ga('send', 'pageview');
Articles Hub

ये मोहब्बत नहीं आसान-This love is not easy a new Love story in hindi language

ये मोहब्बत नहीं आसान…
This love is not easy a new Love story in hindi language,true love story in hindi in short,true sad love story in hindi language, hindi love story in short love,love story novel in hindi language,romantic love stories in hindi language
कहा जाता है, जिन्हे अपना प्यार मिल जाता है वो बहुत खुशनसीब होते हैं। किस्मत वालो को ही अपना प्यार मिलता है, ऐसा ही कुछ शेखर और अलका के साथ हुआ, वो दोनों प्लस 2 में साथ साथ पढ़ते थे, पहले तो दोनों एक दूसरे को क्लास में देखा करते थे, लेकिन देखते ही देखते कब प्यार हो गया यह उन्हें पता भी नहीं चला। पहला साल तो यूँ ही बीत गया, लेकिन दूसरे साल में शेखर ने हिम्मत करके अलका से अपने प्यार का इजहार कर दिया,शायद अलका भी इसी दिन का इंतजार कर रही थी, क्योँकि अलका ने भी जल्दी से हामी भर दी। उसके बाद दोनों कॉलेज से बाहर निकलने के बाद एक साथ घूमते थे, और पार्क में जा कर एक दूसरे से प्यार किया करते थे, कभी कभी तो क्लास छोड़ कर भी घूमने निकल जाया करते थे, उनका प्रेम समय के साथ साथ बहुत गहरा होता गया, दोनों खुश थे, दोनों ने भविष्य के सपने भी बुनने लगे, दोनों ने तय किया की अगर दोनों में से किसी के पेरेंट्स नहीं माने तो दोनों मंदिर में शादी कर लेंगे, लेकिन दोनों एक साथ ही रहेंगे। देखते देखते इंटर का परीक्षा खत्म हो गया और दोनों का रोज मिलना अब नहीं हो पा रहा था, फिर दोंनो ने अपने घर में बात की तो घर वाले मना कर दिए घर वालो ने कहा, पहले पढ़ाई करो, उसके बाद शादी की सोचना, एरेंज मैरिज करना, मतलब साफ़ था की उनके द्वारा तय की गयी लड़की के साथ ही शादी करना है,जबकि शेखर के पेरेंट्स ने कह दिया की पहले नौकरी करो फिर शादी, वो भी लड़की मैं पसंद करूँगा, मतलब यहाँ भी साफ़ था की लव मैरिज के खिलाफ थे। दोनों ने मिल कर तय किया की 18 साल पुरे होने के बाद मंदिर में शादी कर लेंगे, यह सोचते हुए दोनों उम्र पुरे होने के इंतजार करने लगे और साथ ही साथ अपनी पढ़ाई पूरी करने लगे।
और भी रोमांटिक प्रेम कहानियां “the love story in hindi” पढ़ना ना भूलें=>
उम्मीद-Hope a new sweet short love story of one sided love story
ज्ञान-knowledge a new short love story in hindi language of a bookworm boy
बचपन का प्यार-love of childhood a new short love story in hindi language of two children

उम्र पूरा होने के बाद दोनों चुपचाप घर से निकल गए और मंदिर में जा कर शादी कर ली, फिर दोनों दिल्ली निकल गए, जहाँ शेखर के दुकान में नौकरी करने लगा, वहीँ अलका भी एक बुटीक में काम करने लगी, इधर दोनों के पेरेंट्स परेशान की बच्चे कहाँ गायब हो गए, इसलिए दोनों ने अपने मोहल्ले के पास के पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज करवा दी। पुलिस ने पहले पता किया फिर जानकारी नहीं मिलने पर शांत हो गयी, करीब दो सालो के बाद अचानक पुलिस ने लड़की को पकड़ लिया और उसे घर ले गयी, अब इधर शेखर परेशान की अलका शाम को घर नहीं आयी, काफी खोज बीन के बाद भी अलका नहीं मिली तो वह अलका के घर पहुँच गया जहाँ अलका को देख कर वह खुश हो गया, लेकिन अलका के पेरेंट्स ने पुलिस को बुला लिया और शेखर को पकड़वा दिया,यह बात जब शेखर के पेरेंट्स को पता चली तो वो भी पुलिस स्टेशन आ गए, फिर अलका के पेरेंट्स को भी अलका के साथ बुलाया गया तो सारी बातें पता चली, चूँकि दोनों बालिग थे इसलिए पुलिस दोनों परिवार को समझा कर भेज दिया, और अंत में अलका को शेखर के घर वाले अपने यहाँ ले आये, क्योँकि अलका उस समय माँ बनने वाली थी,आखिर इतनी समस्या के बाद दोनों आखिर कार मिल गए,और दोनों साथ साथ रहने लगे……
मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-This love is not easy a new Love story in hindi language,true love story in hindi in short,true sad love story in hindi language, hindi love story in short love,love story novel in hindi language,romantic love stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like