ga('send', 'pageview');
Articles Hub

बहस-Debate a cute short love story in hindi language

बहस.
Debate a cute short love story in hindi language,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
कभी कभी बहस फायदा भी पहुंचा जाता है, वैसे आम तौर पर सभी बहस से बचना चाहते हैं, लेकिन नवीन को बहस का फायदा मिल गया, बात दरसल ये थे की वह दिल्ली में एक कंपनी में काम करता था, वह किसी से ज्यादा नहीं बोलता था, ना ही किसी से ज्यादा मिलता जुलता था, वह सिर्फ अपने काम से मतलब रखता था। एक दिन वह ऑफिस में काम कर रहा था, तभी उसके साथ काम करने वाले रमेश और पिंकी में किसी बात को ले कर बहस हो गया, और बहस इतना बढ़ गया की उन दोनों की आवाज नवीन के कानो तक आने लगी, जिससे नवीन परेशान होने लगा, आखिर वह अचानक से बोल उठा, क्या बात है जो आपस में लड़ रहे हो, यह सुन कर पिंकी और रमेश दोनों नवीन की तरफ देखने लगे, आज पहली दफा नवीन ने पिंकी को और पिंकी ने नवीन की तरफ गौर से देखा, पिंकी जिस अंदाज में नवीन को देख रही थी, वह अंदाज नवीन को पसंद आया, फिर नवीन ने पूछा क्या बात है? यह बताओ, फिर रमेश और पिंकी ने बात बताई तो नवीन ने बात सुन कर दोनों की समस्या का हल कर दिया , और दोनों का बहस भी बंद हो गया, लेकिन नवीन के बात करने कला तरीका पिंकी को बहुत पसंद आया, और पहली दफा पिंकी ने खुश हो कर नवीन को गले भी लगा लिया, यह सब देख कर नवीन हैरान और परेशान हो गया, उसकी समझ में कुछ नहीं आ रहा था, क्योँकि नवीन को आज तक किसी लड़की ने गले नहीं लगाया था, पिंकी का स्पर्श नवीन काफी देर तक महसूस करता रहा, फिर वह काम में लग गया,
और भी रोमांटिक प्रेम कहानियां “the love story in hindi” पढ़ना ना भूलें=>
जिम्मेदारी-responsibility a new short hindi love story of a young man
नजाकत-delicacy a new short sad love story in hindi language
प्यार या धोखा-love or cheat a new short love story in hindi language About the cheating
Debate a cute short love story in hindi language,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
लेकिन उस दिन के बाद पिंकी को कभी भी कुछ समस्या होती तो वह नवीन के पास आती और नवीन से उस समस्या का समाधान पूछती, नवीन भी उस समस्या का समाधान बताता, जिसकी वजह से दोनों करीब आ गए, नवीन तो बहस वाले ही दिन से पिंकी को पसंद करने लगा था, लेकिन पिंकी ज्यों-ज्यों नवीन के करीब आती गयी , वह नवीन से प्यार करने लगी, कल तक जो पिंकी नवीन को खडूस समझती, आज वही पिंकी नवीन से प्यार करने लगी, पिंकी ही क्या सभी स्टाफ नवीन को यही समझते थे, हलाकि नवीन अपना काम अच्छे तरीके से पूरा करता था. जिसकी वजह से मैनेजमेंट नवीन से खुश था, लेकिन वह अपने साथ काम करने वालो के साथ कभी बात नहीं करता इसलिए सभी उसे खडूस ही समझते थे, खैर अब ऑफिस में नवीन पिंकी के से साथ नजर आने लगा, धीरे धीरे वक्त बीतने के साथ साथ पिंकी और नवीन करीब आते गए और उन दोनों ने शादी भी कर ली,आज शादी के इतने सालो के बाद भी दोनों को वह बहस वाला दिन याद है….

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-Debate a cute short love story in hindi language,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like