Articles Hub

एक खौफनाक आकृति का डरावना रहस्य-horror place story in hindi

horror place story in hindi, latest horror story in hindi language, horror story original hindi,horror story in hindi read,bhayanak horror story, latest horror story in hindi, short spirit story in hindi,best horror story in hindi, scary story in hindi language, ghost in hindi, भूत की कहानी
हम एक से बढ़कर एक डरावनी कहानियां प्रकाशित करते हैं। पेश है इसी कड़ी में आज हम “एक खौफनाक आकृति का डरावना रहस्य” horror place story in hindi प्रकाशित कर रहे हैं.आशा है आपको ये कहानी पसंद आएगी.

रोकिंग हॉर्स

एक रात, जब मैं शायद 10-12 साल का था, मुझे सोने में परेशानी हो रही थी। मेरा बैडरूम हमारे घर की सबसे ऊपरी मंजिल पर था और वहां रूम में बेड के बाएं तरफ क्लोसेट और दाएं क्षेत्र में खेलने की जगह थी। मैं बिस्तर पर लेटा हुआ था जब मैंने कमरे के दूसरी तरफ से शोर सुना और देखा कि अचानक मेरे रोकिंग हॉर्स खिलौने ने हिलना शुरू कर दिया। पहले यह रूम में राखी क्लोसेट के दरवाजे के पास ही रखा था। लेकिन यह हितले हिलते कमरे के बीच जगह तक आ गया और छत की सीलिंग से आने वाली रौशनी के बीच रुक गया। मैं यह देख कर घबरा सा गया और बस अपने कंबल के अंदर अपना सर छुपा कर सो गया और सुबह तक एक बार भी कम्बल से बाहर नहीं देखा।

यह सब एक सपना नहीं था क्योंकि जब मैं जागा तब भी रोकिंग हॉर्स मेरे कमरे के बीच में था। इसके अलावा, मुझे अपने माता-पिता से अपने सोने के समय से पहले अपने खिलौनों के साथ खेलने के लिए डाँट खानी पड़ी जबकि मैंने ऐसा कुछ नहीं किया था। उनका बैडरूम सीधे क्लोसेट / प्लेग्राउंड से नीचे था और उन्होंने कमरे में रोकिंग हॉर्स की क्रैकिंग को सुना था।

परछाई

मैं लागुना बीच के एक घर में रह रहा था जो 1920 के दशक से वहां था। इसके इतिहास में, यह कहा जाता है कि यह एक वेश्यालय और अवैध आप्रवासियों की तस्करी के लिए एक घर रहा था।

एक दिन मेरे और मेरी पत्नी के बीच थोड़ी कहासुनी हो गयी थी | वह कॉफ़ी के साथ शांत होने के लिए थोड़ा बाहर चली गयी और मैं घर में अकेला था | जिस तरह से यह जगह बनाई गई थी वह अविश्वसनीय रूप से खतरनाक थी। एक तरफ एक बैडरूम और रहने का कमरा था, फिर दो प्रवेश द्वार वाला बाथरूम था। बाथरूम के दूसरी तरफ एक हॉलवे था जिसमें एक तरफ खिड़कियां थीं और दूसरी तरफ दो बेडरूम थे। मेरे बैडरूम से, मैं हॉल में बाथरूम में, फिर बाथरूम के माध्यम से और दूसरे हॉल के नीचे देख सकता था। मैं अपने ड्रेसर पर खड़ा था, मैंने निचे कोई आवाज सुनी और वहां देखा तो मुझे एक काली सी छाया दिखी | यह शायद तीन फ़ीट लम्बी थी और थोड़ी धुंधली थी | यह काले अजीबोगरीब आकृति की तरह लग रहा था, जैसे किसी मानव आकार का था | पर यह किसने बनाया होगा ? मुझे याद है वहां अब कोई आवाज नहीं हुई थी | जब मैं उसे देख रहा था तब मैं बिलकुल भी डरा हुआ नहीं था | लेकिन मुझे ऐसा लगा कि वह मुझे देख रहा था और मैंने देखा कि वह चारो ओर घूमने लगा | उसका ध्यान मुझ पर केंद्रित था, मैं बहुत बुरी तरह से डर गया था | मैं वहाँ से ज़रा भी नहीं हिला और न ही चिल्लाया | मैं जैसे जम सा गया था | यह मेरे पास आया और फिर हॉल की तरह जाने लगा | मुझे नहीं पता उसका इरादा क्या था लेकिन जैसे ही वह बाथरूम की तरफ गया, मेरे पास वाले क्लोसेट का दरवाजा बहुत ज़ोरो से बंद हुआ | मैं बहुत ज़ोर से चिल्लाया और मैंने अपनी पत्नी को पुकारा | लेकिन वह घर में नहीं थी | मैं घर से बाहर रौशनी में चला गया और जब तक वापस नहीं आया जब तक कि मेरी पत्नी घर वापस नहीं आ गयी |

मैं भूत में विश्वास नहीं करता हूँ। मुझे विश्वास नहीं है कि मैंने कुछ अलौकिक देखा है, लेकिन मुझे पता है कि मैंने कुछ देखा है। मुझे नहीं पता कि यह क्या था।

मैं आशा करता हूँ की आपको ये कहानी “horror place story in hindi ” आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें

और भी डरावनी कहानियां पढ़ना ना भूलें==>
चुड़ैल लड़की ने इंसानों को बनाया शिकार
उड़ती हुई शैतानी खोपड़ी का डरावना रहस्य
खुनी चुड़ैल और गर्ल्स हॉस्टल का आतंक

Tags-horror place story in hindi, latest horror story in hindi language, horror story original hindi,horror story in hindi read,bhayanak horror story, latest horror story in hindi, short spirit story in hindi,best horror story in hindi, scary story in hindi language, ghost in hindi, भूत की कहानी

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like