Articles Hub

जब सामने आया अधूरा प्यार, हो गई शादी-love story kahani hindi m

love story kahani hindi m

a real life romantic love story in hindi,best story in hindi,love story in short love,love story novel in hindi language,romantic love stories in hindi
देसिकहानियाँ में हम हर दिन एक से बढ़कर एक अजब गजब प्यार की कहानी प्रकाशित करते हैं। इसी कड़ी में हम आज “love story kahani hindi m ” प्रकाशित कर रहे हैं। आशा है ये आपको अच्छी लगेगी।

उस दिन ट्रेन में बहुत ज्यादा भीड़ थी. एक तो शादियों का सीजन चल रहा था उपर से चुनाव की
रैलियां भी थीं. शायद इस वजह से भीड़ रही होगी. हम तो रोज चलने वाले थे. जैसे तैसे मुझे सीट
मिल गई थी. मैं आराम से बैठा हुआ था. भीड़ इतना ज्यादा थी कि समझ में नहीं आरहा था कि
सामने वाली सीट में कौन बैठा है. शोर भी खूब हो रहा था, उस शोर को चीरते हुए एक जानी
पहचानी सी आवाज मेरे कानों पर पड़ रही थी. पहले मुझे लगा कि ये आवाज सुमन की जैसी है,
लेकिन सुमन की तो शादी हो चुकी थी और वो अपने पति के साथ विदेश में रहती थी. दरअसल
सुमन मेरे पड़ोस में रहती थी और मैं उससे बेहद एक प्यार किया करता था. शायद मेरा प्यार
एकतरफा था, क्योंकि वो मुझे कभी भी उस नजर ने नहीं देखती थी. बचपन में हम दोनों एक साथ
घूमते साथ में स्कूल जाते खेलते, फिर जब बड़े हुए तो कालेज भी साथ जाते थे.

एक दिन मैं उससे अपने प्यार का इजहार करने वाला था, मेरी किस्मत इतनी ज्यादा ख़राब थी कि
उसी दिन उसकी शादी तैय हो गई थी. लेकिन भगवान की बदौलत मेरा प्रेम पत्र सुमन तक पहुँच
गया था. मेरे प्रेम पत्र ने मेरी सालों को दोस्ती को एक झटक में खत्म कर दी, सुमन मेरे से नाराज
हो गई, उस दिन मैं सुमन से आखरी बार मिला था, लेकिन दिन में उसकी यादें लिए हुए जिन्दगी
जीने लगा, सुमन शादी करके चली गई. उस दिन से आजतक सिर्फ उसकी यादों के सहारे जी रहा हूँ.

और भी love story kahani hindi m के लिए लिंक्स पर क्लिक करें
1.वो पीली छतरी वाली लड़की
2.मोहब्बत का सफर
3.उसकी आँखों ने कुछ कहना चाहा
4.वो कॉलेज का प्यार
5.प्यार भरा सपना
6.प्यार की राहों में कांटे

ट्रेन में अब भीड़ कम होने लगी, तभी मुझे सामने वाली सीट में सुमन की हलकी सी झलक दिखाई
दी. मेरी तो सांसे जैसे थम सी गईं हों. सच में वो सुमन ही थी. कई सालों के बाद आपका प्यार
आचानक से आपके सामने आ जाये तो कैसा लगेगा, मेरे पास इसको बयान करने के लिए शब्द ही
नहीं है. सुमन का चहरा अब पहले जैसा मुस्कुराता हुआ नहीं दिख रहा था, अब चिंता, परेशानी उसके
चहरे पर साफ़ दिख रही थी. जब सुमन की नजर मेरे उपर पड़ी तो सुमन के चहरे पर एक छोटी सी
मुस्कान नजर आई, इसके बाद सुमन मुझसे बातें करने लगी. कुछ बातें उसने अपने बारें में बताई तो
कुछ मेरे बारें में पूंछी. जब मैंने उसके पति के बारे में पूंछा तो पहले वो कुछ देर के लिए चुप हो
गई, लेकिन बाद में बोला कि हमारा शादी के 3 महीनों के अंदर ही तालाक हो गया था. मुझे ये
सुनकर बहुत खराब लगा. इसके बाद हमारा स्टेशन आ गया, हम घर आ गए, लेकिन भगवान् हम दोनों को रोज मिलवाने लगा. अब हम दोनों घंटों एक दुसरे के साथ समय बिताने लगे, एक दिन मुझे 2 दिन के लिए दुसरे शहर जाना था, जाने से पहले मैंने फिर से सुमन से शादी करने के लिए कह दिया, और दो दिन में
फैसला करने का समय दे दिया. पहले तो सुमन की तरफ से कोई जवाब नहीं आया, लेकिन अगले
दिन ही उसका “हाँ” का मेसेज आ गया. अब हम दोनों ख़ुशी-ख़ुशी साथ में रहते हैं.

मैं आशा करता हूँ की आपको ये ” love story kahani hindi m” कहानी आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें। इस कहानी का सर्वाधिकार मेरे पास सुरक्छित है। इसे किसी भी प्रकार से कॉपी करना दंडनीय होगा।

love story kahani hindi m

Tags-a real life romantic love story in hindi,best story in hindi,love story in short love,love story novel in hindi language,romantic love stories in hindi

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like