Articles Hub

चेहरे जो डराते हैं- the strange story

the strange story

horror story 500 words, latest horror story in hindi, short spirit story in hindi,best horror story in hindi language, scary story in hindi language, ghost in hindi, भूत की कहानी
देसिकहानियाँ में हम एक से बढ़कर एक डरावनी और खौफनाक कहानियां प्रकाशित करते हैं।पेश है इसी कड़ी में “चेहरे जो डराते हैं”the strange story । आशा है,ये आपको पसंद आएगी।
हमे डर लगना स्वभाविक बात है. हम कब और किससे और कैसे डर जाए, ये बता पाना सम्भव नहीं है. लेकिन कभी कभी ऐसा कुछ हो जाता है कि हम भयभीत हो जाते हैं.लेकिन कभी-कभी ऐसा भी देखा गया है जहाँ विज्ञानं ने हार मान ली है, जिसे हम पारलौकिक घटना भी कहते हैं. मतलब इस लोक कि घटना नहीं. हलाकि विज्ञानं भूत-प्रेत को नहीं मानता है,लेकिन कभी कभी ऐसी घटना हो जाती है जहाँ विज्ञानं भी समझ नहीं पाता है कि ये कैसे हो गया? ऐसी ही एक घटना के बारे में बताने जा रहा हूँ, जो कि स्पेन की है. स्पेन के परेरा परिवार में उस समय हड़कंप मच गयी जब उनके घर के रसोईघर के फर्श पर अजीबो-गरीब डरावने चेहरे उभरने लगे. परेरा परिवार समृद्ध और खुश हाल परिवार था, धन-दौलत की कमी नहीं थी, परिवार के पास बहुत से जमीन थे, जिन पर खेती होती थी और जो की आय का प्रमुख साधन भी था.लेकिन 23 अगस्त 1971 की दोपहर को अचानक कुछ ऐसा हुआ की सभी घबरा गए.उस दिन दोपहर को परिवार की सबसे बुजुर्ग महिला फिल्मेना रोसईघर में खाना बना रही थी, तभी उनकी सबसे बड़ी पोती ने अचानक से चीखा, उसकी माँ भी पास में ही थी, पोती ने फर्श पर कुछ देखा, जिसकी वजह से उसकी चीख निकल गयी.दादी ने पोती को डांटा,” क्यों शोर मचा रही हो?” बच्चे जहाँ फर्श पर बैठे हुए थे,वहां से छोड़ कर हटने लगे.फिर वृद्धा दादी ने गुलाबी फर्श पर जो देखा, उसके बाद उनकी भी हालत देखने लायक थी.क्योँकि उनकी भी जुबान खुश्क हो कर तालु से चिपक गयी थी,और उनके मुँह से आवाज भी बाहर नहीं आ पा रही थी.क्योँकि गुलाबी फर्श पर अजीबो गरीब मुखाकृति उभर रही थी और गायब हो रही थी.
और भी भूत की कहानियां horror stories पढ़ना ना भूलें==>
एक प्रेतात्मा का कहर
खुनी चुड़ैल और गर्ल्स हॉस्टल का आतंक
खुनी गुड़िया का कहर
खुनी हवेली का रहस्य

horror story 500 words, latest horror story in hindi, short spirit story in hindi,best horror story in hindi language, scary story in hindi language, ghost in hindi, भूत की कहानी
मुखाकृति बहुत ही डरावनी थी.दादी ने बच्चो को वहां से हटाया और हिम्मत करके वाईपर उठा कर फर्श को साफ़ करने लगी.अब तो और आस्चर्य वाली घटना घटी, फर्श साफ़ होने के बाद मुखाकृति की आँखें और बड़ी बड़ी हो गयी और चेहरे पर अजीब तरह के मुस्कान आने लगे.मुस्कान देख कर अच्छों-अच्छों को पसीना आ जाए, उसके बाद तो पूरा परिवार वहां से ऐसे भगा, जैसे उनके पास जीने का आखिरी मौका मिला हो.यह पूरी घटना,”बेलमेज़ के चेहरे” नाम से पूरी दुनिया में महशूर हुई.उसके बाद तो उन मुखाकृति को देखने के लिए भीड़ सी लग गयी. कुछ परामनोवैज्ञानिक इसे बीसवीं सदी की सर्वश्रेष्ट घटना मानते हैं.
घर के मालिक जुआन परेरा और उनके पुत्र मिगुएल ने इसकी जानकारी वहां के प्रशाशनिक अधिकारीयों को दी.पुलिस ने छान बिन शुरू कर दी,लेकिन उन्हें कुछ पता नहीं चला. पुलिस के सामने ही पुराना फर्श को हटा दिया गया और नया फर्श लगाया गया. लेकिन कुछ दिनों के बाद फिर वो मुखाकृति और साफ़ साफ़ दिखने लगी,एक बार फिर पुलिस को सुचना दी गयी, तब तक पुरे गाँव में इस घटना को ले कर चर्चा होने लगी थी.एक बार फिर पुलिस आयी और घर को खली करवा कर, गहराई से खुदाई करवाई गयी तो अंदर बड़े पैमाने पर इंसानी कब्रे मिली, पता चला की मध्य काल में यहाँ कब्रिस्तान था. तीसरी बार नया फर्श लगाया गया, अब तो और साफ़ साफ़ वो मुखाकृति देखने को मिलने लगी. पूरा परेरा परिवार डर गया.
अब तो सभी वहां आ कर उन अजीब चेहरे को देखने आने लगा, वहां के पेपर ने इस खबर को छापा, उसके बाद घर में भीड़ लगने लगी,बाद में रोसईघर को बंद कर दिया और वहां एक शोध टीम ने शोध शुरू कर दिया, लेकिन नतीजा नहीं निकल पाया की आखिर क्यों, वहां ऐसे चेहरे देखने को मिलते हैं, सूक्ष्म ध्वनि यंत्र को लगाया गया, जिसमे कुछ उदासी वाले स्वर सुनाई दिए, लेकिन वो किस भाषा में थे इसका भी पता नहीं चल पाया. आज भी यह रहस्य बरकरार है,यह एक विचित्र पहेली है, जिसको अभी तक नहीं सुलझाया गया………
मैं आशा करता हूँ की आपको ये खबर आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

the strange story

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like