ga('send', 'pageview');
Articles Hub

मनुष्य की इच्छाशक्ति-willpower of a man a new short inspirational Story in hindi language

willpower of a man a new short inspirational Story in hindi language,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language
एक बार की बात है एक व्यक्ति को शराब पीने की आदत लग जाती है उसे उसके दोस्त, परिवार वाले सभी यह आदत छोड़ने को कहते हैं, लेकिन वह किसी की नहीं सुनता और कहता है कि यह आदत को मैंने नहीं पकड़ा है इस आदत ने मुझे पकड़ रखा है।
घरवाले सोचते हैं कि इसकी शादी करा दी जाए तो शायद इसकी शराब पीने की आदत छूट जाएगी, उसकी शादी करा दी गई कुछ दिनों तक सही चलता रहा लेकिन बाद में उसने फिर से शराब पीना शुरू कर दिया उसकी पत्नी भी परेशान रहने लगी उसने कई कोशिशें की कि वह शराब छोड़ दे लेकिन उसकी यह आदत नहीं छूट रही थी।
तब उसकी पत्नी परेशान होकर एक महात्मा के पास पहुंची और उन्हें सारी बातें बता दी महात्मा ने उससे कहा कि कल तुम अपने पति को लेकर मेरे आश्रम आ जाना। अगले दिन पत्नी अपने पति को लेकर आश्रम गई तो महात्मा ने एक पेड़ को पकड़ रखा था वे दोनों पूछते हैं कि आपने इस पेड़ को क्यों पकड़ रखा है तब महात्मा उनसे अगले दिन आने को कहते हैं। जब वे अगले दिन जाते हैं तो भी महात्मा ने पेड़ को पकड़ रखा था पति महात्मा से पूछता है कि आपने पेड़ को क्यों पकड़ रखा है महात्मा अगले दिन आने को कह देते हैं और इसी तरह कुछ दिनों तक ऐसे ही चलता रहा, एक दिन तंग आकर पति ने महात्मा से कहा कि आप हमें रोज बुला रहे हैं और आपने इस पेड़ को पकड़ रखा है, तब महात्मा जी कहते हैं कि मैंने इस पेड़ को नहीं पकड़ रखा है पेड़ ने मुझे पकड़ रखा है यह सुनकर पति कहता है ऐसा कैसे हो सकता है आपने इस पेड़ को पकड़ रखा है।
और भी प्रेरक कहना पढ़ना ना भूलें==>
कर्तव्य का पालन-Follow the Duty a new short inspirational Story in hindi
अभ्यास की आवश्यकता-Need of practice a new short inspirational story with a moral
मेहनत का फल-result of hardworking a new short inspirational story in hindi language
willpower of a man a new short inspirational Story in hindi language,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

महात्मा पेड़ को छोड़ देता है और पति से कहता है कि यही बात मैं तुम्हें समझाने की कोशिश कर रहा था कि शराब की आदत ने तुम्हें नहीं पकड़ रखा है तुमने उस आदत को पकड़ रखा है किसी भी आदत को पकड़ना या छोड़ना स्वयं के हाथ में होता है।
पति को अपनी गलती का एहसास होता है और वह समझ जाता है कि इंसान अपनी इच्छाशक्ति के बल पर किसी भी आदत को छोड़ सकता है। अंत में वह शराब पीने की आदत छोड़ देता है और खुशहाल जीवन जीने लगता हैं।
इससे यह सीख मिलती है कि व्यक्ति इच्छाशक्ति के बल पर कुछ भी कर सकता है।
मैं आशा करता हूँ की आपको ये story आपको अच्छी लगी होगी। कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ फेसबुक और व्हाट्स ऍप पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। धन्यवाद्। ऐसी ही और कहानियों के लिए देसिकहानियाँ वेबसाइट पर घंटी का चिन्ह दबा कर सब्सक्राइब करें।

Tags-willpower of a man a new short inspirational Story in hindi language,inspirational story in hindi,inspirational story in hindi for students, motivational stories in hindi for employees, best inspirational story in hindi, motivational stories in hindi language

80%
Awesome
  • Design
loading...
You might also like