Articles Hub

true love stories hindi- एक छोटी सी मोहब्बत की कहानी

true love stories hindi, most romantic love story in hindi language, love story in hindi,, हिंदी प्रेम कहानियां, hindi love story, sad hindi love story

true love stories hindi

अभिषेक 12 साल का था, वो अपने मम्मी-पापा और 4 साल की बहन स्वेता के साथ रहता था, अभिषेक जिस फ्लैट में रहता था,वहां के आस-पास के लोगो को बहुत ही प्यार और सम्मान देता था,जिसकी वजह से उसके पडोसी उससे बहुत खुश रहते थे, वो हमेशा दुसरो की मदद किया करता था,कोई भी काम हो अभिषेक को याद कर लीजिये वो कर देता था, उसके इस स्वभाव से उसके घर वाले भी खुश थे,लेकिन कभी कभी वो परेशान भी हो जाया करते थे,क्योंकि वो दुसरो की मदद करने में अपना नुकसान भी कर लेता और वो नुकसान सबसे ज्यादा वक्त का था, लेकिन पढ़ने में तेज अभिषेक अगर मदद के लिए वक्त जाया भी करता था तो रात में पढ़ाई पूरी कर लेता था,वो अपनी छोटी सी बहन का भी खूब ख्याल रखता था,जिसकी वजह से उसकी मम्मी उससे बहुत खुश रहती थी ,लेकिन अभिषेक की ये ख़ुशी शायद किसी को पसंद नहीं आयी और उसका हस्ता-खेलता घर बर्बाद हो गया। एक बार उसके मम्मी-पापा किसी काम से बहार गए थे,और वो लौट के नहीं आये, उन दोनों का एक्सीडेंट हो जाने की वजह से मौत हो गयी।अभिषेक बहुत रोया,उसकी समझ में नहीं आ रहा था की वो क्या करे?
और भी प्रेम कहानियां पढ़ें==>
जब धर्म ने तोडा प्यार
एक लम्हे में जिंदगी भर का प्यार
इस प्यार को क्या नाम दू
इश्क़ की लाइन
मोहब्बत का सफर



उसके साथ साथ उसकी छोटी बहन भी थी, जिस फ्लैट में वो रहता था, उसके ऊपर वाले फ्लैट में ही वर्मा जी रहते थे, जो अभिषेक वाले फ्लैट के मालिक भी थे,उन्होंने अभिषेक को बोला,टेंशन नहीं लेने के लिए आज से उसका और उसकी बहन का परवरिश वो करेंगे, उन्होंने उन दोनों को उसी फ्लैट में रहने दिया और खाने-पिने को भी दिया,लेकिन अभिषेक स्वभिमानी था,इसलिए वो वर्मा जी के घर का सारा काम करने के साथ साथ उनकी बेटी को पढ़ा भी दिया करता था,जो उससे 2 साल छोटी थी, अभिषेक के पढ़ाने की वजह से उनकी बेटी रोहिणी क्लास में अव्वल आने लगी,जिसकी वजह से सभी छोटे बच्चे अभिषेक से पढ़ने लगे , अब तो अभिषेक एक मशीन सा बन गया था, खुद की पढ़ाई,स्वेता को संभालना, साथ साथ वर्मा अंकल के घर का काम करना और छोटे बच्चो को पढ़ाना । धीरे-धीरे वक्त बीतता चला गया और अभिषेक बड़ा हो गया,अब वो एक अच्छे कंपनी में जॉब करने लगा था, उसे अच्छी सेलरी भी मिलने लगी थी, चुकी रोहिणी का बहुत सा वक्त अभिषेक के बिता था,इसलिए अभिषेक और रोहिणी एक दूसरे को प्यार करने लगे थे, जब वर्मा जी ने अभिषेक से रोहिणी की शादी की बात की तो अभिषेक मना नहीं कर पाया,लेकिन वो पहले स्वेता की शादी करना चाहता था,इसलिए उसने थोड़ा सा वक्त माँगा, स्वेता भी इस बात को जानती थी की रोहिणी उसकी भाभी थी,जिस वजह से रोहिणी स्वेता को प्यार भी करती थी,बचपन से चुकी तीनो साथ ही रहे थे,इसलिए तीनो में प्यार था । जब अभिषेक ने स्वेता से उसकी शादी की बात की तो उसने अपने प्यार के बारे में बताया, स्वेता ने बताया की वो अपने ही साथ कॉलेज में पढ़ने वाले शुभम नाम के लड़के के साथ प्यार करती है और उससे शादी करना चाहती है, शुभम से मिलने के बाद अभिषेक ने स्वेता को समझाया की लड़का अच्छा नहीं है,लेकिन स्वेता के आँखों पे शुभम के प्यार का चश्मा लगा हुआ था..
true love stories hindi, most romantic love story in hindi language, love story in hindi,, हिंदी प्रेम कहानियां, hindi love story, sad hindi love story
ये true love stories hindi अगली पेज में भी जारी है, आगे पढ़ने के लिए निचे क्लिक करें।



loading...
You might also like