ga('send', 'pageview');
Articles Hub

बदरंग-colourless a new emotional love story in hindi language

बदरंग…
colourless a new emotional love story in hindi language,true love story in hindi in short,true sad love story in hindi language,hindi love story in short love,love story novel in hindi language,romantic love stories in hindi language
गोपाल आठवीं क्लास में पढता था, वो पढ़ने में बहुत तेज तो नहीं था, लेकिन क्लास में अच्छा जरूर करता था, बात दरसल ये थे की वह जो भी पढता था उसे समझ में आ जाता था, लेकिन वह मन लगा कर पढ़ता ही नहीं था, हमेशा कुछ ना कुछ खुरापात किया करता था. जिससे उसके पेरेंट्स के साथ साथ स्कूल के टीचर भी परेशान रहा करते थे, पढ़ाई के दौरान ही उसके क्लास में एक लड़की ने एडमिशन लिया, जिसका नाम अंजलि था, अंजलि बहुत सुन्दर थी, अंजलि को पहली बार देखते ही, गोपाल उसे दिल दे बैठा, यह पहली बार हुआ था, जिसे देख कर गोपाल का दिल जोर जोर से धकड़ा था, जबकि इससे पहले वह हमेशा बदमाशी में ही लगा रहता था, लेकिन अंजलि को देखते ही वह बिलकुल शांत हो गया था, क्लास में वह किताबे कम और अंजलि को ज्यादा देखा करता था. मालूम नहीं लेकिन अंजलि को देखने के बाद उसके दिल को एक शान्ति सी मिलती थी, उसकी निगाहें अंजलि को ही देखा करती थी, या हूँ कह ले की घुरा करती थी, जबकि अंजलि ने कभी गोपाल की तरफ नहीं देखा, गोपाल चाहता था की अंजलि उसकी तरफ देखे, लेकिन अंजलि थी की उसकी तरफ कभी ध्यान ही नहीं देती थी, इसी तरह एक साल बीत गया, इन एक सालो में गोपाल ने हलाकि इतना कोशिश जरूर किया की अंजलि उसकी तरफ देखना शुरू कर दी, अगली क्लास में उसके क्लास में एक नयी लड़की ने एडमिशन लिया, जिसका नाम शालिनी था,
और भी रोमांटिक प्रेम कहानियां “the love story in hindi” पढ़ना ना भूलें=>
शादी-Marriage a new small love story in hindi language
इजहार-Express a new short love story of a couple about expressing themselves
प्यार या धोखा-love or cheat a new short love story in hindi language About the cheating

वह अंजलि के साथ ही बैठती थी, लंच में जब शालिनी ने गोपाल को देखा तो अचानक से कहा, गोपाल तुम यहाँ, फिर गोपाल को भी याद आया की यह शालिनी है, वो दोनों बचपन में एक साथ खेला करते थे, दोनों पडोसी थे , आज अचानक इतने सालो के बाद दोनों ने काफी देर तक बातें की, यह सभी अंजलि चुप चाप देख रही थी, फिर अंजलि ने शालिनी से पूछा तुम इसे जानती हो, शालिनी ने बताया हम दोनों का बचपन एक साथ ही गुजरा है, हम दोनों बचपन में बहुत शैतानी किया करते थे, अंजलि ने कहा , गोपाल के बारे में तो पता चला है की वह अभी भी शैतानी करता है, शालिनी सुन कर हसने लगी, वहीँ गोपाल का चेहरा देखने लायक था, शाम को छुट्टी होने के बाद एक बार फिर गोपाल और शालिनी बातें करने लगे दोनों एक दूसरे के मम्मी के बारे में पूछा, फिर भाई बहन पापा के बारे में पूछा, दोनों बात करते करते अपने घर की तरफ चले गए,कल हो कर अंजलि ने गोपाल के बारे में शालिनी से पूछा, तो शालिनी ने बताया गोपाल बचपन से शरारती था लेकिन दिल का साफ़ और बहुत अच्छा था , उसका परिवार भी बहुत अच्छा था, हमलोग मिल जल कर रहा करते थे, शाम को शालिनी और गोपाल एक साथ निकले तो शालिनी ने गोपाल को बताया की अंजलि तुम्हारे बारे में बहुत पूछ ताछ कर रही थी क्या बात है ? यह सुन कर गोपाल खुश हो गया, अगले दिन गोपाल ने अपने खून से अंजलि को प्रेम पत्र लिखना शुरू किया, जिसे उसके टीचर ने देख लिया और उसके टीचर ने गोपाल को बहुत मारा, और सभी को पता चल गया की गोपाल अंजलि को प्यार करता है, अब तो यह जान कर अंजलि को बहुत दुःख हुआ और वह गोपाल से बहुत गुस्सा हुई क्योँकि उसकी वजह से उसकी बदनामी हो गयी इसलिए वह अगले दिन स्कूल नहीं गयी, गोपाल को भी बहुत बुरा लगा, जो उसकी जिंदगी कल तक रंगीन थी वह आज बदरंग हो गयी थी…

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-colourless a new emotional love story in hindi language,true love story in hindi in short,true sad love story in hindi language,hindi love story in short love,love story novel in hindi language,romantic love stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like