ga('send', 'pageview');
Articles Hub

जातक कथाएं- two new short mythological stories in hindi language

two new short mythological stories in hindi language,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
two new short mythological stories in hindi language,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

जातक कथाएं -चमड़े की धोती -एक घमंडी साधू था। उसे एक बार किसी ने चमड़े की धोती दान में दे दी। उसे पहनकर वह अपने आप को अन्य साधुओं में श्रेष्ठ समझने लगा। एक दिन वह भिक्षाटन के लिए घूम रहा। रास्ते में उसे एक बड़ा सा जंगली भेड़ मिला। उस भेड़ ने साधू के पीछे जाकर अपना सिर झटककर नीचे करने लगा। साधू ने समझा कि भेड़ उसका रहा था। उसने साधू को आगाह करते हुए कहा -‘हे ब्राह्मण ,मत कर विश्वास किसी जानवर पर वे पीछे से मुड़कर आक्रमण भी करते हैं। राहगीर अभी इतना कह ही रहा था कि भेड़ ने अपनी नुकीली सींघ से आक्रमण कर नीचे गिरा दिया। और वह तुरत मर गया।
और भी प्रेरक कहना पढ़ना ना भूलें==>
सबसे बड़ा मनहूस कौन?-a new short inspirational story of akbar and birbal in hindi language
अजब-गजब रहस्य-three new very short inspirational story in hindi language about animals
आदर्श करोड़पति-a new short motivational story of a ideal millionaire

two new short mythological stories in hindi language,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
two new short mythological stories in hindi language,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

[२] सोमदन्त की मृत्यु कथा -एक समय की बात है हिमालय के वन में एक सन्यासी को हाथी का बच्चा मिला। उसे उस निरीह बच्चे पर दया आयी और वे उसे अपनी कुटिया पर ले आये .कुछ ही दिनों में सन्यासी को उस हाथी के बच्चे से मोह उत्त्पन हो गया। और वे उसे बड़े ममत्व से पालन -पोषण करने लगे। प्यार से उसे सोमदन्त कहकर पुकारने लगे। एक दिन जब साधू कुटिया से बाहर गए थे ,संदंत ने अकेले में जी भर के खाया। उसे यह भी नहीं मालूम था कि उसे कितना खाना चाहिए। उसे वहाँ कोई रोकने वाला भी तो कोई नहीं था। वह खाता चला गया ,नतीज़न उसका पेट फट गया। उसकी मृत्यु हो गयी। शाम को जब सन्यासी वापस लौटा तो उन्होंने सोमदत्त को मृत पाया। उसके दुःख की सीमा नहीं रही वह जोर -जोर से रोने -बिलखने लगा। सक्क यानी इंद्र ने उस सन्यासी को कहा -.’हे सन्यासी ,’तुम एक धनी गृहस्थ थे। संसार से मोह -माया त्याग कर सन्यासी बने हो। फिर इस तरह का मोह रखना उचित है ?’सन्यासी को अपनी मूर्खता और मोह का ज्ञान हो गया। संदंत के लिए उसने विलाप करना बंद कर दिया।–और चलते चलते -‘बड़ा मुश्किल काम दे दिया ,वक्त ने मुझको ,कहता है ,तुम तो सबके हो जाते हो ,अब ढूँढो उनको ,जो तुम्हारे हैं। —जब दिमाग कमजोर होता है ,,परिस्थितियाँ समस्या बन जाती हैं। ,जब दिमाग स्थिर होता है ,परिस्थितियाँ चुनौती बन जाती हैं , किन्तु जब दिमाग मज़बूत होता है ,परिस्थितियाँ अवसर बन जाती हैं। — सबसे कीमती तोहफा वक्त है ,क्योंकि जब आप किसी को अपना वक्त देते हैं तो आप उसे अपने जिंदगी का वो पल देते हैं जो लौटकर फिर दोबारा नहीं आएगा। ‘पत्नी ने कहा ,-चालान कट गया है ,लाइसेंस नहीं होने की वजह से। पति ,-‘लेकिन तुम्हारे पास तो लाइसेंस है ‘पत्नी ,-‘फोटो अच्छी नहीं है उसमे ,इसलिए दिखाया ही नहीं।’ पति बेहोश हो गए।

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-two new short mythological stories in hindi language,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

loading...
You might also like