिलने आते थे, तो उसकी मम्मी को मन लग गया। इधर दीपिका ने सोहन से कहा की वह अपने घर वालो से शादी की बात कर ले, सोहन ने कहा, वह अपनी मम्मी से बात कर लेगा, टेंशन नहीं लेने के लिए। इधर गोरखपुर में उसकी मम्मी जिस मोहल्ले में रहती थी, वहां रहते हुए काफी दिन बीत गए, अब रिश्तेदार भी कम ही आते थे, पड़ोस में रहने वालो से सोहन की मम्मी से अच्छा जान पहचान हो गया था, उनके पड़ोस में एक टीचर का परिवार रहा करता था, जिनकी आमदनी बहुत कम थी, ट्यूशन पढ़ा कर वह गुजर बसर कर रहे थे और उनकी पत्नी भी बुटीक का काम करती थी, जिससे घर चल रहा था। सोहन की मम्मी भी अपना कोई कपड़ा सिलवाने का होता था तो उन्ही को देती थी, जिससे उनकी अच्छी जान पहचान हो गयी थी, उसकी एक बेटी थी, जिसका नाम अंजलि था, जो पढ़ाई कर रही थी, उसकी माँ को उसी का टेंशन था की उसकी शादी कहाँ होगी, सोहन की मम्मी ने जब अंजलि से मिला तो उन्हें अंजलि बहुत शालीन लगी, उसका व्यवहार उन्हें बहुत पसंद आया, उन्होंने सोचा सोहन के लिए अंजलि अच्छी जीवन संगिनी बनेगी, इसलिए उन्होंने अंजलि की माँ को अंजलि की शादी के लिए टेंशन नहीं लेने को कहा, उन्होंने उम्मीद जताई की वह अपने बेटे सोहन से अंजलि का शादी करवाएंगी, लेकिन शादी से पहले अंजलि को अच्छे से पढ़ाये, उसे काबिल बनाये, यह सुन कर अंजलि के मम्मी-पापा खुश हो गए, क्योँकि उन्हें सोहन के मम्मी पापा अच्छे व्यवहार और विचार के लगे। इस तरह करीब दो साल बीत गए, और एक रात अचानक सोहन की मम्मी का तबियत खराब हुई , और उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती करना पड़ा, यह बात सोहन को पता चली, वह तुरंत दिल्ली से गोरखपुर पहुँच गया, जहाँ उसने अपनी मम्मी को हॉसिपटल में पाया, वह रोने लगा, क्योँकि उसकी मम्मी का हालत बहुत खराब था, उसकी समझ में नहीं आ रहा था की अचानक यह कैसे हो गया? डॉक्टर से बात करने पर पता चला की उसकी मम्मी को ब्रेन हैमरेज हुआ है, शायद बचने की उम्मीद कम है, यह सुन कर जहाँ एक और सोहन पूरी तरह से टूट गया, वहीँ पापा को देखते ही उसने अपना मनोबल बनाना शुरू कर दिया, उसने सोचा अगर वह टूट जाएगा तो पापा का क्या होगा,
और भी रोमांटिक प्रेम कहानियां “the love story in hindi” पढ़ना ना भूलें=>
नजाकत-delicacy a new short sad love story in hindi language
गलती-mistake a new short love story in hindi language of the time
कसमकस-dilemma a new short hindi language love story about the dilemma of a couple
changing relationships a new short hindi language sad love story, true love story in hindi in short, true sad love story in hindi language, hindi love story in short love, love story novel in hindi language, romantic love stories in hindi language
यह सोच कर उसने अपने आसूं को आँखों में ही रोक लिए,होश आने पर वह मम्मी से मिलने गया , जहाँ अंजलि की मम्मी पापा भी मिलने आये थे,सोहन की मम्मी ने सोहन को कहा, मैंने अंजलि की मम्मी को वचन दिया है की तुम अंजलि से शादी करोगे, यह सुन कर सोहन चौंक गया, क्योँकि उसे यह बात मालूम ही नहीं थी, आज तक उसने अंजलि को कभी देखा भी नहीं था, अब वह और परेशान की वह दीपिका को वचन दे चूका था, अब क्या करे? उसने मम्मी को कहा वह आराम करे, उसे कुछ नहीं होगा, वह जैसा चाहती है वैसा ही होगा, दो दिन हॉस्पिटल में रहने के बाद उसकी मम्मी गुजर गयी। उसने कंपनी में कॉल कर दिया की अब वह जॉब नहीं कर पायेगा, वजह साफ़ था, अब उसकी मम्मी इस दुनिया में नहीं रही, अब उसे पापा को भी संभालना था,उसने दीपिका के बारे में बहुत सोचा, उसकी समझ में नहीं आ रहा था की वह दीपिका को क्या कहेगा?उसे अपनी मम्मी की इक्छा को पूरी करनी थी , उसे अपने प्यार को भुलाना था, उसका दिमाग काम नहीं कर पा रहा था, लेकिन मम्मी का क्रिया कर्म करते करते उसने मन बना लिया था की अब उसे गोरखपुर में ही रहना है, इस सोच के साथ आखिर उसने दीपिका को कॉल किया और कहा की अब वह दिल्ली नहीं आ पायेगा, उसने जॉब भी छोड़ दिया है, अब उसे गोरखपुर में ही रहना है, यह सुन कर दीपिका चौंक गयी, उसने कहा तुमने इतना बड़ा फैसला ले लिया, वह भी मुझसे बिना पूछे, तुम्हे गोरखपुर में ही रहना है तो रहो, मैं दिल्ली छोड़ कर वहां नहीं जाउंगी। यह सुन कर सोहन खुश हो या दुखी यह समझ नहीं आ रहा था, ख़ुशी इस बात की थी की अब वह अपनी मम्मी का इक्छा पूरा कर लेगा, और दुःख इस बात की थी की दीपिका की असलियत उसे पता चल गयी थी। साथ जीने -मरने की कसम खाने वाली लड़की सिर्फ शहर नहीं बदल सकती थी.अब सोहन गोरखपुर में ही रह कर कोई काम शुरू करने का सोचने लगा, उसने दीपिका को भुला कर घर की जिम्मेदारी संभालने में लग गया.

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-changing relationships a new short hindi language sad love story, true love story in hindi in short, true sad love story in hindi language, hindi love story in short love, love story novel in hindi language, romantic love stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like