Articles Hub

science fiction story in hindi language-रोबोट और खतरनाक वायरस

science fiction story in hindi language, hindi fiction stories, science fiction in indian writing in hindi, science fiction stories in hindi, विज्ञानं कथा




हम हर दिन एक से बढ़कर एक वैज्ञानिक कहानिया प्रकाशित करते हैं। इसी कड़ी में आज  “रोबोट और खतरनाक वायरस” science fiction story in hindi language

रवि एक कंप्यूटर हैकर था और वो सायबर सुरक्षा टीम में काम करता था।एक दिन वो काम से फ्री होकर घर जा रहा था की रास्ते में उसने कुछ देर आराम करने की सोची । कार रोककर वो उतरने ही वाला था की  उसने  कार के ऊपर  उठता हुआ महसूस किया।जब उसने बाहर झाका तो पाया की  कोई अनजान अंतरिक यान उसके कार को खीचकर ले जा रहा था । पहले तो उसे सपना लगा पर सच में वो यान उसे अनजान टापू पर ले गया जो की एक दम सुनसान बर्फीला टापू था। वहां पहुंचते ही , नीचे जमीन के दरवाज़े खुल जाते है और एक लिफ्ट में दाखिल होकर अंडरग्राउंड जमीन के अंदर जाते है । रवि अपना मोबाइल का कैमरा चुपचाप ऑन कर देता है। तभी एक आवाज़ गूंजती है कि वेलकम ग्रेट हैकर मिस्टर रवि, आपका स्वागत है । रवि चौंक  जाता है कि उन्हें उसका नाम कैसे मालुम? असल में वो पूरा अड्डा एक गुप्त प्रयोगशाला थी जहाँ हर केमिकल और हथियारों का परीक्षण हो रहा था और हर दीवारो पर हर देश के नक़्शे थे । ऐसा लग रहा था कि ये हर देश की गोपनीय जानकारी चुरा रहे थे। रवि सब समझने की कोशिश कर रहा था की  तभी सामने की बर्फीले दीवार से एक गंजा सा आदमी निकलता है जिसकी खोपड़ी पर बन्दूक का चिन्ह बना था। रवि की कार को नीचे उतारा जाता है और फिर वो यान एक स्टेण्ड पर खड़ा हो जाता है । वो आदमी एक चेयर पर बैठता है और उड़ता हुआ रवि के पास आता है और कहता है कि हेल्लो रवि मैं डॉ रोबोट हूँ , इस टापू का मालिक और  तुमसे कुछ काम है। रवि उससे पूछता है कि आप कौन है और मेरा नाम कैसे जानते है? वो कहता है कि हम तुम्हे तबसे फॉलो कर रहे है जब तुमने हमारी वेबसाइट को हैक करके उसके कोड्स अपनी सरकार को बता दिए थे।


और भी कहानियां पढ़ें==>
हैरान कर देने वाले वैज्ञानिक तथ्य
दुनिया की अदभुत जानकारी
दुनिया के कुछ बातें जो कोई नहीं जानता
बरमूडा ट्रायंगल का रहस्य

science fiction story in hindi language, hindi fiction stories, science fiction in indian writing in hindi, science fiction stories in hindi, विज्ञानं कथा
इसलिए हम तुमसे एक खतरनाक वायरस बनवाना चाहते है ,ताकि पूरी दुनिया के इंटरनेट सिस्टम पर हमारा कब्ज़ा हो । रवि सोचता है कि इससे तो ये पूरी दुनिया की जानकारी गलत हाथो में न दे दे । मैं अगर इनका साथ नहीं देता तो मुझे ये मार सकते है ,फिर वो कुछ सोचकर हा कर देता है। इसके बाद उसे एक कमरा दिया जाता है ताकि उसे काम करने की सब सुविधा मिल जाये। वो वायरस बनाने में जुट जाता है , फिर कुछ महीनो के बाद वो वायरस बनाने के बाद वो पूरी सीडी उस डॉ रोबोट को दे देता है। रोबोट  कहता है कि थैंक्स मिस्टर रवि तुमने हमारे लिए वायरस बनाया । अब तुम जीकर क्या करोगे इससे बढ़िया मर जाओ । रवि हँसता है और बोलता है कि खुद को बॉस कहते हो और खुद को बुद्धिमान मानते हो । कभी किसी हैकर को पूरा सर्वर नहीं देते । तुमने तो कण्ट्रोल रूम दिया । रोबोट कहता है कि क्या मतलब । रवि कहता है कि जरा अपना कंप्यूटर तो चेक करो । रोबोट देखता है कि उसके कंप्यूटर का सारा डाटा एक पासवर्ड से लॉक था । रवि कहता है कि जो वायरस तुम मेरे देश के खिलाफ बनवाना चाह रहे थे । उसे तुम्हारे खिलाफ ही इस्तेमाल कर दिया । रोबोट और  उसके आदमी गुस्से में उस पर गोलिया चलाते है पर रवि अपनी कार में बैठ जाता है और एक बटन दबाकर पुरे अड्डे को उड़ा देता है । उसने अपनी जान देकर इंटरनेट को एक बहुत बुरे आतंक से बचा लिया । उसकी कार में एक इमरजेंसी बम था जिसका उसने इस्तमाल किया और मरने से पहले दुश्मनो का सारा डाटा अपनी सरकार के पास भिजवा दिया था । जिससे कई दुश्मन पकडे गए ।
मैं आशा करता हूँ की आपको ये “science fiction story in hindi language” आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट सब्सक्राइब करें।




80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like