ga('send', 'pageview');
Articles Hub

दी ब्लैक शीप-The black ship an old inspirational story in hindi language

दी ब्लैक शीप
,ghost story in hindi language,ghost story in hindi pdf,ghost story in hindi with moral,ghost story in hindi online,ghost story novel in hindi,true love ghost story in hindi,ghost story in hindi new
एक देश में जहां सब के सब चोर थे ,रात होते ही हर कोई नकली चाबियों और मद्धिम जलती लालटेनों के साथ घर से निकल पड़ता और किसी पडोशी के घर में चोरी कर लेता। भोर होते ही जब वह चोरी का सामान लिए अपना घर लौटता तो देखता कि उसका तो अपना घर ही लूटा जा चुका है। किसी को कोई नुक्सान नहीं था सब एक दूसरे के घर पर हाथ साफ़ कर रहे थे। उस देश की सरकार एक आपराधिक संघटन थी जो अपने देशवासियों से खुलेआम चोरी करवाती थी जीवन इसी तरह से कट रहा था ना कोई अमीर था ना कोई गरीब। एक दिन एक ईमानदार शख्स इस देश में गुजर -बसर करने चला आया। वह रात में घर पर ही रहकर उपन्यास पढता। चोर आये पर घर में रौशनी जलता देखकर भीतर घुसे ही नहीं। कुछ दिनों तक यही सिलसिला चलता रहा पर हर रात उसके घर पर रहने का मतलब यह होता कि अगले दिन एक ना एक परिवार भूखा रहता। इस तर्क को सुनकर वह ईमानदार व्यक्ति नतमस्तक हो गया और रात को घर से बाहर रहने की हामी भर दी परन्तु चोरी करने से साफ़ इंकार कर दिया। वह भर रात पूल के नीचे बहते पानी को देखता ,सुबह घर लौटता तो पाता कि उसके घर की सारी चीजें चोरी हो गई हैं . नौबत तो यहां तक आ पहुंची की उसके पास खाने तक के पैसे नहीं थे। यह कोई समस्या नहीं थी क्योंकि यह सब तो उसका ही किया -कराया था। हर एक शख्स जो चोरी करके घर लौटता तो पाता कि उसका सामान अनछुआ है। अब जिसके यहां चोरी नहीं हुई वह आदमी दूसरों से अमीर हो जाता।
और भी प्रेरक कहना पढ़ना ना भूलें==>
रहस्मय कहानियां-Two new strange and impactful unique short stories in hindi language
दो कथाएँ-Two motivational stories in hindi language of the gods
जीत-Win a new Hindi inspirational story of Mahatma Buddha and a saint
The black ship an old inspirational story in hindi language,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
इस नए अमीर आदमी की चोरी करने की प्रवृति ख़त्म हो जाती और ईमानदार आदमी के घर चोरी करने गए लोग खाली हाथ लौटने लगे तो वे लोग गरीब होते गए। यानी बाहर सारे लोग अमीर बनते गए तो बहुत सारे गरीब। कुछ रईस तो अमीर बने रहने के लिए उन्हें ना तो चोरी करने या करवाने की जरूरत थी इसलिए उन्होंने गरीब लोगों को तनखाह देना शुरू कर दिया ताकि वो अन्य गरीब लोगों की सम्पति की सरसा कर सकें। नतीजा यह हुआ कि पुलिस थानों और जेल खानो का निर्माण शुरू हो गया। अब वे लोग सिर्फ अमीर और गरीब की बातें करने लगे लेकिन अब भी वे सब चोर ही थे। इकलौता ईमानदार वही व्यक्ति था जो शुरू -शुरू में आया था और विडम्बना यह कि वह जल्दी ही भूख की वजह से मर गया।

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-The black ship an old inspirational story in hindi language,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like