ga('send', 'pageview');
Articles Hub

नेवर एंग्री-never angry a new sweet motivational story of a small girl

never angry a new sweet motivational story of a small girl
never angry a new sweet motivational story of a small girl,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
कहते हैं अच्छे स्वाभाव वालों को जीवन में अनेकों कठिनाईओं का सामना करना पड़ता है। वैसे हर कोई अपने क्रोध को नियंत्रण में रखना चाहता है। एक बच्ची थी जो कभी चिल्लाती नहीं थी उसका नाम रखा गया -नेवर एंग्री। बच्ची जब बड़ी हुई वह कभी किसी अन्य बच्ची या अन्य से कभी नहीं लड़ी लोगों ने उसे इर्रिटेट करने की काफी कोशिश कीपर सफल नहीं रहे। नेवर एंग्री की माँ बुरे स्वाभाव वाली थी। उसे गुस्सा था। सो उनका जीवन सुखमय नहीं था। माँ उसे हमेशा उकसाती पर वह कहती ,मैं औरों की तरह क्यों बनु ? क्या तुम्हे कोई पीड़ा या दुखा नहीं है ? माँ पूछती। शायद। नेवर एंग्री का छोटा सा जवाब होता। जैसे -जैसे वह बड़ी होती गई उसकी माँ ने उसके जीवन को और दुरूह बनाना शुरू कर दिया। हमेशा उसे परेशान करती। उसे अभावग्रस्त बनाती पर नेवर एंग्री को गुस्सा बिलकुल नहीं आता। वह कभी नाखुशी महसूस करती ही नहीं। उसकी धर्म-माता कुछ दूरी पर रहती थी। माँ ने उसे गॉड मदर के पास भेजने का फैसला लिया। यह एक डरावना ,लंबा और दुरूह यात्रा था। देखती हूँ ,जब वह कटीली झाड़ियों में ,जंगली मच्छरों के काटे जाने पर कैसे नहीं गुस्सा करती -माँ ने कहा। जाते समय माँ ने उसे बहुत थोड़ा खाना दिया और कहा कि जब वह घर लौटकर आये तो साथ में पैसे लेकर आये। और उसे अकेले विदा कर दिया। रास्ते में एक भयानक चिम्पांजी मिला ,उसने उसका नाम पूछा। नेवर एंग्री -उसने कहा। क्या बेकार नाम है इसका क्या मतलब ?क्योंकि मैं कभी क्रोधित नहीं होती। लड़की ने कहा। क्या तुम्हे डर नहीं लगता ,चिम्पांज़ी ने पूछा। किसलिए ? मैं तो तुम्हे कोई नुक्सान नहीं पहुंचाती फिर तुम मुझे क्यों आहत करोगे भला ? तुम अपने नाम के साथ ज़िंदा रहोगी। जाओ गुड लक -चिम्पांज़ी ने कहा। कुछ दूर जाने के बाद एक शेर मिला। तुम कौन हो -शेर ने दहाड़ मारी। नेवर एंग्री। क्या नासमझ नाम है मैं तुम्हे क्रोधित करूंगा। उसने पैरों से धुल उड़ाई और डराना चाहा पर वह शांत रही। तुम सचमुच अपने नाम को डेसेर्वे करती हो -शेर ने कहा। तुम्हे मैं अपना दुआ देता हूँ। मुझे उम्मीद है कि सारे इंसान तुम्हारी तरह ही हो। कुछ दूर जाने के बाद एक पायथन मिला उसने भी वही प्रश्न किये।
और भी प्रेरक कहना पढ़ना ना भूलें==>
नाग नागिन की कहानी-Life story of a pair of snakes in hindi language
दो अनूठी कथायें-two unique and motivational stories in hindi
विल्व पत्र-some motivational words in hindi from Swami Vivekanand
never angry a new sweet motivational story of a small girl,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

क्या मूर्खतापूर्ण नाम है हर कोई अपने जीवन में कभी ना कभी क्रोध करता है। पर मई तो कभी क्रोध करती नहीं लड़की ने जवाब दिया। उसने उस लड़की को अपनी कुंडली में फंसा लिया देखता हूँ तुम अब कैसा फील कर रही हो -पाइथन ने कहा। वह तनिक भी विचलित नहीं हुई ,अंततः उसे छोड़ना पड़ा। उसने भी उसे अपना आशीर्वाद दिया। वह गॉडमदर के पास पहुंची और सारा वृत्तांत सुनाया। गॉडमदर ने उसकी परीक्षा कई दिनों तक ली और पाया कि वह अपने नाम के अनुरूप ही है। यानी नेवर एंग्री। गॉडमदर ने नए कपडे पहनाये और उसे विदा किया वह अपने घर पहुंची और माँ के हाथ में पैसे दिए। उससे रास्ते में क्या -क्या हुआ इसके बारे में जानकारी ली मुझे तुम पर गर्व है -माँ ने शायद पहली बार कहा। उसकी शादी हुई और इलाके में उसके नाम की खूब चर्चा होने लगी। वह अब लोगों को सलाह और न्याय भी सुनाने लगी। क्योंकि वह नेवर एंग्री और नेवर afraid थी। लोगों ने उसका अनुकरण करना चाहा पर कोई भी सफल नहीं हो सका क्योंकि बड़ा कठिन है नेवर एंग्री जैसा बनना

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-never angry a new sweet motivational story of a small girl,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like