ga('send', 'pageview');
Articles Hub

प्रेरणादायक सच्ची कहानी-Motivational true story in hindi language very short story

Motivational true story in hindi language very short story
Motivational true story in hindi language very short story,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
प्रेरणादायक सच्ची कहानी -एक दिन की बात है एक सज्जन धोती और शॉल ओढ़े हुए चेन्नई में समुद्र किनारे भगवत गीता पढ़ रहे थे। उसी समय एक १२ साल का बालक आया और पूछा -‘क्या इस अंतरिक्ष युग में ऐसी किताब पढ़ते हैं। हम तो चाँद पर पहुँच गये और आप गीता और रामायण पर अटके हैं। उन्होंने उस बालक से पूछा -‘गीता के बारे में तुम्हे क्या जानकारी है ?’ लड़के ने कहा -‘यह सब पढ़कर क्या होगा ,मैं तो विक्रम साराभाई संस्थान का छात्र हूँ। गीता पाठ किसी काम का नहीं है। उसकी बात सुनकर सज्जन हंस पड़े। तभी दो बड़ी गाड़ियां आकर रुकी एक गाडी से दो ब्लैक कमांडोज़ उतरे। सिपाही ने कार का दरवाज़ा खोला और सलामी दी। वे धीमी गति से कार में चढ़ गए। लड़का यह सब देखकर हैरान रह गया। लड़का तेजी के साथ कार के पास गया और पूछा -‘सर ,सर ,आप कौन हैं ?’ सज्जन ने कहा -‘मैं ही विक्रम भाई साराभाई हूँ। ‘ लड़का अब हैरान और परेशान हो गया। यह लड़का कोई और नहीं डॉक्टर अब्दुल कलाम थे। उसके बाद उन्होंने गीता पढ़ी। अन्य वैदिक पुस्तके पढ़ी। और जीवन भर नॉन -वेज नहीं खाया। उन्होंने अपनी आत्म कथा में लिखा है ,गीता एक विज्ञान है।

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-Motivational true story in hindi language very short story,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like