ga('send', 'pageview');
Articles Hub

जीवन का मूल्य-Value of life and knowledge of saint two new inspirational stories in hindi language

जीवन का मूल्य
Value of life and knowledge of saint two new inspirational stories in hindi language,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
एक आदमी ने महात्मा बुद्ध से पूछा -‘जीवन का मूल्य क्या है ? महात्मा ने उस आदमी को एक पत्थर का टुकड़ा दिया और कहा -जा इस पत्थर की कीमत पता कर आ पर ध्यान रहे ,इसे बेचना नहीं है। वह पत्थर लेकर बाज़ार गया और एक संतरे वाले से पूछा -‘इसकी कीमत यक्ति क्या है ? संतरे वाले ने कहा -मुझसे तू बारह संतरे ले जा और यह पत्थर दे दे। एक आलू बेचने वाले ने एक बोरी आलू देने की बात कही। फिर वह सोना बेचने वाले के पास गया उसने उस चमकीले पत्थर को परखा और पचास लाख देने की बात कही। उसने मना कर दिया। वह एक जौहरी के पास गया और उसे पत्थर दिखाया जौहरी ने कहा -कहाँ से लाया है यह बेशकीमती रूबी ? यह तो बेशकीमती है ,नायाब रत्न है वह आदमी हैरान होकर बुद्ध के पास पहुंचा और सारी बात बताई। इस पत्थर की कीमत एक बोरी आलू और सन्तरे वाले ने १२ संतरे लगाई वहीँ जौहरी ने बेशकीमती बताया , ऐसा ही मानवीय मूल्यों का है। तू बेशक हीरा है। सामने वाला अपनी औकात ,अपनी हैसियत से तेरी कीमत आँकेगा घबराओ मत ,तुम्हे पहचानने वाले भी मिल ही जाएंगे।
और भी प्रेरक कहना पढ़ना ना भूलें==>
बाज़ का गीत-A song of eagle story by maxim gorky now in hindi language
सूरत और सीरत-two new short motivational stories one about colour and face other about birbal
धोखा-Cheating a heart breaking love story of a sweet couple
Value of life and knowledge of saint two new inspirational stories in hindi language,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

साधु की सीख -किसी समय की बात है एक गाँव में एक साधु रहा करता था। उसे लोग बारिश वाले बाबा के नाम से जानते थे। जब भी वह नाचता तो बारिश होती। बारिश नहीं होने पर गाँव वाले साधु की सहायता लिया करते थे। एक बार शहर से चार लड़के गाँव आये ,उन्हें पता चला कि इस गाँव में एक ‘बारिश वाले बाबा ‘ रहते हैं। वे उस साधू बाबा का मज़ाक उड़ाने लगे। उनलोगों ने गाँव वालों को कहा कि जब एक साधू के नाचने से बारिश हो सकती है तब हमारे नाचने से भी होगी। तय यह हुआ कि वे लोग अगले दिन साधु की मौजूदगी में नाचेंगे और देखेंगे कि बारिश होती है कि नहीं। सभी अगले दिन इकट्ठे हुए और लड़कों ने नाचना शुरू किया। लेकिन बारिश नहीं हुई लड़को की हिम्मत जवाब दे गई और वे थक -हारकर बैठ गए। अब साधु की बारी थी। वह नाचने लगा। घंटो गुजरते रहे फिर भी बारिश नहीं हुई। साधु फिर भी नाचता रहा। इस तरह पूरा दिन निकल गया। साधु रुका नहीं शाम होते ही आकाश में बादल घुमड़ने लगे जमकर बारिश होने लगी। शहर से आये लड़के हैरान और अचंभित थे। वे साधु के समक्ष नतमस्तक होकर बोले -‘ बाबा ,आपके नाचने से कैसे बारिश हो गई जबकि हमलोग भी तो नाचे थे। साधू ने उत्तर दिया -‘बच्चों ,मैं तो यह सोचकर नाचना शुरू करता हूँ कि मैं नाचूंगा तो बारिश होगी तो होगी ही और मैं तबतक नहीं रुकता जबतक बारिश नहीं हो जाती। साधु की यह सीख को अपनाना होगा कि पहले हमें खुद पर विश्वास हासिल करना होगा कि हम अवश्य कामयाब होंगे फिर हम प्रयास जारी रखेंगे यही सफलता का मूल मन्त्र है।

मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-Value of life and knowledge of saint two new inspirational stories in hindi language,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like