ga('send', 'pageview');
Articles Hub

अजब प्यार की गजब कहानी- love story in hindi short

love story in hindi short

love story in hindi short,i too had a love story in hindi,one sided love story in hindi, a love story in hindi, love story in hindi sad, love story in hindi heart touching, love story in hindi real, true love story in hindi sad love story in hindi romantic, novel of love story in hindi

हम एक से बढ़कर एक प्रेम कहानियां प्रकाशित करते हैं। पेश है इसी कड़ी में आज हम “अजब प्यार की गजब कहानी” love story in hindi short
सुभाष बनर्जी कोलकत्ता में अपने परिवार मतलब माता-पिता, 2 छोटी बहन और 2 छोटे भाई के साथ रहते थे. भाई-बहन में सबसे बड़े होने की वजह से पापा के बाद सारी जिम्मेदारी इन्ही के कंधे पर आ गयी थी. सुभाष जी पढ़ने में ठीक-ठाक थे.कॉलेज में पढ़ने के साथ साथ घर के खर्च में पापा का हाथ बटाने के लिए वो प्राइवेट टूशन भी किया करते थे. कॉलेज में उन्ही के साथ पढ़ने वाली लड़की सुगाता मुखर्जी के वो बहुत करीब आ गए थे. लेकिन घर की जिम्मेद्दारी की वजह से वो सुगाता से अपन प्यार का इजहार नहीं कर पा रहे थे, वहीँ सुगाता को मालूम था की सुभाष जी उनसे प्यार करते हैं, लेकिन भला लड़की हो कर वो कैसे अपने प्यार का इजहार करती. मतलब साफ़ था की दोनों के दिल में एक दूसरे के लिए प्यार था, लेकिन दोनों एक दूसरे को इजहार नहीं कर पा रहे थे. वजह भी साफ़ था. देखते ही देखते कॉलेज खत्म हो गया और सुगाता के पेरेंट्स ने सुगाता की शादी दूसरे से कर दी. इधर सुभाष जी अकेले हो गए. खैर, कॉलेज खत्म होने के बाद उन्होंने मेडिकल की पढ़ाई की और वो डॉक्टर बन गए. तब तक सुभाष जी के पिता भी चल बसे. धीरे-धीरे उन्होंने अपने सभी भाई बहन को पढ़ाया और बहनो की भी अच्छे जगह शादी कर दी. उसके बाद सुभाष जी ने भी कोलकत्ता में शादी कर ली. परिवार बढ़ने के साथ साथ घर की जिम्मेद्दारी निभाते निभाते वो सुगाता को भूल गए. अब उनके लिए उनकी पत्नी और बच्चे ही सब कुछ हो गए. उन्होंने अपने बच्चो को भी अच्छे पढ़ाया, उनको एक बेटा और एक बेटी थी.उनका बेटा भी डॉक्टर बन गया, जो अमेरिका के न्यूयोर्क सिटी में रहता था, उन्होंने उसकी भी शादी कर दी, अब उनका बेटा और उसकी बीवी तथा उनके बच्चे वही शिफ्ट कर गए. सुभाष जी अपनी बेटी की शादी भी डॉक्टर से ही किये.उनका दामाद भी फ़्रांस में रहता था. मतलब बेटा डॉक्टर जो अमरीका में शिफ्ट था . और दामाद डॉक्टर जो फ़्रांस में शिफ्ट था. दोनों विदेश में ही रहते थे. अब सुभाष जी भी रिटायर्ड कर गए थे. लेकिन वो कहते हैं ना, सब कुछ होते हए भी कुछ नहीं होना, यही शायद सुभाष जी की किस्मत में था. रिटयर्ड होते ही उनकी पत्नी ने उनका साथ छोड़ दिया. एक बार फिर वो अकेले रह गए. हलाकि अकेले वो क्या करते, इसलिए उन्होंने पास के ही एक प्राइवेट क्लिनिक में प्रक्टिक्स करने लगे. दिन गुजरते चला गया. कभी कभी बेटा तो कभी बेटी मिलने सुभाष जी से चला आया करते थे. एक बार बेटा ने काफी जिद किया की वो उनके साथ अमेरिका चले. बेटा के कहने पर वो साथ चले गए. लेकिन वहां भी उन्हें अकेलापन लगने लगा. कोलकत्ता में तो क्लिनिक चले जाते थे, यहाँ क्या करते? एक शाम वो पास के पार्क में बैठे हुए थे, तभी उनकी बगल में एक बुजुर्ग महिला आयी, साडी पहने हुए महिला को देख कर सुभाष जी को लगा वह महिला भारतीय है. दोनों में बात चीत शुरू ही हुई की दोनों एक दूसरे को पहचान गए. वो महिला कोई और नहीं बल्कि सुगाता थी. इतने सालो के बाद अचानक अपने देश से इतना दूर सुभाष जी को अपने आँखों पर यकीं नहीं हो रहा था की सुगाता मिलेगी. दोनों ने अपनी अपनी बातें शेयर की. सुगाता ने बताया की उसका बेटा यहीं रहता है. उसके पति की मृत्यु हो चुकी है . फिर दोनों पुराने ख्यालो में खो गए. अब हर शाम को दोनों पार्क में मिलने लगे. लेकिन सुभाष जी वापस भारत लौटना था सो वो लौट गए. लेकिन अब दोनों के बीच रात में व्हाट्स एप्प पर तो वीडियो कॉलिंग पर बात होने लगी. सुगाता जब भी भरता आती उनसे जरूर मिलती, और हर साल सुभाष जी भी अमेरिका जाने लगे और सुगाता से मिलने लगे. इस तरह एक बार फिर दोनों का प्यार परवान चढ़ने लगा.

और भी रोमांटिक प्रेम कहानियां “the love story in hindi” पढ़ना ना भूलें=>
पहली नजर में हुआ एक खुबसुरत आंटी से प्यार
टियुशन टीचर की बहन की लड़की से हुआ जबरदस्त प्यार
कॉलेज के प्यार ने बर्बाद कर दी मेरी जिन्दगी

मैं आशा करता हूँ की आपको ये “love story in hindi short” अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-love story in hindi short,i too had a love story in hindi,one sided love story in hindi, a love story in hindi, love story in hindi sad, love story in hindi heart touching, love story in hindi real, true love story in hindi sad love story in hindi romantic, novel of love story in hindi

love story in hindi short

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like