Articles Hub

गलत रिश्ते से बाहर कैसे निकले-Hindi story on wrong relationship

Hindi story on wrong relationship,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
किसी-न-किसी दिन तो यह होना ही था. ऐसा बहुत दिन तक नहीं चलने वाला था. सहन भी कितना करू. एक हद होती है, एक सीमा होती है सहन करने की. और वह सीमा पार हो चूका था. अच्छा किया, बहुत अच्छा किया. ऐसे रिश्ते से बहार आकर बहुत ही अच्छा किया. और अब नहीं निभा सकता था ये रिश्ता.
शाम का समय था. मैं अभी भी पार्क में बैठ था. पार्क के एक कोने में थोड़ी सी जगह पड़ी थी. जहाँ कोई आता-जाता नहीं था. मैं वही बैठा सोच रहा था आखो से आसू निकलते और फिर खुद ही सुख जाते. मैंने अपने मन को काबू करने की कोशिश कर रहा था. मगर मन बार-बार अपने बिताये पल और उन पलो में जा रहा था जो हमने साथ बिताये थे. आखो में एक तस्वीर उभर कर आ जाती और उतनी ही तेजी से आखो से आसू भी निकल पड़ते.
आज मैं खुद उस से रिश्ता तोड़ के आया, खुद ही. एक ऐसा रिश्ता, जो रिश्ता नही बोझ हो गया था. एक ऐसा रिश्ता जिसमे फिल्लिंग्स नहीं थी. मुझे इतने आसू रोज मिलते थे. और इस आसू का कोई एहसास नहीं था उनके पास. इतने सालो के हमारे रिश्ते में मुझे आज भी अपनापन का एहसास नहीं था.
उसका बार-बार गलती करना और मेरा बार-बार माफ़ कर देना. यही चलता रहा. कितने बार ही उसे समझाया होगा की ‘क्या चाहिए तुझे किसी और से? ‘प्यार’. मैं हूँ न प्यार करने के लिए. क्यों तुमको किसी और का जरूरत पड़ रहा है. एक लड़का तुम्हारे लिए आसू बहा सकता है यानि उसको दुनिया में सबसे जयादा तुमको प्यार करता है. मगर उनके पास इन सब का कोई असर नहीं था.
Hindi story on wrong relationship,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
और भी रोमांटिक प्रेम कहानियां “the love story in hindi” पढ़ना ना भूलें=>
क्या ये प्यार है
एक सच्चे प्यार की कहानी
कुछ इस कदर दिल की कशिश
प्यार में सब कुछ जायज है.
मगर आज मैं इस सब बातो को झूठा साबित रहा हूँ. मैंने अपना आसू पोछ लिया अब नहीं बहाने है ये आसू. वह इस आसू के काबिल नहीं है. और न ही इस प्यार के. आज मैं कोई कसम नहीं खाऊंगा call नहीं करने के लिए. आज कोई वादा नहीं, उसको message नहीं करने का. फिर भी वादा है कभी न उस से मिलने का, कभी न उस से बात करने का. उसको मेरा जरूरत पड़ेगा, मेरे ईमानदारी का उसको जरूरत पड़ेगा. सत्य हार जाये तो वह असत्य नहीं बन जाता है. मैं सत्य हूँ मेरा प्यार सत्य है और वह असत्य.
मैं वहाँ से खड़ा हुआ और चलने लगा. चारो तरफ अँधेरा हो गया. मेरे आसू खत्म हो चुके थे मन में एक उल्लास भर आया था. मैं तेज कदमो से मुस्कुराते हुए अपने घर जा रहा था.
मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-Hindi story on wrong relationship, true love story in hindi in short, true sad love story in hindi language, hindi love story in short love, love story novel in hindi language, romantic love stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like