Articles Hub

खेतो में भूत-small ghost story in hindi

small ghost story in hindi

small ghost story in hindi, a ghost story, ghost story real in hindi, a real horror story in hindi language,best horror story in hindireal ghost stories in hindi pdf,ghost story in hindi for child,short spirit story in hindi
हम एक से बढ़कर एक horror जगत की खबरें प्रकाशित करते हैं। पेश है इसी कड़ी में आज हम “खेतो में भूत”small ghost story in hindi प्रकाशित कर रहे हैं . आशा है आपको ये खबर पसंद आएगी
खेतो में भूत…..
आम तौर पर देखा गया है की खेत शहर और गाँव से दूर सुनसान इलाको में होता है, जहाँ दिन में जिसका खेत होता है वही जाता है, वर्ण कोई नजर नहीं आता. किसान भी दिन में ही नजर आते हैं रात को कोई नजर नहीं आता. भला रात को कोई सुनसान खेत में जा कर भी क्या करेगा. ऐसे ही सुनसान खेत में कुछ ऐसा देखने को मिला जिसे बयान नहीं किया जा सकता है.
मैं एक छोटे से गाँव में पला बड़ा हूँ , और ऐसे छोटे गांवों में रहते हुए अक्सर आपका सामना कुछ बहुत ही अजीब चीजों से हो जाता है. हमारा गांव शहर से ज्यादा दूर था, जिसकी वजह से काफी पिछड़ा हुआ था.
गांव के बाहर हमारे बहुत सरे खेत थे, और हम लोग खेती से ही अपना गुजरा करते थे . गांव में रहना मुझे बहुत अच्छा लगता था, क्योँकि शुद्ध हवा और शुद्ध पानी के साथ शुद्ध खाना भी मिलता है, लेकिन कई बार गर्मियों में रास्ते से आते हुए अक्सर सूखे पेड़ टूट कर आने जाने वालो के ऊपर गिर जाते थे .
खेतो में रखवाली के लिए हमने कुत्ते भी पाले हुए थे , जोकी खेत में ही रहते थे , और हर रोज सुबह शाम उनको खाना डालने की ड्यूटी मेरी ही होती थी,
और भी डरावनी कहानियां पढ़ें==>
एक अनजान हवेली का रहस्य
डरावना साया
भटकती आत्मा की खौफनाक कहानी
डरावने किले की भयंकर भूत
वो तीनो कुत्ते बहुत ज्यादा बड़े तो नहीं थे , लेकिन वो बहुत तेज थे और किसी से डरते नहीं थे.एक बार खेतो में धान की फसल बहुत अच्छी हुई थी, लेकिन नील गाय फसल को बर्बाद कर रहा था, इसलिए मैंने सोचा की कुत्ते के साथ रात को खेत की देखभाली की जाए, रात को जब मैं अपने कुत्तो के साथ खेत पर जाने लगा तो कुत्ते लगातार भौंकने लगे ऐसा लगा की मानो कुत्ते किसी जानवर को देख चुके थे, लेकिन मुझे कुछ नजर नहीं आयी. मैंने टॉर्च से भी देखना चाहा लेकिन कुछ नजर नहीं आया, अचानक से कुत्ते शांत हो गये और मेरे पैरो में सिमट गए, मैं कुछ समझ पाता, तभी मुझे एहसास हुआ की मेरा बाल अपने आप उड़ रहा है, मैं समझ गया की कोई जानवर नहीं बल्कि कोई है,अब तो मैं भी डर गया और मैं खेत से भागना शुरू किया, मैं तब तक भागता रहा जब तक की मेरा घर नहीं आ गया.
उस दिन मेरी समझ आया की आत्माएं होती हैं जिन्हे कुत्ता देख सकते हैं.मैं आज भी जब वो सीन याद करता हूँ तो मेरा शरीर सिहर जाता है.

मैं आशा करता हूँ की आपको ये खबर आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।
Tags-small ghost story in hindi, a ghost story, ghost story real in hindi, a real horror story in hindi language,best horror story in hindireal ghost stories in hindi pdf,ghost story in hindi for child,short spirit story in hindi

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like