Articles Hub

science story in hindi language- डॉ डेविड और विशालकाय रोबोट का कहर

हम हर दिन एक से बढ़कर एक वैज्ञानिक कहानिया प्रकाशित करते हैं। इसी कड़ी में आज  “डॉ डेविड और विशालकाय रोबोट का कहर ” science story in hindi language प्रकाशित कर रहे हैं।आशा है ये आपको अच्छी लगेगी।
डॉ डेविड भागते भागते प्रयोगशाला की तरफ जाते है,खबर ये थी कि एक एलियन ने पुरे शहर में हमला कर दिया था और उन पर किसी हथियार का असर नहीं हो रहा था। डॉ डेविड अपनी बनायीं हुई टर्बो गन लेने आये थे जो शायद एलियन को मार दे। दरअसल टेज़ो शहर में दोपहर के वक़्त सब सामान्य था, वही रोज भागदौड की लाइफ , व्यस्त इंसानी जीवन और डॉ डेविड की प्रयोगशाला। तभी आसमान में एक विशालकाय काला बादल आ जाता है। लोगो को लगा कि एक दम से साफ मौसम के बीच बारिश कैसे संभव है? फिर उस बादल से एक चमकदार रोशनी निकलती है जो की सीधे चौराहे पर गिरती है। आवाज़ ऐसी थी जैसे बिजली गिरने पर बम फटा हो। कुछ घंटो तक सब सामान्य होता है पर रात होते ही सब घरो के बिजली के उपकरण अपने आप बंद हो जाते है और जमीन फाड़कर एक विशालकाय रोबोट बाहर निकलता है। वो दिखने में चपटी नाक जैसा था और अनजान धातु से बना था।लोगो की भीड़ जुट जाती है, वो रोबोट को अचरज से देखती है। अचानक रोबोट उन पर विशाल लेजर से हमला करता है जिससे भीड़ जलकर राख में तब्दील हो जाती है। वो शहर को तहस नहस करना शुरू कर देता है।




और भी कहानियां पढ़ें==>
हैरान कर देने वाले वैज्ञानिक तथ्य
दुनिया की अदभुत जानकारी
दुनिया के कुछ बातें जो कोई नहीं जानता

बरमूडा ट्रायंगल का रहस्य

डॉ डेविड उस समय अपने घर थे। शहर अब युद्ध का मैदान बन चूका था और सेना अब कमान संभाल चुकी थी। लेकिन रोबोट पर किसी चीज़ का असर नहीं हो रहा था। वायुसेना के प्लेन के मिसाइल उस एलियन टेक्नोलॉजी के सामने बौने साबित हो रही थी। हर कोई परेशान था कि इस तबाही को कैसे रोका जाये। डॉ डेविड बाल बाल बचे थे क्योंकि उनकी गाड़ी हमले में जल चुकी थी। वो पैदल ही भागकर अपने प्रयोगशाला पहुंचे। हालांकि वो गन अभी टेस्ट नहीं हुई थी पर वो आखिरी उम्मीद थी।उनकी गन एक इलेक्ट्रोमैग्नेटिक तकनीक से लेस थी जो किसी भी धातु को जाम कर सकती थी। वो ये गन लेकर प्रयोगशाला से जैसे ही निकलते है,वो रोबोट भी वहां आ जाता है और डेविड पर लेजर से हमला करता है। डेविड भी ऊपर वाले को याद करके गन चला देते है जिससे रोबोट जाम हो जाता है और वही रुक कर नीचे गिर जाता है। पास जाने पर मालूम होता है कि उसमे कोई एलियन था। वैज्ञानिकों की जांच में मालूम होता है कि वो एलियन एक ठंढे खून वाला जीव था जो रात में ही हमला करता था और वो विशालकाय बादल उसकी स्पेसशिप थी। उसने जमीन के अंदर अंडरग्राउंड बिजली के तारो से ऊर्जा लेकर रोबोट को हमले के लिए रेडी किया था। अब वेज्ञानिको के पास नयी एलियन तकनीक हाथ में थी जिससे बाद में वो तबाह शहर तकनीक की नयी नगरी बन चूका था।कहानी कैसे लगी जरुर बताना दोस्तों ।

मैं आशा करता हूँ की आपको ये “science story in hindi language” आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट सब्सक्राइब करें।




loading...
You might also like