Articles Hub
Browsing Tag

a new hindi short emotional love story of a writer boy

इंतज़ार-a new hindi short emotional love story of a writer boy

सपने लुभाते हैं तो रुलाते भी हैं।आनन्द कहाँ है,बस सपने ही तो हैं। जिन आँखों में शबनम थी,चाँद-सितारे थे,आज वही आँखे सुनी-सुनी सी है। चीड़ के नीचे एक लड़का अकेला बैठा है। बार-बार अपनी कलाई पर बंधी घडी की ओर देखता है। इंतज़ार के पल कितने कठिन…