Articles Hub

information technology news in hindi-अगर आपको है डर आधार के गलत इस्तेमाल होने का तो इसे ज़रूर पढ़ें

information technology news in hindi

information technology news in hindi, Aadhar card, technical news in hindi, aadhar news in hindi, aadhar card features, adhar card app, online aadhar card, technical news of aadharदेसिकहानियाँ में हम हर दिन एक से बढ़कर एक अजब गजब कहानी व लेख प्रकाशित करते हैं। इसी कड़ी में हम आज ” information technology news in hindi” प्रकाशित कर रहे हैं। आशा है ये आपको अच्छी लगेगी।
लेखक – माही

आधार कार्ड नंबर की सुरक्षा को लेकर सभी आजकल परेशान रहते हैं क्योंकि आधार कार्ड का इस्तेमाल आजकल हर छोटे बड़े काम के लिए होता है | इस तरह इसका गलत प्रयोग हो जाने कि भी आशंका होती है | कुछ समय पहले ही मीडिआ में खबर आयी थी कि लोग बायोमैट्रिक्स डेटा के दुरुपयोग और निजी जानकारी में गलत आधार कार्ड का इस्तेमाल कर रहे हैं | इसी को ध्यान में रखते हुए भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने ‘वर्चुअल आईडी’ पेश किया है।

सूत्रों के अनुसार पता चला है की कोई भी आधार कार्ड धारक प्राधिकरण की वेबसाइट के द्वारा कभी भी अपनी वर्चुअल आईडी प्राप्त कर सकता है | इस क्रिया के द्वारा कोई भी आधार धारक व्यक्ति बिना आधार नंबर बताये सिमकार्ड के आधार लिंक करने के साथ साथ और भी कार्य सम्पूर्ण किये जा सकते है | इस प्रक्रिया को 1 मार्च 2018 के बाद मान्य किया जायेगा | निजी जानकारी के सत्यापन के लिए सभी एजेंसियों के लिए वर्चुअल आईडी को मान्य करना 1 जून 2018 के बाद शुरू किया जायेगा | बताया जा रहा है की इस प्रक्रिया को पूरी तरह से लागू करने में अभी समय लग सकता है | तब तक आप इन उपायों को अपनाकर अपने आधार कार्ड नंबर और डाटा को सुरक्षित कर सकते है |

आधार ऑथेंटिकेशन की हिस्ट्री द्वारा
अगर आपको अपने आधार नंबर के दुरुपयोग होने का दर है तो आप यह जानने की कोशिश करे की आपके आधार का प्रयोग कब कब किया गया है | इसके लिए आपको UIDAI के आधार ऑथेंटिकेशन हिस्ट्री पेज पर जाना होगा | इसके बाद आपको अपना आधार कार्ड नंबर डालना होगा और इस के साथ ही आपको दिए गए कैपचा कोड को भी डालना होगा | इसके बाद Generate OTP के विकल्प पर क्लिक करना होगा | आप OTP अपने फ़ोन पर SMS के ज़रिये प्राप्त कर पाएंगे | इसके बाद नेक्स्ट पेज ओपन होने पर UIDAI की तरफ से आपको अलग अलग ऑथेंटिक रिक्वेस्ट को फ़िल्टर करने की सुविधा मिलेगी | आप बायोमैट्रिक, डेमोग्राफिक और अन्य किसी भी तरीके से फिल्टर लगा सकते हैं। यहाँ पर आप इसे किसी भी तारीख को चेक कर सकते हैं पर इसकी अवधि ६ महीना ही होती है | लास्ट फील्ड OTP होगा, बस OTP डाले और सबमिट कर दे | इसके बाद आप आधार ऑथेंटिक रिक्वेस्ट का पूरा ब्यौरा देख सकते है | आपका आधार कब, किस वक़्त बल्कि किस जगह ऑथेंटिकेट हुआ है, इसकी सारी डिटेल्स आपको मिल जाएँगी | लेकिन आप यह नै जान सकते कि आपके आधार डाटा का प्रयोग किस कंपनी या एजेन्सी के लिए हुआ है |

आधार बायोमैट्रिक डेटा को ऑनलाइन लॉक करें
लोगो ने काफी बार अआधार बायोमेट्रिक औथेंटिकेशन के दुरुपयोग होने का इलज़ाम लगाया है | काफी सारे ऐसे लोग भी है जिन्होंने तो अपने आधार कार्ड का आज तक इस्तेमाल भी नहीं किया है लेकिन इसके बावजूद भी उन लोगो को UIDAI से सूचना प्राप्त हुई है कि उनका आधार डाटा को बायोमैट्रिक ऑथेंटिकेशन से प्राप्त किया गया है | इस परिस्थिति से बचने के लिए आपको UIDAI के सर्वर पर जाकर बायोमैट्रिक इंफॉर्मेशन को लॉक करना होगा | अगर आप इसे इस्तेमाल में लाना चाहते है तो कवी भी इसे अनलॉक कर सकते है | यह कार्य आपको खुद ही करना होगा |

आधार डाटा किसी से शेयर न करें
अगर आपको नहीं पता तो हम आपको बताना चाहेंगे कि आधार नंबर या इससे जुडी कोई भी निजी जानकारी कोई भी सरकारी संस्था या बैंक वगेहरा फोएन या ईमेल के ज़रिये नहीं पूछती है | अगर आपके पास ऐसा कोई भी फ़ोन या ईमेल आता है तो अपने आधार नंबर से जुडी कोई जानकारी कदापि न दे | हर जगह आधार कार्ड कि फोटोटकॉपी न ले जाएँ | अगर आपको आधार की ज्यादा ज़रूरत पड़ती है तो आप अपने फ़ोन में एमआधार आप्लिकेशन डाउनलोड करे और जब चाहे तब आधार कॉपी दौनोएड कर लें |

information technology news in hindi, Aadhar card, technical news in hindi, aadhar news in hindi, aadhar card features, adhar card app, online aadhar card, technical news of aadharमैं आशा करता हूँ की आपको ये “information technology news in hindi” कहानी आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें। इस कहानी का सर्वाधिकार मेरे पास सुरक्छित है। इसे किसी भी प्रकार से कॉपी करना दंडनीय होगा।

information technology news in hindi

loading...
You might also like