Articles Hub

जोश बुढ़ऊ का-funny story in hindi language

funny story in hindi language

funny story in hindi language,most unbelievable story in hindi,funny but true news in hindi satire news in hindi language, satire news in hindi, hindi satire quotes, faking news hindi, hindi satire quotes, हिंदी में व्यंग्य
हम एक से बढ़कर एक Funny Story प्रकाशित करते हैं। पेश है इसी कड़ी में आज हम “जोश बुढ़ऊ का”funny story in hindi language प्रकाशित कर रहे हैं . आशा है आपको ये Story पसंद आएगी
जोश बुढ़ऊ का……..
मेरे ऑफिस में काम करने वाले दयाशंकर जी का उम्र लगभग 60 साल का होगा, लेकिन इस उम्र में भी वो जिंदादिल इंसान है, और उनका जोश देखते ही बनता है, लेकिन कभी कभी जोश में अधिक बोल जाते हैं, कुछ दिनों पहले ही मेरे साथ काम करने वाले अखिल ने मुझे कहा की भाई अब तुम शादी कर लो,दयाशंकर को सुनना था की कह उठे, तुम्हारी उम्र में तो दो-दो शादी कर लिया था, तुमने एक भी नहीं की, वैसे मुझे मालुम था की दयाशंकर की एक ही शादी हुई थी, लेकिन मुझे जरूर सुना दिया की उन्होंने दो दो शादी कर ली थी.ऐसे ही वो ऑफिस में कुछ ना कुछ बोल दिया करता थे. चूँकि उम्र में वो मुझसे बड़े थे इसलिए उन्हें कुछ कहना भी अच्छा नहीं लगता था, इसका मतलब यह नहीं था की उनके जोश जोश में बोलने वाले शब्द मैं नहीं समझ पा रहा था.
एक बार ऑफिस में एक खूबसूरत लड़की किसी काम से आयी, मैं लड़की को देखता ही रह गया मैंने कोशिश की उससे बात करू, यह देख कर दयाशंकर फिर बिच में टपक पड़े, और उन्होंने कहा की इसमें डरने वाली बात क्या है सीधे जा कर लड़की से बात कर लो और बोल दो की, तुम उसे पसंद करते हो, मैं सोच में डूब गया की भला किसी लड़की से डायरेक्ट कैसे बोल दू की मैं उससे प्यार करता हूँ. इस पर दयाशंकर ने बोल की जब वह मेरी उम्र के थे तो डायरेक्ट किसी भी लड़की से बात कर लेते थे, जब मैं सोच ही रहा था की किस तरह उस लड़की से बात करू और क्या बात करू ? तभी मैंने देखा की दयाशंकर उस लड़की से बात करने भी लगे, उस दिन से मैं दयाशंकर जी को ठरकी बुड्ढा बोलने लगा.लेकिन उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता था.

और भी व्यंग्य कहानियां पढ़ें=>
क्या सोनम गुप्ता बेवफा है.
ऑनलाइन मजाक
ये हैं बाबा
फेसबुक ने मारा बिट्टू को
चूँकि मेरा घर ऑफिस ऐसे नजदीक था इसलिए मैं पैदल ही आ जाया करता था, मेरे कलीग ने एक बाइक ले लेने की बात मुझसे कही, दयाशकर जी को सुनना था की उन्होंने फिर एक बार कह दिया की मेरी उम्र में वो 3 बाइक रखते थे, आज भी स्कूटी से ही ऑफिस आते जाते हैं, उनकी बात सुन कर मुझे भी गुस्सा आया और अगले ही दिन मैंने बाइक खरीद ली.जिसे देख कर दयाशंकर जी आस्चर्य से भर गए.
कुछ दिनों से काफी तेज बारिश हो रही थी, और मैं अपनी किस्मत से नाराज चल रहा था क्योँकि बाइक लिया नहीं की बारिश की वजह से पूरा इलाका पूरी तरह से डूब गया,जिसकी वजह से मेरी नयी बाइक एक दम गन्दी हो गयी थी, खैर क्या कर सकते थे,अब मैं रोज अपनी बाइक से ही ऑफिस आता जाता था, चूँकि मुझे सड़क का आयडिया हो चूका था इसलिए मैं सड़क के दाहिने तरफ ही गाडी चलाता था क्योँकि बायीं तरफ बहुत बड़ा नाला बना हुआ था, वैसे लगातार बारिश होने की वजह से नाला का पानी सड़क पर आ गया था, अब बिलकुल भी पता नहीं चलता था की सड़क कहाँ है और नाला कहाँ है. शाम को जब ऑफिस से निकला तो मैंने देखा की दूसरी तरफ से एक गाडी आ रही है, मैं बाइक को खड़ा कर, उस गाडी के पास होने का इंतजार करने लगा, क्योँकि सड़क की दूसरी तरफ काफी गहरा नाला था, मुझे देखा देखि और भी बाइक वाले इंतजार करने लगे, तभी मैंने देखा दया जी अपनी स्कूटी से आ रहे थे, उन्होंने मेरे पास आ कर कहा की रुके क्यों हो अपनी बाइक आगे बढ़ाओ, मैंने कहा गाडी को पास होने देते है.उसके बाद आगे जाएंगे, एक बार फिर दया जी जोश में भर गए, और तेजी से अपना स्कूटी उस पानी में निकालने लगे, तेजी से पानी पास करने के चक्कर में वो साइड चले गए और जोर के आवाज के साथ स्कूटी समेत वो नाला में गिर गए.उस दिन से ले कर दया जी कभी कुछ नहीं बोलते, क्योँकि उनके बोलते हैं सभी बोलते थे की एक बार फिर नाला में गिर जाइये, और सुनते ही दयाशंकर जी चुप हो जाते अब उनका जोश उन पर ही भारी पड़ गया…….
मैं आशा करता हूँ की आपको ये Story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।
Tags-funny story in hindi language,most unbelievable story in hindi,funny but true news in hindi satire news in hindi language, satire news in hindi, hindi satire quotes, faking news hindi, hindi satire quotes, हिंदी में व्यंग्य

loading...
You might also like