ga('send', 'pageview');
Articles Hub

गलतफहमी-Misunderstanding a new short love story with emotional touch

गलतफहमी.
Misunderstanding a new short love story with emotional touch, true love story in hindi in short, true sad love story in hindi language, hindi love story in short love, love story novel in hindi language, romantic love stories in hindi language
एम० सी० ए० की पढ़ाई पढ़ने के दौरान, अमित और अनिल अच्छे दोस्त बन गए, हालाँकि दोनों के बीच हमेशा पहले तनाव बना रहता था , इसका कारण था की अमित खुले स्व्भाव का था, वह सभी से अच्छे से बात किया करता था, और जल्द ही सभी का चहेता भी बन गया था, क्लास के दौरान भी और क्लास के बाद भी सभी टीचर से वह अच्छे से बात किया करता था, सभी टीचर भी उसे मानते थे, लेकिन अनिल शुरू शुरू में किसी से खुल नहीं पाया था वह अपने तक सिमित रहता था, जिसकी वजह से अनिल की तरफ कोई ज्यादा ध्यान भी नहीं देते थे, इसका मलाल उसे हमेशा रहता था, इसलिए अनिल, अमित से जलता भी था, लेकिन जब एक बार क्लास में अमित ने अनिल का सपोर्ट किया तो अनिल अमित के करीब आ गया, उसे भी मैट का स्वभाव उस दिन समझ में आया, क्योँकि उस दिन सिर्फ अमित ही था जो अनिल का सपोर्ट किया था, उसी दिन से अनिल और अमित में बात चीत हुई और दोनों अच्छे दोस्त बन गए, उन्ही क्लास में दिव्या भी पढ़ती थी, दिव्या और दूसरी लड़कियां भी अमित का स्वभाव को पसंद करती थी, लेकिन अमित से लड़कियां ज्यादा बात नहीं किया करती थी, इसका कारन यह था की अमित लड़कियों को भी खुश भी बोल देता था, इसलिए लड़कियां अमित से यहूदा दुरी बना कर रखती थी जबकि अनिल बहुत ही लहजे में बात किया करता था इसलिए वो सभी अनिल से बात किया करती थी, जबकि दिव्या को अमित का स्वभाव ज्यादा अच्छा लगता था, क्योँकि अमित खुले मन से बात करता था, उसके मन में जो आता था वह कह देता था, यह बात दिव्या को ज्यादा पसंद आयी, एक बार प्रोजेक्ट काम में अनिल अमित दिव्या और दो तीन का ग्रुप बना, जिसमे दिव्या, अनिल और अमित दोनों के करीब आयी , चूँकि दिव्या अनिल से ज्यादा बात किया करती थी और अमित से कम तो अनिल को लगा की दिव्या उसके करीब है,दिव्या यह तरकीब लगाई की वह अमित को जला सके, लेकिन इस बात से अमित को कोई फर्क नहीं पड़ा, उसके अंदर जलन की भावना नहीं आयी, शायद इसलिए क्योँकि अमित ने कभी भी दिव्या को प्यार वाली नजर से नहीं देखा, सिर्फ दोस्त ही समझा, वह क्लास की सभी लड़कियों से सिर्फ एक दोस्त की नजर से ही देखा करता था, वह प्यार के चक्कर में नहीं पड़ना चाहता था, लेकिन अनिल दिव्या से प्यार करने लगा था, और यह बात दिव्या को भी पता चलने लगी थी, वह अब परेशान होने लगी थी, उसने यह बात अमित से बतायी तो अमित को हसी आ गयी, उसने कहा, अगर वह मुझसे प्यार करती है तो सीधे सीधे आ कर मुझे कहती, यह बचपना करने की क्या जरुरत थी, दिव्या ने कहा की वह अनिल से बात करे, अमित ने बात करने से मना कर दिया, और साफ़ साफ़ कह दिया की वह उसे सिर्फ अपना अच्छा दोस्त समझता है, उसे प्यार में विश्वास नहीं है,
और भी रोमांटिक प्रेम कहानियां “the love story in hindi” पढ़ना ना भूलें=>
सिर्फ तुम-Only You a new short love story in hindi language
बहस-Debate a cute short love story in hindi language
परिचय-Introduction a new short love story in hindi language of a college couple
Misunderstanding a new short love story with emotional touch, true love story in hindi in short, true sad love story in hindi language, hindi love story in short love, love story novel in hindi language, romantic love stories in hindi language

वह सिर्फ दोस्ती तक ही रहना चाहता है, इधर अनिल गलतफहमी का शिकार होने की वजह से दिव्या के नजदीक आने की कोशिश करने लगा, जिससे दिव्या और परेशान हो गयी, क्योँकि वह जिसके लिए अनिल के करीब आयी उसने तो साफ़ मना कर दिया था, दिव्या ने अमित से कहा की दोस्त की हैस्यत से ही उसकी मदद करे, क्योँकि वह अनिल से प्यार नहीं करती ना ही उसको नाराज करना चाहती है, अमित ने काफी सोचा और कहा की अनिल को घूमने ले जाने को कहो उससे शॉपिंग करवाओ शायद वह तुम्हारा खर्च नहीं उठा पाए, और तुमसे दुरी बना ले, दिव्या को यह बात अच्छी लगी, अब हर शाम को दिव्या अनिल के साथ घूमने जाती थी और उससे खर्च करवाती थी शुरू शुरू में तो अनिल खर्च करता गया फिर उधारी मांगने की नौबत आ गयी फिर तो अनिल परेशान हो कर दिव्या से दूर होने की कोशिश करने लगा और वह अमित से ही मदद माँगा, अमित ने बताया की दिव्या को कहे की, वह उससे प्यार नहीं कर सकता क्योँकि अमित उससे प्यार करता है और इसके कारण उसके दोस्ती में दुरी आ रही है, यह बात अनिल ने जब दिव्या को बतायी तो दिव्या समझ गयी की यह उपाय अमित ने ही बताई है और दिव्या अनिल से दूर हो गयी इस तरह एक गलतफ़हमी का अंत हो गया ……
मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-Misunderstanding a new short love story with emotional touch, true love story in hindi in short, true sad love story in hindi language, hindi love story in short love, love story novel in hindi language, romantic love stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like